नई दिल्ली. केंद्र सरकार की ओर से पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह के हत्या के दोषी बब्बर खालसा के आतंकी बलवंत सिंह राजोआना को बड़ी राहत मिल गई है. सूत्रों के मुताबिक, केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से राजोआना की मौत की सजा को उम्रकैद में बदलने का फैसला किया गया  है. बता दें कि केंद्र सरकार ने श्री गुरु नानक देव की 550वीं जयंती पर पंजाब के कुछ सिख कैदियों को राहत देने का फैसला किया है, जिसमें बलवंत सिंह राजोआना भी शामिल है. 

केंद्र सरकार ने यह फैसला हरियाणा विधानसभा चुनावों से ठीक पहले लिया है, जहां सिखों की करीब आठ फीसदी रहती है. इस बार यहां पर भाजपा और अकाली दल अलग-अलग चुनाव लड़ रहे हैं.  उधर, लुधियाना से कांग्रेस सांसद रवनीत सिंह बिट्टू ने राजाेआना की मौत की सजा को उम्रकैद में बदलने के कदम का आज विरोध किया.

बिट्टू ने यहां संवाददाताओं से कहा कि यदि केंद्र सरकार राजाेआना की मौत की सजा को उम्रकैद में तब्दील करती है तो राष्ट्रवाद को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोच झूठी साबित हो जायेगी. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने संयुक्त राष्ट्र के मंच पर आतंकवाद के प्रति रोष व्यक्त किया था.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।