पलपल संवाददाता, जबलपुर. पश्चिम मध्य रेलवे मुख्यालय के जबलपुर स्टेशन को अंतरराष्ट्रीय मानकों पर सौ टका खरा पाया गया. इस बात का प्रमाण पत्र आईएसओ-14001 आज 10 अप्रेल बुधवार को मंडल रेल प्रशासन को दिया गया. आईएसओ प्रमाण पत्र मिलते ही जबलपुर रेल मंडल के अधिकारियों के चेहरे पर सुकून भरी मुस्कान थी, लेकिन अधिकारी कहते रहे कि इस प्रमाण पत्र मिलने के बाद सभी की जिम्मेदारियां और बढ़ गई हैं, क्योंकि हर समय इस मापदंड पर खरा उतरने की चुनौती भी है.

उल्लेखनीय है कि आईएसओ टीम ने 1 माह में 2 बार जबलपुर आकर मुख्य रेलवे स्टेशन और सभी प्लेटफार्म पर नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के निर्देश पर विभिन्न पहलुओं का निरीक्षण किया था. इसमें उन्होंने स्टेशन पर सभी प्रकार की व्यवस्था आईएसओ के अनुकूल पाई है. इसके बाद चेन्नई निवासी हरिहर सुब्रमनियम और प्रदीप कुमार ने आज जबलपुर स्टेशन पर एडीआरएम श्रीमती अंजू मोहनपुरिया एवम सुधीर कुमार को प्रमाण पत्र प्रदान किया है.

इस संबंध में सीनियर डीसीएम आनंद कुमार ने बताया है कि आईएसओ-14001 मिलने से अब जबलपुर स्टेशन को स्मार्ट बनाने का रास्ता साफ हो गया है. जल्द ही स्टेशन का लुक आधुनिक तकनीक के जरिये बदला जाएगा. पमरे के 300 स्टेशनों में जबलपुर पहला स्टेशन है, जिसे उक्त प्रामण पत्र प्राप्त हुआ है. इसके अलावा मंडल के 11 स्टेशन कटनी, मैहर, सतना, दमोह, सागर, पिपरिया आदि का भी आईएसओ टीम द्वारा निरीक्षण किया जा रहा है. उन स्टेशनों को भी आईएसओ मिलने की संभावना है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।