पलपल संवाददाता, जबलपुर. लोकसभा चुनाव के प्रथम चरण में मध्य प्रदेश की 6 सीटों पर होने वाले मतदान के लिए प्रचार आज शनिवार 27 अप्रेल की शाम 5 बजे अपने चरम पर पहुंचकर थम गया.. जिन सीटों पर चुनाव होना है, उसमें जबलपुर संसदीय सीट भी शामिल है. प्रचार के अंतिम दिन सुबह से प्रत्याशी व उनके समर्थक पूरी ताकत से प्रचार, रैलियों में लगे हुए थे. प्रचार थमने के बाद प्रत्याशी बिना किसी तामझाम के घर-घर जाकर प्रचार कर सकते हैं. दोनों ही दलों भाजपा-कांग्रेस के प्रत्याशियों ने प्रचार के अंतिम दिन अपनी पूरी शक्ति झोंक दी.

इन सीटों पर थमेगा प्रचार, रहेगी निषेधाज्ञा

आज प्रदेश की 6 सीटों पर 5 बजते ही चुनाव प्रचार थम गया. इसके बाद चौथे चरण की 6 सीटों पर 29 अप्रैल को डाले वोट जाएंगे. इसमें जबलपुर, सीधी, शहडोल, मंडला, बालाघाट और छिंदवाड़ा शामिल है. 48 घंटों तक इन लोकसभा क्षेत्रों में निषेधाज्ञा लागू रहेगी. शराब की बिक्री बंद कर जाएगी. लाउड स्पीकर पर पाबंदी रहेगी. 29 अप्रैल को सुबह 7 बजे से यहां पर मतदाता अपने मतों का प्रयोग करेंगे.

इन प्रत्याशियों की हो रही आपस में टक्कर

जबलपुर में कांग्रेस के विवेक तन्खा का भाजपा के राकेश सिंह से हो रहा है. सीधी संसदीय क्षेत्र पर कांग्रेस के अजय सिंह का मुकाबला भाजपा की वर्तमान सांसद रीति पाठक से, शहडोल में कांग्रेस की प्रमिला सिंह का भाजपा की हिमाद्री सिंह से और इसी क्रम में बालाघाट में कांग्रेस के मधु भगत भाजपा के ढाल सिंह बिसेन के, मंडला में कांग्रेस के कमल मरावी भाजपा के फग्गन सिंह कुलस्ते के और छिंदवाड़ा में कांग्रेस के नकुलनाथ भाजपा के नत्थन शाह के सामने चुनावी मैदान में हैं. छिंदवाड़ा विधानसभा उपचुनाव में मुख्यमंत्री कमलनाथ के सामने भाजपा के विवेक साहू चुनावी रण में उतरे हैं.

जबलपुर में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष चौका लगा पाएंगे या नहीं

जबलपुर लोकसभा सीट भाजपा का सबसे बजबूत गढ़ माना जाता है. यहां से बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह चुनावी मैदान में हैं, उनका मुकाबला कांग्रेस के दिग्गज नेता और राज्यसभा सदस्य विवेक कृष्ण तन्खा से है. मुकाबला रोचक होने के आसार है. कांग्रेस यह सीट छिनने के लिए जोर लगाएगी तो भाजपा के लिए इसे बचाना चुनौती होगा. इस सीट पर बसपा के रामराज राम समेत 22 प्रत्याशी सियासी रणभूमि में हैं.

मोदी और राहुल पहले ही कर चुके है बड़ी सभाएं

चुनाव प्रचार के आखिरी दौर में 26 अप्रैल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीधी और जबलपुर में चुनावी सभा की. इससे पहले 23 अप्रैल को राहुल गांधी ने जबलपुर के सीहोरा और शहडोल में सभाएं ली. कांग्रेस प्रत्याशियों के पक्ष में मुख्यमंत्री कमलनाथ और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह भाजपा प्रत्याशियों के पक्ष में यहां लगातार प्रचार कर रहे हैं. कांग्रेस के महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बुधवार को जबलपुर में कांग्रेस प्रत्याशी विवेक तन्खा ने सभा की.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।