नवरात्र 29 सितंबर से शुरू हो रहे हैं जोकि 7 अक्टूबर सोमवार तक चलेंगे. इस दौरान कुछ भक्त 9 दिन का उपवास भी रखेंगे. व्रत में भक्त केवल फलाहार का सेवन करेंगे. कई बार लोग फलाहार में आलू, कुट्टू के आटे की पूरियां, कुट्टू का हलवा खाकर बोर हो जाते हैं. तो क्यों न इस नवरात्र आप कुट्टू के आटे के हलवे की जगह लौकी का हलवा बनाएं. 

स‌ामग्री:

लौकी- 1 किग्रा.

चीनी- 1.5 कपमावा- 1 कप

बादाम- 15 बारीक कतरे हुए

काजू- 15 बारीक कतरे हुएइलायची- 6-7 कुटी हुई

फुल क्रीम दूध- 1 कप

घी- 1/4 कप

काजू- 15

रेसिपी:

1.लौकी का हलवा बनाने के लिए सबसे पहले लौकी को अच्छे से धोकर छील लें. इसके बाद लौकी के बीज निकालकर इसे कद्दूकस कर लें . इसके बाद काजू, बादाम को भी छोटा छोटा कतर लें और इलायची को कूटकर रख लें.

2.आंच पर कूकर चढ़ाकर इसमें लौकी और दूध बालकर चलाते हुए मिलाएं. अब ढक्कन लगाकार इसे मद्धम आंच पर ही 3-4 मिनट तक पकने दें.

3.ढक्कन खोलकर देखें लौकी पककर नर्म हो गयी है या नहीं. अगर इसमें दूध बाकी है तो आंच तेज करके लौकी को 2-3 मिनट तक तब तक चलाते हुए पकाएं जब तक दूध पूरी तरह सूख ना जाए. इसके बाद इसमें ऊपर से चीनी डालकर चलाते हुए पकाएं. ध्यान रहे कि हलवा कूकर की तलहटी में लगे नहीं.

4.अब दूसरे बर्नर पर एक पैन में खोया (मावा) डालकर अच्छे से भूनें. आंच को मद्धम रखें और खोये को हल्का गुलाबी होने तक भूनें. जब खोये से घी जैसा चिकनापन निकलने लगे तो समझ जाएं कि ये अच्छे से भुन चुका है. इसे एक साफ बर्तन में निकालकर रख लीजिए.

5.अब लौकी में घी मिलाकर इसे लगातार 3 से 4 मिनट तक चलाते हुए अच्छे से भून लीजिए. इसके बाद इसमें कतरे हुए ड्राई फ्रूट्स और इलायची पाउडर डालकर अच्छे से चला लें ताकि हलवा अच्छे से पक जाए. इसे 4 स३ 5 मिनट तक धीमी आंच पर पकने दें.

6.लीजिये तैयार है आपका गर्मागर्म स्वादिष्ट लौकी का हलवा. इसे ऊपर से ड्राई फ्रूट्स से गार्निश कर सर्व करें.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।