यादें (29 सितंबर). मध्यप्रदेश में 29 सितंबर 1928 को जन्मे ब्रजेश मिश्र वर्ष 1998 से 2004 तक भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रहे थे. ब्रजेश मिश्र के पिता द्वारका प्रसाद मिश्र मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री थे. पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के प्रधान सचिव रह चुके वरिष्ठ राजनयिक ब्रजेश मिश्र इंडोनेशिया में भारत के राजदूत के अलावा संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थाई प्रतिनिधि भी रह चुके थे. पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल में ब्रजेश मिश्र की पहचान शक्तिशाली व्यक्तित्व के रूप में थी. कई बार सरकार को परेशानियों से बचाने में भी उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. ब्रजेश मिश्र विदेश मामलों के अच्छे जानकार थे.

पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी के कार्यकाल में विदेश नीति के मामलों उनकी प्रमुख भूमिका रहती थी. पोखरन-2, प्रधानमंत्री वाजपेयी की पाकिस्तान की बस यात्रा आदि में उनकी खास भूमिका रही. उन्हें वर्ष 2011 में पद्मश्री सम्मान प्रदान किया गया था.

फ्लैश बैक-

29 सितंबर, 2000- चीन की मुन्चोनाक कोयला खान में 100 लोगों की मौत.

29 सितंबर, 2001- संयुक्त राष्ट्र ने आतंकवाद विरोधी अमेरिकी प्रस्ताव पारित किया.

29 सितंबर, 2002- बुसान में 14वें एशियाई खेलों का उद्घाटन. 29 सितंबर, 2003- ईरान ने यूरेनियम परिशोधन कार्यक्रम जारी रखने का निर्णय लिया.

29 सितंबर, 2006- विश्व की पहली महिला अंतरिक्ष पर्यटक ईरानी मूल की अमेरिका नागरिक अनुशेह अंसारी पृथ्वी पर सकुशल लौटीं.

29 सितंबर, 2009- अंतर्राष्ट्रीय मुक्केबाजी फेडरेशन की रैकिंग में विजेन्दर को 75 किग्रा में 2700 अंकों के साथ में पहला स्थान दिया गया.

जन्म दिन-

29 सितंबर, 1932- महमूद, प्रसिद्ध हास्य अभिनेता.

29 सितंबर, 1928- बृजेश मिश्र, भारत के पहले राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार. पुण्य तिथि- 29 सितंबर,

1942- मातंगिनी हजारा, प्रसिद्ध महिला क्रांतिकारी.

प्रमुख दिवस-

29 सितंबर, कद्दू दिवस. 29 सितंबर, विश्व हृदय दिवस.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।