पलपल संवाददाता, जबलपुर. जनसेवा की भावना को मन में लेकर राजनीति में आए दिनेश यादव, जिन्होने कांग्रेस के झंडे को लेकर जनहित के मुद्दों पर सदैव अपनी आवाज बुलंद की, नगर निगम में नेता प्रतिपक्ष रहते हुए दिनेश यादव ने शहर विकास के लिए सदैव आवाज उठाई, नगर अध्यक्ष रहते हुए विधानसभा चुनाव में कार्यकर्ताओं के साथ जी-तोड़ मेहनत की, जिसका नतीजा है कि जबलपुर में कांग्रेस की विधानसभा सीटों में इजाफा हुआ. अब उनका टारगेट है नगरीय निकाय चुनाव में कांग्रेस को जीत दिलाना है, इसके लिए थ्री मंथस का टारगेट लेकर चल रहे है. उक्ताशय की बात कांग्रेस नगर अध्यक्ष दिनेश यादव ने चर्चा के दौरान कही.

श्री यादव ने चर्चा करते हुए कहा स्मार्ट सिटी के नाम पर करोड़ों रुपए का बंदरबाट हुई है और कुछ नहीं, शहर के हालात आज भी जस के तस है, स्मार्ट सिटी सिर्फ विज्ञापन व प्रचार के लिए रह गई है, इसकी जमीनी हकीकत कुछ और ही है, यदि हम सीवर लाइन के हालात आमजनता से छिपे नहीं है, जिसका दंश शहरवासी भोगने के लिए मजबूर है, बिना योजना के सीवर लाइन का काम शुरु किया, जिसे बनाया और तोड़ा गया, यहां तक कि गरीबों के मकान के नाम पर करोड़ों रुपए लेकिन आज भी गरीबों को मकान नहीं मिले. इसी तरह स्वच्छता के नाम पर भी रुपयों की होली खेली गई है, आज भी शहर में गंदगी है, संक्रामक रोग फैले है, जिसकी चपेट में आने से कई लोग काल के गाल में समा गए. हालात आज ऐसे है कि नगर निगम जनता को स्वच्छ पानी नहीं दे पा रहा है.

ऐसे कई मुद्दे है जिन्हे लेकर हम जनता के सामने जाएगे, इसके लिए कांग्रेस का हर कार्यकर्ता संकल्पित है, जो भाजपा के शासन में हुई अनियमितताओं को जनता के सामने लेकर जाएगें, इसे हम एक टारगेट के रुप में लेकर चल रहे है. श्री यादव ने यह भी कहा एक बात जरुर कहना चाहेगे कि सड़कों व डिवाइडर को लेकर कुछ काम हुआ है. यदि लोकसभा व विधानसभा चुनाव की बात की जाए, तो कांग्रेस ने सदैव जनहित के लिए संघर्ष किया है, जनभावनाओं का ध्यान रखा जिसका नतीजा है कि चुनाव में हमें जिले से लेकर प्रदेश तक सफलता मिली है.

हम इसी तरह एकजुटता के साथ नगरीय निकाय के चुनाव में मैदान में उतरेगें, नगर निगम की सत्ता में बैठे जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों की मिलीभगत से जो बंदरबाट किया गया है, उसे उजागर कर जनता के सामने लाएगें, हम बताएगे कि किस तरह के जनमानस से वसूले गए रुपयों की होली खेली जा रही है, विभिन्न योजनाओं के नाम पर आए करोड़ों रुपए का कैसे बंदरबाट किया गया है, यह बात जनता के सामने लेकर जाएगें.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।