फिल्म: De De Pyaar De

कलाकार:Ajay Devgn, Tabu, Rakul Preet Singh

निर्देशक:Akiv Ali

बॉक्स ऑफिस पर एक और बॉलीवुड मसाला फिल्म ‘दे दे प्यार दे’ रिलीज हुई है. इस मल्टीस्टारर फिल्म के ट्रेलर की काफी तारीफ हुई थी. अजय देवगन-तब्बू-रकुल प्रीत सिंह जैसे स्टार्स से सजी फिल्म को आकिव अली ने डायरेक्ट किया है. कहानी-प्रोडक्शन लव रंजन का है.

कहानी- लंदन में रहने वाले 50 साल के बिजनसमैन आशीष (अजय देवगन) की कहानी है. आशीष अपनी इंडिया में रहने वाली पत्नी मंजू (तब्बू) और बच्चों से कई साल पहले अलग हो चुका है. एक दिन उसकी लाइफ में उसकी बेटी की उम्र की खूबसूरत लड़की आएशा (रकुल प्रीत सिंह) की एंट्री होती है. इस बेमेल जोड़ी को देखकर आशीष का डॉक्टर दोस्त राजेश (जावेद जाफरी) उसे समझाता है कि जवान लड़कियां अक्सर बूढ़े दौलतमंद लोगों की दौलत हड़पने के लिए ऐसे रिश्ते बनाती हैं. 

इसके बावजूद आशीष और आएशा एक-दूसरे के काफी करीब आ जाते हैं. नौबत जब शादी तक पहुंच जाती है तो आशीष एक बार अपने बीवी-बच्चों से मिलवाने के लिए आएशा काे इंडिया लाता है. यहां आकर उसे पता लगता है कि खुद आशीष की बेटी की शादी की बात चल रही है तो उसे अपनी जिम्मेदारी का एहसास होता है. ऐसे में उसके और आएशा के रिलेशनशिप में ब्रेक आ जाता है. इसके बाद कहानी में कुछ और मजेदार टि्वस्ट आते हैं. आखिर में आएशा के साथ आशीष नई गृहस्थी बसाता है या फिर अपनी पुरानी गृहस्थी को फिर से अपना लेता है, यह जानने के लिए आपको सिनेमाघर जाना होगा. 

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।