गांधी की 150 वीं जयंती पर मुंबई में खादी फेस्ट

नवीन कुमार, मुंबई. राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती के अवसर पर खादी और ग्रामोद्योग आयोग की ओर से मुंबई स्थित मुख्यालय परिसर में दो अक्तूबर से 1 नवंबर तक खादी फेस्ट-2019 का आयोजन किया गया है. इस मौके पर आयोग अपने प्रत्यक्ष बिक्री आउटलेट के माध्यम से 40  दिनों की अवधि के लिए खादी कुर्ता, गांधी टोपी और धोती पर 40 प्रतिशत और अन्य उत्पादों पर 20 प्रतिशत छूट प्रदान करेगा.

खादी फेस्ट का उदघाटन करते हुए आयोग की मुख्य कार्यकारी अधिकारी प्रीता वर्मा ने बताया कि खादी अब टाइटन की घड़ियों पर भी चमकेगी. अगले महीने खादी की विशेष घड़ी लांच होने जा रही है जिसके डायल और बेल्ट खादी के होंगे. उन्होंने कहा कि देश भर में खादी फेस्ट का आयोजन किया गया है और इस फेस्ट के जरिए खादी और खादी उत्पादों की बिक्री का लक्ष्य 3800 करोड़ रूपए का रखा गया है. उन्होंने विश्वास जताया कि जिस तरह से खादी देश और विदेशों में भी लोकप्रिय हो रही है उससे खादी और उसके उत्पादों की मांग भी तेजी बढ़ रही है. आज के युवाओं में खादी का क्रेज है.

टाइटन घड़ियों खादी

गांधी की 150 वीं जयंती के अवसर पर मुंबई में साबरमती आश्रम की प्रतिकृति बनाई गई है जो खादी फेस्ट में विशेष आकर्षण का केंद्र भी है. इस तरह की प्रतिकृति मुंबई के अलावा साबरमती, वर्धा, दिल्ली, चंपारण और पोरबंदर में भी बनाई गई है. दिल्ली में कुल्हड़ से गांधी की प्रतिमा बनाई गई है जो काफी लोकप्रिय हो रहा है. 1917 से 1930 तक साबरमती आश्रम में रहते हुए गांधी ने 12 मार्च 1930  को इसी आश्रम से दांडी मार्च की शुरुआत की थी.

आयोग के मुख्यालय में गांधी पर एक लघु नाटिका के मंचन के साथ संगीत का भी आयोजन किया गया. मुंबई में खादी फेस्ट एक मेगा इवेंट के तौर पर एक महीने तक चलेगा जिसमें गांधी और खादी पर आधारित थीम पर प्रदर्शनी लगाई गई है. कुल पचास स्टॉल हैं जहां खादी और उसके उत्पादों की बिक्री की जा रही है. प्रीमियर खादी संस्थाएं और पीएमईजीपी इकाइयां भी इस प्रदर्शनी में भाग ले रही हैं.    

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।