किसी भी ऑपरेटर को पोर्ट करने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करें.

चरण 1. पोर्टिंग कोड उत्पन्न करना:

पोर्टिंग का पहला चरण एक पोर्टिंग कोड उत्पन्न करना है जो केवल 15 दिनों के लिए वैध रहता है. 
(जुलाई 2019 के बाद, पोर्टिंग कोड TRAI (भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण) के अनुसार 4 दिनों के लिए वैध रहेगा.

कोड उत्पन्न करने के लिए निम्नलिखित पाठ संदेश भेजें:  PORT (स्पेस) (मोबाइल नंबर) से 1900 Ex PORT 9876543210 से 1900

चरण 2. पोर्टिंग कोड प्राप्त करें :

आपको अपने कोड के साथ 1901 से एक एसएमएस प्राप्त होगा जिसे यूपीसी या यूनिक पोर्टिंग कोड कहा जाता है. यूपीसी कोड 15 दिनों में समाप्त हो रहा है.

चरण 3. पोर्टिंग अनुरोध सबमिट करना

अगला कदम ऑपरेटर या 10digi.com पर अपने पोर्टिंग एप्लिकेशन को जमा करना है. आप इसे आसानी से ऑनलाइन कर सकते हैं या आप के पास ऑपरेटर स्टोर पर जा सकते हैं.

कॉर्पोरेट / कंपनी कनेक्शन के लिए: उपयोगकर्ताओं को अपने कॉर्पोरेट नंबर के लिए मोबाइल नंबर पोर्टिंग को संसाधित करने के लिए एक एनओसी प्रस्तुत करने की आवश्यकता है. इस एनओसी को कंपनी के लेटरहेड पर होना चाहिए और अन्य दस्तावेजों के साथ अधिकृत हस्ताक्षरकर्ता द्वारा मुहर लगाई जानी चाहिए.

चरण 4: प्रसंस्करण समय

पोर्टिंग अनुरोध की पुष्टि या गिरावट बताते हुए आप अपने वर्तमान नेटवर्क पर 1-2 दिनों के भीतर एक संदेश प्राप्त करेंगे. यह पोर्टिंग की तारीख और समय का भी संकेत देगा.

पोर्टिंग प्रक्रिया के दौरान आपके वर्तमान सिम पर सेवाएं बाधित नहीं होंगी. डाउनटाइम केवल 2 घंटे (रात के दौरान) के लिए है.

चरण 5: सक्रियण

जब पुराना कनेक्शन काम करना बंद कर देता है तो आप अपनी नई सिम का इस्तेमाल कर सकते हैं और शुरू कर सकते हैं.

चरण 6. नए नेटवर्क पर पहला रिचार्ज

पोर्टिंग और एक्टिवेशन की प्रक्रिया पूरी होने पर पहला रिचार्ज (प्रीपेड कनेक्शन के मामले में) अपने आप हो जाएगा.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।