फाइब्रोमायल्गिया, एनीमिया, अवसाद कुछ सामान्य स्वास्थ्य स्थितियां हैं जो लगातार थकावट का कारण बन सकती हैं. इसके अलावा, एलर्जी राइनाइटिस जिसे हे फीवर के रूप में भी जाना जाता है, आपकी थकावट की भावना के पीछे एक और प्रमुख जोखिम कारक हो सकता है. यह एलर्जी धूल के कण, तिलचट्टे, मौसम की स्थिति में बदलाव के साथ शुरू हो सकती है. जबकि एलर्जी एक ऐसा कारक है जो आपको लंबे समय तक थका हुआ महसूस करा सकता है, कई अन्य स्वास्थ्य स्थितियां हैं जो ऐसा कर सकती हैं. यहां, हम आपको ऐसी स्वास्थ्य समस्याओं के बारे में बता रहे हैं जो आपको थकान की ओर ले जाती हैं

स्लीप एपनिया

स्लीप एपनिया एक ऐसी स्थिति है जहां आपके रक्त में ऑक्सीजन का स्तर कम होने के चलते अच्‍छी नींद नहीं आती है, जिसके जिसके परिणामस्वरूप थकान और अनिद्रा बढ़ जाती है. 

रूमेटॉइड अर्थराइटिस

यह एक ऐसी स्थिति है जो आपके जोड़ों को प्रभावित कर सकती है जो विकलांगता की ओर ले जाती है और यह अत्यधिक थकान होने का कारण हो सकती है.

हृदय संबंधी बीमारियां

यदि आप कोई एक्टिविटी करने के बाद सांस की तकलीफ महसूस करते हैं जो आप पहले आसानी से कर पाते थे, तो यह हृदय रोग के कारण हो सकता है. यदि आपकी थकान आपके दिल से जुड़ी हुई है. दिल की बीमारी की संभावना को दूर करने के लिए अपने चिकित्सक से परामर्श करें. 

टाइप 2 डायबिटीज

उच्च रक्त शर्करा का स्तर भी आपको बेहद थका हुआ महसूस कर सकता है. ऐसा इसलिए है क्योंकि उच्च रक्त शर्करा रक्त परिसंचरण को धीमा कर सकता है जो आपकी कोशिकाओं को ऑक्सीजन और पोषक तत्वों के सही लेवल को प्राप्त करने से रोकता है, जिसके परिणामस्वरूप अत्यधिक थकान होती है.

एनीमिया

एनीमिया एक ऐसी स्थिति है जहां आपका शरीर कम संख्या में लाल रक्त कोशिकाओं का उत्पादन करता है और यह भारी मासिक धर्म चक्र का कारण बन सकता है जो थकान की भावना पैदा कर सकता है.

कैसे करें बचाव

अगर आप थकान महसूस करते हैं तो इसका मतलब है कि आपको अपनी जीवनशैली में बदलाव लाने की जरूरत है. इसके लिए आप सुबह जल्‍दी उठें और रोजाना कम से कम 1 घंटे वर्कआउट करें. आप मॉर्निंग वॉक और स्‍ट्रेच एक्‍सरसाइज के साथ योग और प्राणायाम कर सकते हैं. इसके बाद सुबह हेल्‍दी नाश्‍ता जरूर करें. फल, दलिया, अंडे या कुछ हेल्‍दी डाइट ले सकते हैं. दोपहर में भी समय से भोजन करें.

दिनभर पानी भरपूर मात्रा में पीएं. रात का भोजन सोने 3 घंटे पहले करें. सोने से पहले एक ग्‍लास गर्म दूध जरूर पीएं. मोबाइल फोन, लैपटॉप आदि गैजेट्स का इस्‍तेमाल कम से कम करें. इन बदलावों के बाद भी अगर आप थकान महसूस करते हैं तो आपाको निश्चित रूप से किसी डॉक्‍टर की सलाह लेने की जरूरत है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।