गृहणी घर की कुंजी होती है, अगर वो घर की छोटी छोटी चीज़ों को संभल के परिवार को ना पाले तो समस्या पैसा हो सकती है. उसके इन कामो में सबसे महत्त्वपूर्ण है घर का बजट बनाना.  बजट बनाने का अर्थ घर के सभी खर्चों का हिसाब लगाने से कहीं बढ़कर है. इसके जरिए आप हिसाब लगा सकते हैं कि आपकी आय में से कितना खर्च होता है और कितना इसमें से बचाया जा सकता है. घर का बजट बनाने का अर्थ  है कि आप अपनी जीवन-शैली का अनुमान लगा रहे हैं. समय पर बिल भुगतान करना, कर्जों का सही समय पर निपटारा करना और अपने बचत, निवेश लक्ष्यों को हासिल करना भी इसी के अंतर्गत आता है

शुरूआत के लिए अपनी छोटी से बड़ी जरूरतों और इच्छाओं की लिस्ट बनाकर देखें- खर्चों को जरूरतों और चाहतों के बीच बांटने से आपको ज्ञात होगा कि जीने के लिए किन चीजों की जरूरत है और कौन-कौन से खर्चे सिर्फ आपकी जीवन-शैली को बेहतर बनाने के लिए आवश्यक हैं. 

बजट का एक उपयुक्त फॉर्मेट बनाएं, आप इन्हें इंटरनेट से डाउनलोड कर सकते हैं-आपको अपनी मासिक आय के हिसाब से चलना होगा और इसके आधार पर ही लागत निकालनी होगी. तो सारी अंकगणना और हिसाब-किताब इस तरह से करें कि आपके साल भर का बजट तैयार हो जाए. एक हफ्ते के बजट को 52 हफ्तों से गुणा करें और इसके बाद देखें कि आपकी सालाना आमदनी में ये फिट हो रहा है या नहीं. अगर ये सही तरह से फिट नहीं हो रहा है तो इसका मतलब है कि आपकी गणना में कोई गलती है. एक महीने के बजट को 12 से गुणा करें. इसी तरह तिमाही बजट को 4 से गुणा करें जिससे आपको पता चले कि आपका हिसाब आपकी जरूरतों के हिसाब से सही है या नहीं. 

हो सकता है कि सुपरमार्केट में आपकी सारी जरूरतों की चीजें एक साथ मिल जाती हैं लेकिन अगर आप थोड़ा सा खोजें और कीमतों की तुलना करें तो पाएंगे कि लोकल दुकानों पर भी समान उत्पाद मिल जाते हैं वो भी कम कीमत पर. 

कार मरम्मत, चिकित्सा खर्च, शादी और जन्मदिन, घरेलू उपकरणों का रख-रखाव, आकस्मिक यात्राएं ऐसे खर्च हैं जिनके लिए आपके बजट में कुछ स्थान जरूर होना चाहिए. 

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।