29 सितंबर से नवरात्र का त्योहार शुरू हो गया है. नवरात्रि के दौरान मां दुर्गा के सभी नौ रूपों की पूजा की जाती है. माता की पूजा में हर दिन अलग-अलग रंगों का महत्व है.

इस दौरान इन नौ रंगों के कपड़े पहनकर जीवन में सुख और समृद्धि पाई जा सकती है. हर दिन पूजा करने के लिए मां के स्वरूप के अनुसार कपड़ों के रंग का चयन करना बेहद शुभ माना जाता है. भक्त मां के दिन के अनुसार यदि उन रंगों का भोग और उन्ही रंगों के फूल चढ़ाने के साथ स्वयं भी उनके प्रिय रंग के वस्त्र पहने तो मां प्रसन्न होती हैं. हर रंग मां के स्वरूप को व्यक्त करता है.

नवरात्रि के पहले दिन मां शैलपुत्री की उपासना होती है. इस दिन 'पीले' कपड़े पहनकर देवी की पूजा करती चाहिए.

नौ दुर्गा के दूसरे दिन ब्रह्मचारिणी की पूजा की जाती है. इस दिन 'हरे' रंग के कपड़े पहनने का खास महत्त्व है.

तीसरे दिन मां चंद्रघंटा की आराधना करते हुए 'ग्रे' रंग के वस्त्र धारण करना शुभ माना गया है.

नवरात्रि का चौथा दिन मां कूष्मांडा को समर्पित है. इस दिन आपको 'नारंगी' रंग पहनना चाहिए.

पांचवे दिन मां स्कंदमाता की पूजा होती है. उन्हें 'सफेद' रंग समर्पित माना गया है इसलिए इस दिन सफेद कपड़े धारण करें.

छठे दिन 'लाल' रंग के कपड़े धारण करके मां कात्यायनी की उपासना करें.

सातवें दिन 'नीले' कपड़े धारण करने चाहिए. इस दिन मां कालिरात्रि की पूजा होती है. 

आठवें दिन महागौरी को प्रसन्न करने के लिए 'गुलाबी' रंग के कपड़े पहनें.

नवरात्रि के आखरी यानी नौंवे दिन महिषासुर मर्दनी सिद्धिदात्रि की पूजा होती है. इस दिन 'बैगनी' रंग के कपड़े पहनने चाहिए.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।