प्रोटीन पाउडर दूध, छाछ, कैसिइन और सोया से बना एक सूखा पाउडर होता है. हालांकि अब मटर से भी प्रोटीन बनाया जा रहा है. जब आप प्राकृतिक खाद्य पदार्थों से आवश्‍यक प्रोटीन नहीं ले पाते हैं, तो उसकी मात्रा को पूरा करने के लिए पाउडर का इस्‍तेमाल किया जाता है. ये टेस्‍टी होता है और आसानी से पच जाता है

प्‍योर व्‍हे प्रोटीन अच्‍छा माना जाता है. ये आपको सभी आवश्यक अमीनो एसिड प्रदान करता है. इसके अलावा इसका जल्‍दी से अवशोषण हो जाता है जिस वजह इसे वर्कआउट के बाद लेना अच्‍छा माना जाता है. इसमें दूध और कार्बोहाइड्रेट मिलाने से इसका अवशोषण धीरे-धीरे होता है.

मांसाहारी लोग प्रतिदिन एक से दो चम्‍मच पाउडर खा सकता है. लेकिन ये इस बात पर निर्भर करता है कि आपको अपने खाने से कितना प्रोटीन मिल रहा है. कुछ लोग दो से अधिक और कुछ लोग केवल एक चम्‍मच पाउडर खा सकते हैं. एथलीट और बॉड़ीबिल्‍डर अपनी आवश्‍यकतानुसार इसे खा सकते हैं

ससे आपको प्रोटीन मिलता है और आपकी इम्‍यूनिटी और शक्ति बढ़ाता है. आपकी मांसपेशियों को बढ़ाता है और लंबे समय तक आपको भूख नहीं लगने देता

इसमें कोई दो राय नहीं है कि कोई भी पोषक तत्‍व लंबे समय तक ज्‍यादा मात्रा में लेना हानिकारक हो सकता है और प्रोटीन भी इनमें से एक है. आपको ये ध्‍यान रखना होगा कि आपको अपने खाने से कितना प्रोटीन मिलता है. उसी के आधार पर आप प्रोटीन पाउडर ले सकते हैं

अगर आप नियमित रूप से चिकन, मछली, मांस, अंडे और डेयरी उत्पादों का उपभोग करते हैं तो आपको इसकी जरूरत नहीं है. इसका सेवन आपकी गतिविधी पर निर्भर करता है. अगर आप ज्‍यादा मेहनत वाला काम करते हैं तो आपको इसकी ज़रूरत होती है

ये विभिन्‍न बातों पर निर्भर करता है. उदाहरण के लिए व्‍हे प्रोटीन वर्कआउट और ट्रेनिंग के बाद लिया जाता है. जबकि कैसिइन रात के समय और वर्कआउट के बाद लिया जाता है

ये मट्ठा, दूध और दूध उत्पादों केसीन, सोया और मटर से बना होता है. इसलिए शाकाहारियों के लिए एक उपयुक्त विकल्प है

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।