यदि कोई व्यक्ति किसी गरीब परिवार मॆ जन्म लेकर पिछले 19 सालो से सत्ता की केंद्रीय भूमिका मॆ है तो उसमे निश्चित रुप से उस व्यक्ति के ग्रहयोगों का कमाल है,भारतीय राजनीति के अजातशत्रु नरेंद्रमोदी की पत्रिका ज्योतिष महर्षियो द्वारा वर्णित राजयोगों से भरी हुई है,और जब कोई व्यक्ति ऊपर से ही अपना भाग्य लिखाकर आया है तो शत्रु उसका क्या बिगाड़ सकता है,ऐसे लोगो का अनुसरण दुनिया करती है.

*मोदी की कुंडली मॆ राज़योग*- जातक अपनी कुंडली मॆ राज़योग,धनयोग,यशयोग,जेल

योग,दरिद्रतायोग लेकर पैदा होता है,राज़योग लेकर पैदा होने वाला व्यक्ति यदि बहुत गरीब स्थिति मॆ भी पैदा हुआ है तो सितारे उसे बुलंदी पर पहुंचा ही देते है,चाहे परिस्थिति कैसी भी क्यों न हो,जीवन मॆ दशा परिवर्तन होती है और जीवन बदल जाता है,माननीय पन्तप्रधान नरेंद्र मोदी की पत्रिका मॆ कई शुभयोग है जो इस प्रकार है

*लग्न मॆ मंगल से बनने वाला रूचक योग*जब मंगल अपनी स्वराशि मूलत्रिकोण राशि या उच्च राशि मॆ कुंडली के केन्द्र ने हो तो रूचक योग बनता है,मोदी की पत्रिका मॆ वृश्चिक राशि का मंगल लग्न मॆ स्थित होकर प्रबल राज़योग बना रहा है,जिसके कारण मोदी का प्रबंधन बेमिसाल है,पुलिस,सेना और संगठन से उन्हे खास लाभ होता है,युद्ध शत्रु,दंगा,अग्निकांड भूकम्प जैसी विपरीत परिस्थिति उनके लिये विशेष लाभ की स्थिति बनाती है ऐसे समय मॆ वे विशेष रुप से सफल होते है.

*लक्ष्मीयोग*- भाग्य का स्वामी चंद्रमा लग्न मॆ मंगल के साथ लक्ष्मी योग बना रहा है,जिसके कारण वे जहां भी नेतृत्व संभालते है वहां सुख समृद्धि और सम्पन्नता अपने आप आती है.

*शुक्र शनि का महल योग*- किसी भी पत्रिका मॆ जब शुक्र शनि एक साथ कुंडली के केन्द्र मॆ होते है ऐसे लोग झोपडी मॆ ही जन्म लिये हो लेकिन आगे चलकर वे महलों मॆ रहते है,लक्ष्मी ग्लेमर,चकाचौंध ऐसे व्यक्ति के साथ ही रहती है,मोदी जी के व्यक्तित्व का जो प्रभाव है वो मीडिया और प्रचारतंत्र के सर चढ़कर बोलता है,मीडिया मॆ वे छाये रहते है,ये शुक्र शनि का ही प्रभाव है.

*सूर्य बुध का बुध आदित्य योग*- यह योग जन्मजात विद्वान लोगो की पत्रिका मॆ होता है,मोदी की पत्रिका मॆ यह योग बुध की उच्च राशि मॆ बन रहा है,अमिताभ बच्चन की पत्रीका मॆ भी यही योग है,ऐसे व्यक्ति वाणी,विद्या और बुद्धि के धनी होते है,सरस्वती की इनपर जन्मजात कृपा होती  है,अपनी वाणी से ये लोग सब पा लेते है.

*मोदी की महादशा*- 2011 से मोदी भाग्यस्थान के स्वामी चंद्र जो की उनकी कुंडली मॆ लग्न मॆ बैठकर लक्ष्मी योग बना रहा है उसकी दशा मॆ चल रहे है,इस दशा ने उन्हे प्रधानमंत्री बनाया,साथ ही पूरे विश्व मॆ नाम कमाया,वर्तमान मॆ मोदी चंद्र मॆ शुक्र की दशा मॆ चल रहे है जो इन्हे एकबार फिरसे प्रधानमंत्री बनने का मौका देगी.

*सर्वश्रेष्ठ मंगल की दशा 2021 से*- मोदी की पत्रिका मॆ मंगल सबसे शक्तिशाली ग्रह है जिसकी दशा 2021 से प्रारम्भ होगी,मंगल की इस दशा मॆ मोदी विश्व आतंकवाद निरोधी दस्ते का नेतृत्व कर आतंकवाद का सफाया करेंगे इस दशा मॆ भारत पूरे विश्व का गुरु बनेगा,भारत के लोगो को उम्मीद करनी चाहिये की मोदी 2019 से 2024 तक फिरसे भारत के प्रधानमंत्री बने फ़िर देखिये मोदी की कुंडली इस देश को कैसे उन्नति की शिखर पर ले जाती है.

*नास्त्रेदमस और नरेंद्रमोदी*- फ्रांस के भविष्यवक्ता पहले ही मोदी युग की भविष्यवाणी कर चुके है निश्चित रुप से नरेंद्र मोदी आनेवाले समय मॆ भारत के स्वर्णिम युग के निर्माता होंगे.

*प.चंद्रशेखर नेमा"हिमांशु"*

9893280184,7000460931

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।