Projector को हम Computer Hardware के अंग के रूप में जानते हैं जो की सफेद स्क्रीन या किसी दीवाल पर हमें Computer के Screen पर हो रहे कार्यों को दिखाता है. जैसे हम कंप्यूटर में MS Word या Power Point पर कोई कार्य कर रहे हो या कोई Movie Computer में चला रहे हो तो Projector हमे वह एक बड़ी Screen पर दिखता है. ये Light Projection के आधार पर कार्य करता है. Light को किसी दीवार या white Screen पर चमकाया जाता है. 

अगर इसके बारे में कोई उदाहरण दिया जाये तो सबसे अच्छा उदाहरण हम सिनेमा हाल का ले सकते हैं जिसमे इसकी मदद से कोई भी Movie बड़ी स्क्रीन पर दिखाई जाती है. साथ में इसका प्रयोग प्रेजेंटेशन के लिए और क्लासरूम में किसी चीज को समझाने के लिए किया जाता है. समय के साथ साथ इसका उपयोग बढ़ गया है और इसमें कई सुधार भी हुए हैं. इसकी खासियत है कि यह छोटी से छोटी Image को बड़ा करके दिखा सकता है. क्योकि इसमें Image की  Quality को बढ़ाने के लिए लेन्सेस का इस्तेमाल किया जा रहा है.

Portable Projector

जैसे जैसे समय बदलता गया प्रोजेक्टर में भी काफी बदलाव हुए उनमे से एक है पोर्टेबल प्रोजेक्टर जो की बड़े और छोटे क्लासरूम , Meeting Room , के लिए बहुत ही अच्छा है. इनका वजन कम और आकार में भी छोटे होते हैं यह साथ ही इनका Use आसानी से किया जा सकता है.

Installation Projectors (VX Series)

इन प्रोजेक्टर का उपयोग , सेमिनार , बोर्डरूम , संग्रहालय , आदि में किया जाता है. इसमें सबसे अच्छी बात यह है कि इनकी Brightness Range 5500 ANSI Lumens तक पहुँच सकती है. VX Series में कुछ प्रोजेक्टर Miracast Wireless Projection की सुबिधा देते हैं. जिसमे आप Laptop या Phone से भी प्रोजेक्ट कर सकते हैं. अगर आप Wireless Presentations करना चाहते हैं तो वह भी कर सकते हैं.

Short Throw/Ultra Short Throw Projectors

Short Throw Projector कम जगह में Use करने के लिए सबसे अच्छा विकल्प है. क्योकि इसको दूर स्थापित किये बिना आप Project कर सकते हैं. इसमें Installation Space कम होने के वावजूद यह अच्छी तरह से कार्य करता है. ये प्रोजेक्टर छोटे क्लासरूम , मीटिंग रूम के लिए अच्छे हैं जो कम स्पेस लेते हैं और कार्य भी सही से करते हैं. इनमे "इंटरैक्टिव फंक्शन और मेमोरी व्यूअर फंक्शन, यूएसबी डिस्प्ले फंक्शन, कॉर्नर कीस्टोन सुधार और वक्रित स्क्रीन सुधार आदि सुबिधा होती है.

Large Venue Projectors

इस Type के प्रोजेक्टर बड़े स्थानों जैसे सभागार , या कोई बहुत बड़ा कार्यक्रम आदि में Use किया जाता है. ये Rent पर भी मिलते हैं इनके लिए 5000 ANSI Lumens की जरूरत पड़ती है. ये बहुत ही अच्छी पिक्चर क्वालिटी देता है.

Home Cinema Projectors

ये प्रोजेक्टर मुख्य रूप से घर में Use होने के लिए बने होते हैं जिसके द्वारा कोई Movie देखि जा सकती है. इसलिए इन्हें होम सिनेमा प्रोजेक्टर कहा जाता है. इसकी Picture Quality बहुत अच्छी होती है साथ में Full HD में हम देख सकते हैं. अगर आप अपने घर के लिए कोई प्रोजेक्टर खरीदना चाहते हैं तो यह आपके सही Option है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।