क्या आप ज्योतिष पर विश्वास रखते हैं? ज्योतिष के अनुसार हमारे जीवन में शुभता और अशुभता से कई तमाम चीजें जुड़ी हुई हैं… फिर चाहे वह कोई दिन हो या रंग या फिर दिशा. यह शायद बहुत कम लोग जानते हैं कि खरीददारी से भी शुभता और अशुभता का वास्ता गहरा होता है और शायद यही कारण है कि कई बार आप बड़े शौक से चीजें खरीदकर घर ले आते हैं, लेकिन या तो वह चोरी हो जाती है या फिर टूट-फूट जाती है, जबकि कुछ चीजें आपके साथ सालों-साल तक चलती रहती हैं और ऐसे में आप उसे अपने लिए लकी मानने लगते हैं.

• रविवार:

जैसा की हम सभी जानते हैं कि रविवार का दिन सूर्य देवता को समर्पित होता है, इसलिए इस दिन लाल वस्तुएं, गेहूं, पर्स, दवाइयां, कैंची, आंखों से संबंधित सामान खरीदना बहुत ही शुभ माना जाता है. याद रहे कि इस दिन लोहा और लोहे से बने सामान भूलकर भी ना खरीदें. साथ ही फर्नीचर, हार्डवेयर का सामान, वाहन के कलपुर्जे आदि भी नहीं खरीदना चाहिए.

• सोमवार:

वहीं, सोमवार भगवान शिव का दिन होता है और आप चाहते हैं कि यह दिन आपके लिए शुभ साबित हो, तो इसके लिए आपको सोमवार को चावल, बर्तन, दवाएं, दूध से बनी मिठाइयां और डेरी उत्पाद खरीदना चाहिए. सोमवार के दिन स्टेशनरी, कला संबंधी चीजें, म्युजिक से जुड़ी चीजें, खेल का सामान, कंप्यूटर, मोबाइल आदि नहीं खरीदना चाहिए.

• मंगलवार:

बता दें कि मंगलवार का दिन बजरंग बली हनुमान को समर्पित माना जाता है. इस खास दिन किचन का सामान, लाल रंग की वस्तुएं, ज्वलनशील उत्पाद और प्रॉपर्टी खरीदना बहुत ही शुभ माना जाता है. मंगलवार को गलती से भी जूते ना खरीदें व साथ ही इस दिन लोहे का सामान, फर्नीचर, मोबाइल आदि की खरीददारी से बचना चाहिए.

• बुधवार:

याद रखें कि बुधवार का दिन शुभता का प्रतीक और रिद्धि-सिद्धि के दाता गणपति और माता सरस्वती की साधना-अराधना का माना गया है. इसलिए इस दिन स्टेशनरी, कला में प्रयोग होने वाली वस्तुएं, गाड़ी और घर के सजावट की सामान की खरीदारी आप कर सकते हैं. बुधवार के दिन चावल, दवाएं, ज्वलनशील पदार्थ वाली चीजें, बर्तन, एक्वेरियम आदि की खरीददारी नहीं करनी चाहिए.

• बृहस्पतिवार:

अब बात श्री नारायण को समर्पित इस शुभ दिन की यानी कि बृहस्पतिवार की करते हैं. इस दिन कोई भी इलेक्ट्रॉनिक सामान की खरीददारी शुभ मानी जाती है. साथ ही साथ इस दिन प्रॉपर्टी से जुड़ी चीजें खरीदना भी लाभदायक साबित होता है, लेकिन याद रखें कि इस दिन आंखों से जुड़ी चीजें जैसे कि चश्मा, काजल, आदि नहीं खरीदना चाहिए. गुरुवार के दिन कोई भी नुकीली या धारदार चीज खरीदने से भी बचना चाहिए व इस दिन बर्तन, पानी आदि से जुड़ी चीजों के शोपीस खरीदना भी अशुभ माना गया है.

• शुक्रवार:

सुख और सौभाग्य की देवी मां लक्ष्मी जी को समर्पित माना जाता है शुक्रवार का दिन. इस दिन चमड़े से बने सामान जैसे कि – पर्स, बेल्ट, जूते आदि और सौंदर्य प्रसाधन के सामान खरीदना शुभ माना जाता है. इस शुभ दिन आप घर या फिर ऑॅफिस की सजावट का सामान खरीद सकते हैं. शुक्रवार के दिन किचन और पूजा-पाठ संबंधी सामान खरीदने से ज़रूर बचें व साथ ही वाहन के कलपुर्जें भी न खरीदें.

शनिवार:

बताते चलें कि सूर्य पुत्र शनिदेव न्याय के देवता माने गए हैं. कहते हैं कि इस दिन वाहन, मशीनें, ऐसेसरिज, हार्डवेयर, फर्नीचर, औजार, कालीन और पर्दे आदि खरीदना शुभ होता है. वहीं, अगर आप शनिदेव की नाराजगी से बचना चाहते हैं, तो शनिवार के दिन भूलकर भी सरसों का तेल, नमक और चमड़े से बनी वस्तुएं ना खरीदें. साथ ही साथ लोहे की अलमारी, चाकू, कैंची, अनाज या मसाले आदि चीजें भी नहीं खरीदनी चाहिए.

साभार: वेद संसार डॉट कॉम 

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।