अक्सर लड़कियों का नाम शादी के बाद बदल जाता है. ऐसे में पुराने व नये दस्तावेजों में नये नाम को विधिवत तरीके से दर्ज कराना जरूरी है नहीं तो भविष्य में जरूरत के वक्त मुश्किलों को सामना करना पड़ सकता है.

नाम बदलने की प्रक्रिया भी पूरी करें

सामान्य तौर पर शादी के बाद पत्नी के नाम के साथ पति का सरनेम या परिवार का नाम (फैमिली नेम) जुड़ जाता है. इससे उनके नाम में परिवर्तन हो जाता है. शादी के बाद नये नाम से पति सारे काम-काज जैसे निवेशों में नॉमिनी बनाना, पत्नी के नाम से निवेश करना आदि करने लगते है.

नये दस्तावेज में पत्नी का नया नाम आ जाता हैं. ऐसे में भविष्य में इन महिलाओं को परेशानी का सामना करना पड़ जाता है जब कभी पति द्वारा किये गये निवेश को निकालना पड़े या उनके न रहने पर नॉमिनी के रूप में लाभ प्राप्त करना पड़े. छोटी सी लापरवाही के कारण ही उस विपरीत समय में उन निवेशों से पैसा प्राप्त करना बहुत ही मुश्किल हो जाता है. इसलिए यह जरूरी है कि जितना जल्दी हो, अपने परिवर्तित नाम को स्थायी रूप दें और उन सारे दस्तावेजों को तुरंत ही अपडेट कर लें. इसी संदर्भ में आपको एक ऐसी युवती के बारे में बारे में बताता हूं जिसने इस ओर ध्यान नहीं दिया और उसे भविष्य में काफी परेशानी झेलनी पड़ी साथ ही लाखों का नुकसान भी उठाना पड़ा.

नाम में परिवर्तन कराने का तरीका

शादी के बाद या अन्य किसी भी कारण से जब नाम में परिवर्तन होता है, तो यह जरूरी है कि इस परिवर्तन को एक स्थायी रूप दिया जाये. इसकी पूरी प्रकिया इस प्रकार है.

सबसे पहले एक नॉन ज्युडीशियल स्टांप पेपर पर एक शपथ पत्र (एफिडेविट)  तैयार करना होगा जिसमें यह लिखा हो कि आप अपने नाम बदल लिया है. इसमें आपको विशेष रूप से नये व पुराने नाम का उल्लेख करना होगा. साथ ही खुद से जुड़ी बाकी जानकारी जैसे पति या पिता का नाम, पता आदि भी देना होगा.

इस शपथ पत्र को एक आवेदन के साथ अपने क्षेत्र के मजिस्ट्रेट से सत्यापित कराना होगा.सत्यापित हो जाने के बाद इसकी सूचना अपने क्षेत्र के किसी ऐसे समाचार पत्र में प्रकाशित करवाना होगा, जिसकी प्रसार संख्या अच्छी हो.

अब इस सत्यापित शपथ पत्र और अखबार में प्रकाशित विज्ञापन की प्रति को संलग्न करते हुए एक आवेदन राज्य की राजधानी में राजकीय प्रेस में भेजकर इसे प्रकाशित कराना होगा. राजकीय प्रेस एक निश्चित शुल्क जमा लेने के बाद इस सूचना को राजकीय गजट में प्रकाशित करता है. इस आवेदन पत्र के साथ आपकों अपना आइडी प्रूफ, एड्रेस प्रूफ व फोटो संलग्न करना होगा साथ ही आवेदन में बताना होगा कि आपने किन कारणों से नाम परिवर्तित किया है.

इस तरह आपका नया नाम पूरी तरह से स्थापित हो जाता है. अब आप इस राजकीय गजट की कुछ प्रतियां खरीद कर रख लें. यही आपके नाम परिवर्तन का सबूत है.

इन प्रतियों को दिखा कर आप अपने सभी तरह के दस्तावेजों और रिकार्ड में अपना नाम बदलवा सकते हैं.

सबसे पहले पैन व बैंक खाते को करें अपडेट

नाम बदलवाने की प्रक्रिया पूरी करने के बाद सबसे पहले अपने पैन कार्ड और बैंक खाते को अपडेट कराना जरूरी है. इसके लिए आपको केवाइसी फार्म भर कर जमा करना होगा और साथ में आइडी प्रूफ व एड्रेस प्रूफ की प्रति और राजकीय गजट की स्वअभिप्रमाणित कॉपी संलग्न करना होगा. कभी भी नये नाम के साथ नया पैन कार्ड नहीं बनवाना चाहिए. अपने पुराने पैन कार्ड को ही सुधारने का विकल्प उपलब्ध रहता है

नॉमिनी स्टेटस ठीक करें

कई परिवारों में शादी के पहले भी माता-पिता अपने विभिन्न निवेश दस्तावेजों में, बीमा पॉलिसियों में, जमीन-जायदाद संबंधी दस्तावेजों, बैंकों खातों आदि मुख्य जगहों पर बेटियों को नॉमिनी घोषित करते हैं. परंतु जब बिटिया की शादी हो जाती है और उसका नाम बदल जाता है, तो उन दस्तावेजों में इसे अपडेट नहीं किया जाता. इसलिए यह जरूरी है कि तुरंत ही सारे जगहों पर नये नाम को अपडेट करा लें.

म्यूचुअल फंड के दस्तावेज में नाम दर्ज कराएं

म्यूचुअल फंड में किये गये निवेश के दस्तावेज में भी नये नाम को जरूर दर्ज कराएं. अगर शादी की वजह से आपका नाम परिवर्तित हुआ है तो आपको नाम परिवर्तन करने के लिए इन दस्तावेजों की स्वअभिप्रमाणित प्रति के साथ केवाइसी फार्म को ऐसेट मैनेजमेंट कंपनी या रजिस्टर्ड ट्रांसफर एजेंट के पास जमा कराना होगा.

1) मैरेज सर्टिफिकेट की कॉपी, 2) राजकीय गजट की कॉपी, 3)पैन कार्ड की कॉपी, 4) बैंक द्वारा सत्यापित नाम व पता की कॉपी, 5) एक कैंसल्ड चेक. इस प्रक्रिया में 10-12 दिन का समय लगता है.

आयकर रिटर्न दाखिल करने में

आजकल लड़कों की तरह लड़कियां भी तेजी से आगे बढ़ते हुए रोजगार पा रहीं हैं और बड़ी-बड़ी कंपनियों में नौकरी कर रहीं हैं. वे भी आयकर रिटर्न दाखिल कर रहीं हैं. ऐसे में शादी के बाद अगर उनका नाम बदल जाता है, तो उन्हें अपने नये पैन के साथ ही आयकर रिटर्न दाखिल करना होगा और इसके लिए जरूरी है कि आपका पैन अपडेट हो

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।