आजकल का सारा काम कम्प्यूटर के माध्यम से हो गया है जिसकी वजह से दिनभर दफ्तर में बैठकर काम करना पड़ता है. जिसका नतीजा होता है कि बहुत से लोगों को कमर और गर्दन में तकलीफ होने लगती है. कभी-कभी यह दर्द इतना बढ़ जाता है कि इसके इलाज की जरूरत पड़ जाती है. लेकिन अगर नियमित रूप से योग का अभ्यास किया जाए तो इस तरह की परेशानी से आराम मिल जाएगा. कमर और गर्दन में हो रहें दर्द से निजात पाने के लिए शलभासन की क्रिया बहुत असरदार है. तो आइए जानते हैं शलभासन को करने की प्रक्रिया क्या होगी.

शलभासन को करने के लिये जमीन पर चटाई बिछाकर उस पर पेट के बल लेट जाएं. फिर दोनों पैरों को सीधा रखें और हाथों को कमर के पास व सीधा रखें. हथेली ऊपर की ओर रखें. अब गहरी सांस लेते हुए अपने दांये पैर को ऊपर दीवार की ओर उठाएं. इस दौरान घुटनों को मोड़े नहीं और सांस लेते रहें. अब दांये पैर को नीचे रखें. इसी प्रक्रिया को अपने बांये पैर के साथ दोहराएं.

इस प्रकिया को करते समय हाथों को स्थिर रखें. अब सांस लेते हुए अपने दोनों पैरों को ऊपर की ओर उठाएं. घुटनों को मोड़े नहीं. हाथों को कमर के बराबर में सीधा रखें और सांस लेते रहें. अब सिर को ऊपर की उठाएं. पैरों को नीचे ले आएं और आराम की अवस्था में आ जाएं. इस आसन का अभ्यास दो से चार मिनट के लिये करें.

शलभासन को नियमित रूप से करने से शरीर का लचीलापन बढ़ता है. जिससे आपको हर स्थिति में काम करने की क्षमता बढ़ती है. इसके साथ ही कमर की मांसपेशियों को मजबूती मिलती है और कमर के दर्द से आराम मिलता है. योग की यह क्रिया गर्दन, कंधा और हाथों की नसों को आराम दिलाता है.

शलभासन करने से पाचन क्रिया भी दुरुस्त होती है और पेट के आसपास जमा फैट कम होने लगता है. इसके साथ ही यह शरीर के पोस्चर को भी सही करता है. 

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।