पलपल संवाददाता, भोपाल. मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल आज सुबह एक 8 साल की मासूम बच्ची से दुष्कर्म व हत्या से शर्मशार हो गई है. इस घटना में लापरवाही बरतने पर 6 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है. क्षेत्र में तनाव व्याप्त है, व्यापक पुलिस सुरक्षा की गई है.

अलीगढ़ और उज्जैन की दिल दहलाने वाली घटनाओं के बाद अब मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में 8 साल की मासूम के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या का मामला सामने आया है. पुलिस ने बच्ची का शव नाले से बरामद किया है, बच्ची के शरीर पर चोट के निशान भी मिले हैं. बताया जा रहा है कि बच्ची 8 जून शनिवार रात 8 बजे से लापता थी, परिजनों ने काफी देर ढूंढऩे के बाद कमलानगर थाने में भी इसकी रिपोर्ट की थी, लेकिन पुलिस ने कोई एक्शन नहीं लिया. पुलिस ने शव को निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया, जिसमें बच्ची के साथ दुष्कर्म के बाद गला दबाकर हत्या करने की बात सामने आई है.परिजनों ने पुलिस पर लापरवाही के आरोप लगाए हैं, जिसके बाद 6 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है. फिलहाल पुलिस द्वारा संदेहियों से पूछताठ कर आरोपियों की तलाश की जा रही है.

-यह है पूरा मामला

-बताया जाता है कि मंडवा बस्ती के पास रहने वाली बच्ची रात करीब 8 बजे घर के पास दुकान पर सामान लेने गई थी. बच्ची जब काफी देर तक वापस नहीं लौटी तो परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की. काफी देर बाद भी बच्ची के नहीं मिलने पर परिजन थाने पहुंचे, लेकिन पुलिस ने मामला दर्ज करने से मना कर दिया. जब इलाके के पार्षद को इस बात का पता चला तो उन्होंने पुलिस को फोन कर बच्ची की तलाश तुरंत शुरू करने के लिए कहा. पुलिस वाले बच्ची के घर आए और चले गए थे. इसके बाद राजधानी भोपाल के कमला नगर इलाके में आज रविवार सुबह आठ साल की बच्ची का शव नाले से मिला. पुलिस ने शव को निकालकर अपने कब्जे में लिया और पीएम के लिए भेज दिया, जिसमें बच्ची के साथ दुष्कर्म के बाद गला दबाकर हत्या करने की बात सामने आई है.

-शव के गले में निशान

-बताया जा रहा है कि जब नाले से बच्ची की लाश बाहर निकाली गई तो उसके गले पर निशान थे और उसके हाथ पर भी बांधे जाने के निशान थे. परिजनों का आरोप है कि दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या की गई है. फॉरेंसिक टीम ने भी मौके पर पहुंचकर जांच की है, उधर पुलिस इलाके में लगे सीसीटीवी फुटेज खंगालने की कोशिश कर रही है. घटना की सूचना मिलने के बाद भोपाल से सांसद साध्वी प्रज्ञा बच्ची के परिजनों से मिलने उनके घर पहुंची. वही इस मामले में कानून मंत्री पीसी शर्मा ने जांच और उचित कार्रवाई की बात कही है.

-पुलिसकर्मियों ने कहा किसी के साथ भाग गई होगी

-इस मामले में परिजनों ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाए हैं. परिजनों का कहना है कि समय रहते अगर उसकी तलाश शुरू की जाती तो वह मिल जाती. लेकिन पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से नहीं लिया. रिश्तेदारों का कहना है कि वह रात 8 बजे के करीब घर से कुछ दूर एक दुकान पर सामान लेने गई थी. इसके बाद वापस वापस नहीं लौटी. फिर उसकी खोज शुरू हुई, लेकिन जब आस-पास में वह नहीं मिली तो 9 बजे उसके माता-पिता पुलिस के पास पहुंचे. पुलिस ने इसकी रिपोर्ट लिखने से मना कर दिया और कहा कि वह पास में ही कहीं खेल रही होगी. परिजनों का आरोप है कि पुलिसकर्मियों ने यह भी कहा कि वह किसी के साथ भाग गई होगी. इसके बाद वे वापस लौट आए और फिर रातभर आस-पास के इलाकों में उसे तलाशते रहे.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।