अक्सर आत्मविश्वास न होने के कारण कुछ लोग खुल कर नहीं मुस्कुराते. इसका कारण उनके दांतों का पीलापन होता है. सही ढंग से केयर न करने या प्लाक जमने के कारण दांत पीले हो जाते हैं. इसके अलावा, खाने की कुछ चीजों के लगातार उपयोग, बढ़ती उम्र या अधिक दवाइयों का सेवन भी दांतों के पीलेपन के कारण हो सकते हैं. 

हममें से अधिकतर लोग चेहरे की खूबसूरती पर बहुत ध्यान देते हैं, लेकिन समय रहते दांतों की खूबसूरती पर ध्यान नहीं देते. ऐसे में, जब दांत बहुत अधिक पीले या बदरंग हो जाते हैं तो ये अच्छा नहीं लगता. यदि आपके साथ भी यह समस्या है तो दांतों को सफेद बनाने के लिए अपनाएं ये दस तरीके… 

तुलसी

तुलसी में दांतों का पीलपन दूर करने की अद्भुत क्षमता पाई जाती है. साथ ही, तुलसी मुंह और दांत के रोगों से भी बचाती है. तुलसी के पत्तों को धूप में सुखा लें. इसके पाउडर को टूथपेस्ट में मिलाकर ब्रश करने से दांत चमकने लगते हैं. 

नमक

नमक दांतों को साफ करने का सदियों पुराना नुस्खा है. नमक में थोड़ा-सा चारकोल मिलाकर दांत साफ करने से पीलापन दूर हो जाता है और दांत चमकने लगते हैं. 

संतरे के छिलके

संतरे के छिलके और तुलसी के पत्तों को सुखाकर पाउडर बना लें. ब्रश करने के बाद इस पाउडर से दांतों पर हल्के से रोजाना मसाज करें. संतरे में मौजूद विटामिन सी और कैल्शियम के कारण दांत मोती जैसे चमकने लगते हैं. 

गाजर

रोजाना गाजर खाने से भी दांतों का पीलापन कम हो जाता है. दरअसल, भोजन करने के बाद गाजर खाने से इसमे मौजूद रेशे दांतों की अच्छे से सफाई कर देते हैं. 

नीम 

नीम का उपयोग प्राचीनकाल से ही दांत साफ करने के लिए किया जाता रहा है. नीम में दांतों को सफेद बनाने व बैक्टीरिया को खत्म करने के गुण पाए जाते हैं. यह नेचुरल एंटीबैक्टिीरियल और एंटीसेप्टिक है. रोजाना नीम के दातून से मुंह धोने पर दांतों के रोग नहीं होते हैं. 

बेकिंग सोडा

बेकिंग सोडा पीले दांतों को सफेद बनाने का सबसे अच्छा घरेलू तरीका है. ब्रश करने के बाद थोड़ा-सा बेकिंग सोडा लेकर दांतों को साफ करें. इससे दांतों पर जमी पीली पर्त धीरे-धीरे साफ हो जाती है. 

बेकिंग सोडा 

और थोड़ा नमक टूथपेस्ट में मिलाकर ब्रश करने से भी दांत साफ हो जाते हैं. नींबू- नींबू एक ऐसा फल है जो मुंह की लार में वृद्धि करता है. इसलिए यह दांतों और मसूड़ों की सेहत के लिए फायदेमंद होता है. 

एक नींबू का रस निकालकर उसमें उतनी ही मात्रा में पानी मिला लें. खाने के बाद इस पानी से कुल्ला करें. इस नुस्खे को अपनाने से दांत सफेद हो जाते हैं और सांसों की दुर्गंध भी दूर हो जाती है. 

स्ट्रॉबेरी

स्ट्रॉबेरी दांतों को चमकदार बनाने का सबसे टेस्टी उपाय है. स्ट्रॉबेरी में पाया जाने वाला मैलिक एसिड दांतों को सफेद और चमकदार बनाता है. स्ट्रॉबेरी को पीस लें. इसके पल्प में थोड़ा बेकिंग सोडा मिलाएं. ब्रश करने के बाद इस मिश्रण को उंगली से दांतों पर लगाएं, दांत चमकने लगेंगे. 

केला

केला पीस लें. इसके पेस्ट से दांतों को रोज 1 मिनट तक मसाज करें. उसके बाद दांतों को ब्रश करें. रोजाना ये उपाय करने से धीरे-धीरे दांतों का पीलापन खत्म हो जाएगा. 

विनेगर

एक चम्मच जैतून के तेल में एप्पल विनेगर मिला लें. इस मिश्रण में अपना टूथब्रश डुबाएं और दांतों पर हल्के-हल्के घुमाएं. ये प्रक्रिया तब तक दोहराएं, जब तक मिश्रण खत्म न हो जाएं. इस नुस्खे को अपनाने से दांतों का पीलापन मिट जाता है. साथ ही, सांसों की दुर्गंध की समस्या भी नहीं रहती है. 

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।