पलपल संवाददाता, जबलपुर. केरला एक्सप्रेस में भीषण गर्मी में चार यात्रियों की मौत के बाद रेलवे बैकफुट पर आ गया है। इस मामले में रेलवे की आलोचना होने के बाद रेलवे बोर्ड ने सभी रेल जोनों को आदेश जारी करते हुए कहा है कि ऐसी व्यवस्था की जाए, जिससे इस भीषण गर्मी में कोई भी ट्रेन बीच सेक्शन में न रुके, उनका मूवमेंट जारी रहे, यदि ट्रेन का रोकना जरूरी है तो उसे किसी ऐसे स्टेशन पर खड़ा किया जाएं, जहां पर यात्रियों के लिए पर्याप्त सुविधाएं उपलब्ध हो.

उल्लेखनीय है कि सोमवार की देर शाम नई दिल्ली से त्रिवेंद्रम जाने वाली केरला एक्सप्रेस में यात्रा कर रहे एस-8 कोच में कोन्नूर नीलगिरी तमिलनाडु निवासी पाचीयप्पा के बुंदर पालानी सामी (80) वर्ष निवासी कोन्नूर नीलगिरी तमिलनाडु, बालाकृष्णन रामास्वामी (69)तथा एस-9 में सवार कोयम्बटूर निवासी चिन्नारे की 71 वर्षीय पत्नी धीवा नाई को मृत घोषित कर दिया। उट्टी कैन्नूर निवासी 87 वर्षीय सुबरय्या की हालत गंभीर होने के कारण उन्हें झांसी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। जहां उन्होंने देर रात दम तोड़ दिया था.

तीर्थ यात्रा पर निकला था 68 यात्रियों का जत्था

दक्षिण भारत के 68 तीर्थयात्रियों का जत्था उत्तर भारत की यात्रा के बाद तमिलनाडु लौट रहा था। यह सभी यात्री दोपहर आगरा केंट से ट्रेन में सवार हो गए। यात्री ट्रेन के एस-8 व एस-9 कोच में यात्रा कर रहे थे। साथी यात्रियों ने बताया कि दस दिन पहले हम सभी 68 लोग तमिलनाडु से वाराणसी और आगरा घूमने आए थे। कल शाम केरला एक्सप्रेस (12626) से वापस लौट रहे थे। सभी एस-8 व एस-9 कोच में थे। केरला एक्सप्रेस सोमवार की शाम करीब 4 बजे ग्वालियर आई। इस दौरान ट्रेन के एस-8 और एस-9 कोच में यात्रियों को भीषण गर्मी के कारण घबराहट होने लगी। इससे पहले कि उनके साथी कुछ समझ पाते, ट्रेन झांसी के लिए रवाना हो गई। इस दौरान जब ट्रेन डबरा-झांसी के बीच गुजर रही थी, तभी ट्रेन में सवार 5 लोगों की तबियत काफी बिगड़ गई। इसकी सूचना उन्होंने ट्रेन में मौजूद टीटीई को दी, टीटीई ने डाक्टर को खबर दी. झांसी स्टेशन पर यात्रियों की जांच की गई, जिसमें से 3 की मौत हो गई, जबकि 1 की अस्पताल में मृत्यु हुई.

रेलवे की जबर्दस्त आलोचना

इस घटना में रेलवे की जबर्दस्त आलोचना हो रही है, इस भीषण गर्मी में कई बार इस ट्रेन को बीच सेक्शन पर रोका भी गया, जिससे 48 डिग्री तापमान के बीच तपती ट्रेन में यात्रियों की तबियत बिगड़ गई। इस घटना को रेलवे ने गंभीरता से लेते हुए सभी जोनों को आदेश दिया गया है कि दिन के समय ट्रेनों को बीच सेक्शन पर रोकने से परहेज किया जाए, यदि किसी कारण से ट्रेन रोकी जानी है या ब्लाक लिया गया है तो ऐसी व्यवस्था की जाए की ट्रेनों को सुविधायुक्त स्टेशनों पर रोककर रखा जाए.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।