खबरंदाजी. चाहत और चुनाव में सब जायज है! लिहाजा, केन्द्र की कुर्सी की चाहत में चुनाव में वह सबकुछ किया गया जिसकी जरूरत थी?
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी केरल पहुंचे, और पीएम नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा कि- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झूठ बोलकर लोकसभा चुनाव जीता! तो इसमें नया क्या है? आप तो सच भी ठीक-से स्थापित नहीं कर पाए! इसलिए 2019 को भूल जाइए, 2024 की तैयारी कीजिए?

लोकसभा चुनाव खत्म हो गया है, कांग्रेस खत्म नहीं हुई है! इसलिए, सोच-समझ कर सियासी कदम उठाइए? यह पेड न्यूज वाली बीसवीं सदी नहीं है, रेड न्यूज वाली एक्कीसवीं सदी है! आजकल कइयों को आपसे भी पहले पता चल जाता है कि आपने इस्तीफा दे दिया है? यही नहीं, अब आप इस्तीफा वापस नहीं लेने पर अड़े हुए हैं? और आप भी मजेदार हैं, उसी दिशा में आगे बढ़ रहे हैं जिस दिशा में विरोधी आपको ले जाना चाह रहे हैं? उन्हें पता है कि यदि गांधी परिवार राजनीति से हट गया तो पूरा सियासी मैदान खाली हो जाएगा? केन्द्र की सत्ता तो दूर, विपक्ष भी नजर नहीं आएगा?

दरअसल, इस बार प्रधानमंत्री का पद ही विपक्षी एकता का सबसे बड़ा दुश्मन बन गया था? जिनकी सियासी औकात दस-बीस सीटें जीतने की भी नहीं थी वे जीत के सियासी सपने देखते रहे और हकीकत में हार गए! कांग्रेस के पास तो फिर भी आधा दर्जन राज्य हैं, चार दर्जन से ज्यादा लोकसभा सीटें हैं, नौ दर्जन से ज्यादा सीटों पर दूसरे नंबर पर रही है, लिहाजा आप तो फिर भी आ जाओगे मुख्यधारा में, लेकिन उन सबका क्या होगा?

अगले पांच साल यह उम्मीद कत्तई मत रखना की कांग्रेस रेड न्यूज का शिकार होने से बच जाएगी? ऐसे मुद्दे जो कांग्रेस के खिलाफ जा सकते हैं, वे जोरशोर से उठाए जाते रहेंगे? कांग्रेस के एक पार्षद ने भी पाला बदला तो नेशनल न्यूज बनेगी? उन्होंने भले ही आठवें दशक में ईमेल भेज दी थी, लेकिन आपके ज्ञान पर सवाल उठते रहेंगे? उधर, हाथापाई भी हुई तो राखी बंधवा कर मामला रफादफा हो जाएगा और इधर, कोई बयान भी आया तो बवाल हो जाएगा? 

सियासी सयानों का मानना है कि यदि सच्चे-झूठे सियासी हमलों से बचते-बचाते राहुल गांधी ने पांच साल निकाल दिए तो ठीक, वरना कांग्रेस मुक्त भारत होने में ज्यादा वक्त नहीं लगेगा!

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।