दुनिया में भारतीय महिलाओं की छवि गोलार्ध के बाकि भागों से काफी अलग है. इसका रीज़न है देश में बसने वाली सभ्यता और विचार, रहन और खान पान. तो वो कौन सी ख़ास चीज़ें हैं जो भारतीय महिलाओं में बिलकुल अलग हैं. भारतीय महिलाओं में काफी विविधता होती है, हर क्षेत्र में भारतीय महिलाएं अच्छा काम करती है लेकिन सामान्यत: इंडियन वूमन को स्कोप न मिल पाने की वजह वह एक जैसी ही हो जाती है

इंडियम वूमन को डेट्स बहुत याद रहती है. उनकी दोस्ती किससे, किस दिन, कब कहां क्यों हुई, सारा लेखा जोखा उनके पास रहता है. अगर आप कभी उनसे कोई बात करें तो वह गड़े मुर्दे उखाड़ देगी, ऐसी बातें याद दिलाएगी तो आपको याद ही न हों.

सामान्यत: भारतीय महिलाएं बहुत घरेलू होती हैं, उन्हे कई नए काम करने में हिचकिचाहट होती है और मन में हमेशा डर रहता है. तभी भारत में बहुत कम महिलाओं का नैट बैकिंग एकाउंट होता है क्योंकि वह कभी भी रिस्क नहीं लेना चाहती हैं.

दुनिया में अगर सबसे ज्यादा कोई इमोशनल ब्लैकमेल के शिकार होते है तो वह भारतीय पुरूष होते है. भारतीय महिलाएं नजदीकी रिश्ते में कभी भी बात को सही ढंग से नहीं कहती, वह हमेशा उसे इमोशनल टच देती हैं ताकि कोई भी पिघल जाये और उनकी बात मान ले.

लालची शब्द, शायद कुछ ज्यादा ही हार्ड लगे, लेकिन यह एक फैक्ट है. इंडिया की फीमेल 22 साल की उम्र पार करने के बाद लालची हो जाती है, उन्हे गहने, रूपए - पैसे, घर गाड़ी, बंगला आदि दिखने लगता है. खुद पर खर्च करने में नहीं चूकेगी लेकिन दूसरे के ऊपर एक रूपए भी खर्च करने में उन्हे खुद की सेविंग्स का ख्याल आ जाएगा.

हर भारतीय महिला का शौक होता है कि वह खूब सजे, तैयार हो, गहने पहने आदि. यही कारण है कि दुनिया में कॉस्मेटिक प्रोडक्ट की खपत भारत में भारी संख्या में होती है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।