नई दिल्ली. भारतीय टेस्ट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज माधव आप्टे का 86 साल की उम्र में निधन हो गया. पांच अक्टूबर को वह 87 साल के होने वाले थे. उन्होंने मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में रविवार की सुबह अंतिम सांस ली. माधव ने 1952-53 के बीच भारत के लिए सात टेस्ट मैच खेले और 542 रन बनाए जिसमें एक शतक और तीन अर्धशतक भी शामिल हैं, इस दौरान उनका औसत 49.27 था.

माधव ने 67 प्रथम श्रेणी क्रिकेट मैच भी खेले जिनमें उनके नाम छह शतकों और 16 अर्धशतकों की मदद से 3,336 रन दर्ज हैं. मुंबई में जन्मे आप्टे ने विनू मांकड की कोचिंग में लेग स्पिनर के तौर पर अपने करियर की शुरुआत की थी. द ओवल में उनके प्रदर्शन ने डॉन ब्रेडमैन को आखिरी पारी में 100 का औसत हासिल करने से रोक दिया था. 1989 में वह क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया के अध्यक्ष चुने गए थे. साथ ही वह लिजेंड्स क्लब के मुखिया भी रहे.

पूर्व भारतीय बल्लेबाज के निधन से क्रिकेट जगत में शोक की लहर है. मास्टर-ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने माधव आप्टे को याद करते हुए उनके साथ की एक तस्वीर को साधा किया. सचिन ने आप्टे संग ली गई फोटो के साथ कैप्शन में लिखा, माधव आप्टे सर की दिलकश यादें. जब मैं 14 साल का था तब मुझे शिवाजी पार्क में उनके खिलाफ खेलने का मौका मिला था. फिर भी उस समय को याद करें जब उन्होंने और डूंगरपुर सर ने मुझे एक 15 वर्षीय खिलाड़ी के रूप में सीसीआई के लिए खेलने का मौका दिया था. उन्होंने हमेशा मेरा समर्थन किया और एक शुभचिंतक रहे. ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दें.

सचिन तेंदुलकर के अलावा वसीम जाफर, विनोद कांबली, मोहम्मद कैफ, राजीव शुक्ला, विनोद तावड़े, प्रफुल्ल पटेल के साथ-साथ मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और दूरदर्शन कई संस्थानों ने भी उनके निधन पर दुख जताया और उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।