आम भारत का सर्वाधिक लोकप्रिय फल है. इसे फलों का राजा कहा जाता है. पूरे भारत में इसकी खेती करीब 11 लाख हैक्टेयर क्षेत्र में की जाती है जिससे लगभग 95 लाख मैट्रिक टन फल प्रति वर्ष प्राप्त होता है. बिहार प्रदेश में आम के बगीचे के अंतर्गत करीब 1 लाख 45 हजार हैक्टेयर क्षेत्र है जिससे प्रति वर्ष अनुमानत: 14.5 लाख टन फल प्राप्त होता है. व्यवसायिक तौर पर इसकी खेती बड़ी लाभकारी है. अधिक फलन एवं आय के लिए निम्नलिखित वैज्ञानिक प्रबंधन जरूरी है.

किस्मों का चुनाव

आज भारत में कई किस्में उगायी जाती है. हर किस्म की अपनी अलग विशिष्टता होती है. आम की आदर्श किस्म वह है जिसके फल मध्यम आकार के (1 किलो में 4) हों तथा जिसके गुद्दा की गुणवत्ता सभी को भाये. फलों की गुठली पतली एवं छोटी हो. गूदा रेशारहित, सुवासित मीठा-खट्टा स्वाद के सुरुचिपूर्ण मेल से बना हो. किस्म के वृक्षों में हर साल फलने को प्रवृति हो तथा कीड़े, बीमारियों एवं अन्य व्याधियों के प्रति सहिष्णु है ऐसी आदर्श किस्म की पहचान एवं चयन आवश्यक है. वर्त्तमान में एक भी ऐसी किस्म नहीं हैं जो सभी गुणों से सम्पन्न हो. अत: उपलब्ध किस्मों से ही अपनी पसंद के अनुरूप अधिक उपज देने वाली किस्मों का चुनाव करें. कुछ अच्छी गुणवत्ता वाली किस्मों का चुनाव करें. कुछ अच्छी गुणवत्ता वाली किस्मों के नाम निम्नलिखित है.

मालदह, (लंगड़ा), सिपिया, सुकुल, दशहरी, बम्बई, चौसा, जरदालु, आल्फान्सी, फजली, कृष्णभोग, हिमसागर, गुलाबख़ास आदि. ऊपर लिखी किस्मों के अतिरिक्त बिहार में कुछ ऐसी किस्में हैं जिनके फल बहुत ही उच्च कोटि के हैं तथा काफी लोकप्रिय है जैसे जरदा, मिठुआ, पहाड़फर सिन्दुरिया आदि. समस्तीपुर जिले के पूसा प्रखंड में बथुआ नामक प्रभेद काफी क्षेत्र में उगाया जाता है. इसकी विशेषता यह है कि इसके फल काफी देर से पकते है तथा सबसे अंत में बाजार में आने के कारण अधिक कीमत पर बिकते है. इस किस्म की भंडारण क्षमता भी अधिक है.

पिछले दो दशकों में आम की कई संकर किस्मों का प्रादुर्भाव हुआ है. संकर किस्मों की प्रमुख विशेषता यह है कि इनमें हर साल फलने की प्रवृति पायी जाती है. अत: हर वर्ष फलन प्राप्त करने के लिए आप इन किस्मों का चयन कर सकते है. ये किस्में है – आम्रपाली, मल्लिका, रत्ना, सिन्धु, महमूद बहार, प्रभाशंकर, सबरी, जवाहर, अरका अरुण, अरका अनमोल, मंजीरा, सुंदर लंगड़ा, अफ्जली आदि.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।