यादें (17 सितम्बर). पतंग कितनी ऊपर उड़ती है और कितनी मजबूती से बनी रहती है उसी से उसकी पहचान है, इससे नहीं कि वह छत से उड़ाई जा रही है या मैदान से! कल्पना की खूबसूरत पतंग को विश्वास की मजबूत डोर से बांध कर नरेंद्र मोदी ने ऐसा उड़ाया कि देश-विदेश में अपनी अलग पहचान कायम करने में कामयाब रहे जबकि उनका जन्म 17 सितंबर, 1950 को गुजरात के बहुत छोटे से कस्बे- वडऩगर में हुआ. मोदी का आज चमक रहा है लेकिन उनका बीता कल ऊंची उड़ान के सपने देखनेवालों के लिए उत्साह भरने वाला है! वे दामोदर दास मूलचंद मोदी और उनकी पत्नी हीराबेन के छह बच्चों में से तीसरे हैं.

बालपन से ही वे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े रहे और किशोरावस्था से ही राजनीति में दिलचस्पी लेने लगे. वे पूरी तरह से शाकाहारी हैं. अपनी युवा अवस्था में वे अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से जुड़े रहे हैं. राष्ट्र के प्रति उनकी भावना का अंदाज इसी से लगाया जा सकता है कि सत्तर के दशक में भारत-पाक युद्ध के दौरान किशोर नरेंद्र मोदी रेलवे स्टेशनों से गुजरने वाले सैनिकों की मदद करने के लिए एक स्वयंसेवक के रूप में तैनात रहे. उन्होंने अपने भाई के साथ एक टी स्टाल भी चलाया है.

उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा वडनगर में ही रहकर पूरी की और बाद में उन्होंने गुजरात विश्वविद्यालय से राजनीति शास्त्र में मास्टर डिग्री ली. मोदी को अपने बाल्यकाल से ही विपरीत परिस्थितियों का सामना करना पड़ा है किन्तु अपने विश्वास, चरित्रबल और साहस से उन्होंने तमाम अवरोधों को अवसरों में बदल दिया. उनका जीवन उन युवाओं के लिए विशेषरूप से प्रेरणास्पद् है जो ग्रामीण भारत के अभावग्रस्त क्षेत्रों में जन्म लेकर भी कामयाबी का परचम लहराने का हौंसला रखते हैं!

अभी तो मुझे आश्चर्य होता है कि कहाँ से फूटता है यह शब्दों का झरना कभी अन्याय के सामने मेरी आवाज़ की आँख ऊँची होती है तो कभी शब्दों की शांत नदी शांति से बहती है... इतने सारे शब्दों के बीच मैं बचाता हूँ अपना एकांत तथा मौन के गर्भ में प्रवेश कर लेता हूँ आनंद किसी सनातन मौसम का!

फ्लैश बैक-

17 सितंबर, 1995- चीन की राजधानी बीजिंग में ब्रिटिश शासन के अन्तर्गत अंतिम चुनाव सम्पन्न.

17 सितंबर,1999- ओसामा बिन लादेन का भारत के विरुद्ध जेहाद का ऐलान. 17 सितंबर, 2000- जाफना प्राय:द्वीप का चवाक छेड़ी शहर लिट्टे से मुक्त.

17 सितंबर, 2001- अमेरिका ने स्पष्ट किया कि कश्मीर पर पाक के साथ कोई सौदेबाजी नहीं.

17 सितंबर, 2002- इराक ने संयुक्त राष्ट्र हथियार निरीक्षकों को बिना शर्त देश में आने की अनुमति दी.

17 सितंबर, 2004- यूरोपीय संसद ने मालदीव पर प्रतिबंध लगाने का प्रस्ताव पारित किया.

17 सितंबर, 2006- भारतीय वायु सेना की स्पेशल फोर्स यूनिट गरुड़ कमांडो कांगो के शांति मिशन पर रवाना.

17 सितंबर, 2006- कांधार विमान अपहरण में अलकायदा के हाथ होने की पुष्टि.

17 सितंबर, 2008- जहाजरानी राज्यमंत्री के. एच. मुनियप्पा ने विश्वकर्मा राष्ट्रीय पुरस्कार एवं राष्ट्रीय संरक्षा पुरस्कार 2006 प्रदान किए.

17 सितंबर, 2009- केन्द्रीय सतर्कता आयोग ने 123 भ्रष्ट सरकारी अधिकारियों के नाम अपने वेबसाइट पर जारी किए.

जन्म दिन-

17 सितंबर, 1915- मकबूल फिदा हुसैन, प्रसिद्ध भारतीय चित्रकार.

17 सितंबर, 1930- लालगुड़ी जयरमण, प्रसिद्ध वायलिन वादक. 17 सितंबर, 1879- पेरियार ई. वी. रामासामी, समाज सुधारक.

17 सितंबर, 1945- भक्ति कारुस्वामी, आध्यात्मिक नेता. 17 सितंबर, 1950- नरेंद्र मोदी, भारत के प्रधानमंत्री.

प्रमुख दिवस-

17 सितंबर, राष्ट्रीय हिन्दी दिवस (सप्ताह)

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।