तमिलनाडु में स्थित ऊटी भी गर्मियों में घूमने लायक स्थान है. यहां काफी ज्यादा बर्फ गिरती है इसी कारण इसे स्नूटी-ऊटी भी कहा जाता है. यहां के सुंदर कॉटेज, फेंच्ड फूलों वाले बाग़, फूस की छत वाले चर्च, बोटेनिकल गार्डन इत्यादि घूमने के मुख्य आकर्षण के केंद्र हैं. हरे-भरे प्राकृतिक नजरों से घिरा हुआ ऊटी काफी खूबसूरत लगता है. यहां आपको भारी संख्या में चीड़ के पेड़ देखने को मिलेंगे. इसके अलावा यहां भवानी झील, नीलगिरी माउंटेन रेलवे, सेंचुरी एवेलांचे, एमेराल्ड झील, सेंट स्टीफेन चर्च, गुलाब के बगीचे, पिकारा झील और झरना मुख्य टूरिस्ट पॉइंट है

ऊटी नीलगिरि बायोस्फीयर रिजर्व में स्थित है . इस नाजुक पारिस्थितिक तंत्र की रक्षा के लिए अधिकांश वन क्षेत्र और जल निकाय अधिकांश आगंतुकों के लिए ऑफ-लिमिट हैं. बायोस्फीयर रिजर्व के कुछ क्षेत्रों को पर्यटन विकास के लिए रखा गया है, और क्षेत्र को संरक्षित करते हुए इन क्षेत्रों को आगंतुकों के लिए खोलने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं

सरकारी  रोज गार्डन (पूर्व शताब्दी गुलाब पार्क) भारत में सबसे बड़ा गुलाब उद्यान है. यह ऊटी शहर के विजयनगरम में एल्क हिल की ढलान पर स्थित है. ऊटी झील 65 एकड़ के क्षेत्र को कवर करती है. नाव घर झील है, जो पर्यटकों को नौका विहार सुविधाएँ प्रदान करता है के साथ की स्थापना की, ऊटी में एक प्रमुख पर्यटक आकर्षण है. इसका निर्माण 1824 में ऊटी के पहले कलेक्टर जॉन सुलिवन द्वारा किया गया था . ऊटी घाटी से नीचे बहने वाली पहाड़ी धाराओं को क्षतिग्रस्त करके झील का निर्माण किया गया था. बोटैनिकल गार्डन के ऊपर की पहाड़ियों पर कुछ टोडा झोपड़ियाँ हैं , जहाँ टोडा अभी भी बसते हैं. क्षेत्र में अन्य टोडा बस्तियां हैं, विशेष रूप से ओल्ड ऊटी के पास कमंडल मुंड. हालांकि कई टोडा ने कंक्रीट के घरों के लिए अपनी पारंपरिक विशिष्ट झोपड़ियों को छोड़ दिया है

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।