मेघालय जिसे बादलों का भी घर कहा जाता है. इस खूबसूरत पर्वतीय राज्य की देवदार वनस्पति, बर्फ से ढकी चोटियां, मनमोहक झरने और अनोखी फ्लोरा-फौना यहां की विशेषता है. आपको यहां पर अद्भूत ट्राइबल कल्चर देखने को मिलता है. मेघालय भारत की सात बहनों वाले राज्यों में से एक है. यहां की यात्रा थोड़े समय में आपको ढेर सारे यादगार पलों का अनुभव देती है. अगर आप यहां आने की योजना बना रहे हैं तो हम आपके मेघालय के बेस्ट डेस्टिनेशन के बारे में बताने जा रहे हैं. 

आप पहले दिन गुवाहाटी एयरपोर्ट पर उतरकर शिलांग के लिए रवाना हों. शिलांग गुवाहाटी से करीब 132 किलोमीटर की दूरी पर है. आप शिलांग चार घंटे में पहुंच सकते हैं. कोशिश करें की आप फ्लाइट सुबह की लें ताकि आप पहले दिन ही शिलांग घूम सकते हैं. शिलांग पहुंचकर आप पोलो ग्राउंड्स जा सकते हैं. वहां पर तीर नाम की प्रतियोगिता की जाती है जिसे आप देख सकते हैं. इसके बाद आप वहां का मेन मार्केट शाम के वक्त घूम सकते हैं. 

आप मेघालय के यात्रा के दूसरे दिन शिलांग के आसपास की जगहों को देख सकते हैं. अगर आपको इतिहास में थोड़ी भी रूचि है तो आप यहां के विलियमसन संगमा स्टेट म्यूजियम घूम सकते हैं. इसके अलावा अगर आप नेचर का लुत्फ उठाना चाहते हैं तो आप शहर के सबसे फेमस टूरिस्ट स्पॉट वार्ड लेक घूम सकते हैं. साथ ही शिलांग में कई चर्च मौजूद हैं जो यहां की सुंदर वास्तुकला को दर्शाते हैं तो आप यहां भी घूम सकते हैं. 

शिलांग से लगभग 25 किलोमीटर की दूरी पर मावफ्लांग में स्थित ‘मावफ्लांग सैक्रेड फॉरेस्ट’ जिसे लॉ लिंगडोह भी कहा जाता है, को देखने जा सकते हैं. यह एक नैसर्गिक दृश्य वाला पवित्र वन है. यह स्थान यहां के आदिवासियों के लिए पूजनीय है. 

आप अपने यात्रा के तीसरे दिन नार्टियांग के मोनोलिथ देखने जा सकते हैं. यह जगह शिलांग से तीन घंटे की दूरी पर स्थित है. यहां पर जंतिया राजाओं के ग्रीष्मकालीन महल के अवशेष देखने को मिलते हैं और देवी दुर्गा का एक प्रसिद्ध मंदिर भी है. यात्रा के चौथे दिन आप चेरापूंजी घूम सकते हैं. दुनिया में सबसे अधिक बारिश यहां पर होती है. उससे भी अधिक आकर्षक हैं यहाँ के जीवित पेड़ों की जड़ों से निर्मित पुल. एक छोटा सा कठिन ट्रैक इन पुलों तक ले जाता है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।