वाशिंगटन. फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने अपनी कंपनी को तोड़ने के लिए अमेरिकी सांसद के एक प्रस्ताव को खारिज कर दिया है. उन्होंने कहा है कि वह किसी भी कीमत पर व्हाट्सएप या इंस्टाग्राम को नहीं बेचने वाले हैं. सीनेटर जोश हावले (मिसौरी रिपब्लिकन) ने ट्वीट किया था कि वह वाशिंगटन दौरे के दौरान गुरुवार को जुकरबर्ग से मिले थे और उन्होंने उनसे व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम को बेचने की बात कही. फेसबुक के सबके बड़े आलोचकों में से एक हावले ने ट्वीट किया, "अभी-अभी फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग के साथ बैठक खत्म हुई है.

हमने खुलकर बातचीत की. मैंने उन्हें दो चीजें करने की चुनौती दी जिससे यह साबित हो सके की फेसबुक पुर्वाग्रह के प्रति गंभीर है. पहला यह था कि वे व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम बेच दें, दूसरा था कि वे तीसरे पक्ष द्वारा सेंसरशिप पर किए गए सर्वेक्षण की रिपोर्ट जमा कराए. उन्होंने दोनों को ही ना कह दिया. जुकरबर्ग ने ओवल ऑफिस में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से भी मुलाकात की थी. मुलाकात के बाद ट्रंप ने ट्वीट किया, "आज ओवल ऑफिस में मार्क जुकरबर्ग के साथ बैठक बढ़िया रहा.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, इस बार जुकरबर्ग ने कई सांसदों के साथ मुलाकात की और फेसबुक पर लगे आरोप कि वह रूढ़िवादी भाषणों पर अंकुश लगाता है, पर विचार-विमर्श भी किया. हालांकि सोशल मीडिया पर फेसबुक को तोड़ने को लेकर उठ रही आवाज पर सोशल नेटवर्किं ग प्लेटफॉर्म के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर शेरिल सेंडबर्ग ने हाल ही में कहा था कि इससे किसी भी उद्देश्य की पूर्ति नहीं होगी, न ही किसी को इससे फायदा होगा. प्लेटफॉर्म पर डेटा चोरी और प्राइवेसी कमियों के कारण कई अमेरिकी सांसदों ने सोशल नेटवर्क साइट को तोड़ने की बात पर जोर दिया था. हालांकि जुकरबर्ग ने सभी प्रस्तावों को मानने से इनकार कर दिया. 

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।