*साप्ताहिक ग्रहो का भ्रमण*- इस सप्ताह ग्रहों का गोचर इस प्रकार रहेगा,भगवान सूर्य मीन राशि मॆ रहेंगे,13 अप्रेल को युवराज बुध भी मीन राशि मॆ जाकर बुध आदित्य योग बनायेंगे

सेनापति मंगल वृषभ राशि मॆ रहेंगे,गुरु,शनि और केतु धनु राशि मॆ रहेंगे,राहु महाराज मिथुन राशि मॆ रहेंगे,असुर गुरु शुक्र कुम्भ राशि मॆ ही रहेंगे,चंद्रदेव मेष,वृषभ,

मिथुन और कर्क राशि मॆ भ्रमण करेंगे.

*बनने वाली युति और प्रभाव*-इस सप्ताह चंद्र की मंगल के साथ वृष राशि मॆ लक्ष्मी योग बनेगा,सूर्य की बुध के साथ मीन राशि मॆ युति बनेंगी,इसके अलावा मिथुन राशि मॆ चंद्र राहु का ग्रहण योग बनेगा.

मेष-(नाम अक्षर- चू,चे,चो,ला,ली,लू,ले,लो,अ)

सकारात्मक पक्ष- मान सम्मान में वद्धि के अवसर की प्राप्ति होगी.लोग आपके जीवन जीने की कला का अनुसरण करेंगे.मन पसंद भेजन की प्राप्ति होगी.परिवार के लोगों से मेल मिलाप के अवसर प्राप्त होंगे.मेंहनत का फल आपको जरूर मिलेगा धैर्य से काम लीजिये.आय के स्रोत में वृद्धि होगी.आपकी किसी मनोकामना की पूर्ती संभव है.

नकारात्मक पक्ष- गुप्त शत्रुओ से सावधान रहिये कोई आपका काम बिगाड़ने की कोषिष करेगा. अपनी आंखों का ध्यान विषेष रूप से रखें. गर्म वस्तुओ को खाते समय ध्यान रखिये.

उपाय- सप्तशती का पाठ करें

वृषभ- (नाम अक्षर- इ,उ,ए,ओ,वा,वी,वू,वे,वो)

सकारात्मक पक्ष- अत्यधिक खर्च आपको विचलित कर सकता है. मनोनूकूल परिणाम मिलने में संदेह रहेगा.मनपसंद उपहार की प्राप्ति संभव है. आपकी छवि एक बड़े नेता,अभिनेता के समान होगी.आप सत्य का साथ देंगे तो बिगड़ी बन सकती है.शेयर मार्केट में इनवेस्ट करने का मन बनेगा.

नकारात्मक पक्ष- थकान भरी यात्रा करना पड़ सकती है. पैरों में तकलीफ बढ सकती है. काम बिना विवादों के नहीं बनेंगे , परन्तु आपकी शिक्षा यहां काम आ सकती है.

उपाय- दुर्गा 32 नाम पढिये

मिथुन- (नाम अक्षर- का,की,कु,घ,ड,छ,क,को,हा)

सकारात्मक पक्ष-आय के स्रोत में वृद्धि होगी.कोई उपलब्धि आपके खाते में जुड़ सकती है.मूवी देखने की योजना बना सकते हैं.शॉपिंग करने की योजना बलवती रहेगी.आपका व्यक्तित्व निखरा हुआ होगा.भ्रमण मनोरंजन के अवसर प्रचुर मात्रा में आयेंगे.

नकारात्मक पक्ष-बोलते समय शब्दों का चयन उत्तम करें अन्यथा बात बिगड़ सकती है. जीवन साथी से मतभेद बड़ सकते है. वाहन चलाते समय उसके सायलेन्सर से उचित दूरी रखिये पैर जल सकता है.

उपाय- दुर्गा कवच का पाठ करें

कर्क- (नाम अक्षर- ही,हू,ही,हो,डा,डी,डू,डे,डो)

सकारात्मक पक्ष- पिता से किसी प्रकार की मदद मिल सकती है.व्यापार व्यवसाय में सफलता मिलेगी.आपकी किसी मनोकामना की पूर्ती संभव है.लाभ के नये अवसर की प्राप्ति होगी.मोक्ष से संबंधित ज्ञान की प्राप्ति संभव है. न्यायालयीन प्रकरणों मे मामला पक्ष में रहेंगा.

नकारात्मक पक्ष- किसी कारण से अस्पताल जाने की संभावना है. जूते पहन कर बाहर निकलें. घर पा कुछ खर्च होने की संभावना है.

उपाय- श्रीं श्रिये नमः मत्र का पाट करें

सिंह-(नाम अक्षर- मा,मी,मू,मे,मो,टा,टी,टू,टे)

सकारात्मक पक्ष- किसी धर्म गुरू से मुलाकात होने की सांभावना है.ससुराल के लोगों से मुलाकात हो सकती है.अपनी प्रभुता एवं अधिकारों का प्रयोग कर सकते है.सरकारी पक्ष मजबूत रहेगा काम बन जायेगा. बड़े भाई बहन का सहयोग बना रहेगा.महत्वकांक्षा बढे़गी और उसकी पूर्ति होगी. विरोधियों पर जीत मिलेगी. उत्साह व आक्रामकता बनायें रखिये.

नकारात्मक पक्ष-पुराने पेट संबंधी रोग के उभरने की संभावना है. लेनदेन के प्रकरणों में सावधानी रखें.

उपाय- गणेश जी के मत्र का पाठ करें

कन्या- (नाम अक्षर- टो,पा,पी,पू,ष,ण,ठ,पे,पों)

सकारात्मक पक्ष- किसी धार्मिक स्थान के प्रवास पर जाने योग है.भाग्य अचानक कुछ दिलावा सकता है.उच्चाधिकारी एवं प्रतिष्ठित जनो से मेलजोल संपर्क उत्तम रहेगा. राजनीति से जुड़े लोगो के लिये समय उत्तम है.मेहनत का फल मिलेगा भगवान की कृपा आपके उपर बढैगी , आपको किसी घटना का पूर्वाभास होगी.

नकारात्मक पक्ष- जलीय रोगों के होने की संभावना प्रबल है. लेन देन में सावधनी बरतने की आवष्यकता है. एसिडिटी बढने की संभावना है. वाहन आदि का प्रयोग सावधानी से करें.अकारण तनाव को टालना ही हितकर रहेगा.

उपाय- विष्णु सहस्त्रनाम पढें

तुला-(नाम अक्षर- रा,री,रू,रे,रो,ता,ती,तू,ते,)

सकारात्मक पक्ष-जीवन साथी के साथ गुजारने के लिये समय निकालेंगे. रोजगार के क्षैत्र में सफलता मिलेगी. पूजा पाठ में मन लगेगा देव दर्षन भी हो सकते है.लाभ के नये अवसर की प्राप्ति होगी.अचानक किसी तरह से धन लाभ होगा. बड़े भाई बहन का सहयोग बना रहेगा. लोन मिल सकता है.

नकारात्मक पक्ष-दुघर्टना, चोट आदि का भय रहेगा.किसी वस्तु के गुम हो जाने से मन खिन्न रहेगा. गले से संबंधित रोग बढने की संभावना है.

उपाय- श्री सूक्त का पाठ करें.

वृश्चिक- (नाम अक्षर- तो,ना,नी,नू,न,नो,या,यी,यू)

सकारात्मक पक्ष-भागीदारी के कार्यों में सफलता मिलेगी.देषाटन की योजना बना सकते है. गुप्त विद्याओं में रूचि बढ़ने की संभावना प्रबल है. नैतृत्व क्षमता विकसित होगी , शिक्षा में सफलता मिलेगी , जन संबंधों को लाभ मिलेगा.

नकारात्मक पक्ष- लोग आपके सम्मान को ठेस पंहुचा सकते है.आपनों की चिंता से मन दुःखी रहेगा. लडाई झगडों से दूर रहने का प्रयास करिये. अनायास ही कोई शत्रु सामने आयेगा.

उपाय- सप्तशती का पाठ करें

धनु- (नाम अक्षर- ये,यो,भा,भी,भू,ध,फा,ढा,भे)

सकारात्मक पक्ष- बुद्धि कौषल दिखाने का अवसर प्राप्त हो सकता है. आपके अनुयायीयों की संख्या में वृद्धि होगी. अविवाहितों को विवाह के प्रस्ताव प्राप्त होंगे. यात्रा होगी , जीवन साथी की यात्रा का योग बनेगा. साहस पराक्रम में वृद्धि होगी.

नकारात्मक पक्ष- आलस्य बढ़ने की संभावना है जो कि हानि होने के योग बताता है. अपने सामान को सम्हाल कर रखें गुम होने की संभावना है. अनिर्णय की स्थिति निर्मित होगी.

उपाय- महिषासुर मर्दिनी का पाठ करें

मकर-(नाम अक्षर- भो,जा,जी,खी,खू,खा,खो,गा,गी)

सकारात्मक पक्ष- जनहित के मामलों में सफलता मिलेगी. घर में कोई सदस्य बढ़ सकता है.माता की चिंता कम होगी. प्रेम प्रसंग में सफलता मिलेगी. भ्रमण एवं मनोरंजन में समय व्यतीत होगा.मामा या मौसी की तरफ से कोई गिफ्ट मिलेगा. रूके हुए सरकारा कार्यो में सफलता मिलेगी. वाणी पर नियंत्रण अत्यंत आवश्यक है.

नकारात्मक पक्ष- मनोनूकूल परिणाम मिलने में संदेह रहेगा.अकारण बनने वाले दबाब से मन खिन्न रहेगा.

उपाय- सप्तशती का पाठ करें

कुभ-(नाम अक्षर- गू,गे,गो,सा,सी,सू,से,सो,दा)

सकारात्मक पक्ष- मेंहनत का फल आपको जरूर मिलेगा धैर्य से काम लीजिये.आपकी हिम्मत एवं पराक्रम में वृद्धि होगी.संचार माध्यम से कोई आनंद दायक सूचना मिलेगी.परिवार के अंदर सामंजस्य का वातावरण रहेगा.आपके हृदय में बसा कलाकार बहार आने की कोषिष करेगा. मेडिटेषन कर सकते है , सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी लाभ होगा. धार्मिक कार्यो या ब्राम्हणी कर्मो में सफलता मिलेगी.

नकारात्मक पक्ष- अपने स्वस्थ्य का ध्यान रखें. खर्च होगा.

उपाय- दुर्गा सप्तशती का पाठ दो बार दिन में पढियें

मीन- (नाम अक्षर- दी,दू,थ,झ,ञ,दे,दो,चा,ची,)

सकारात्मक पक्ष- आपकी वाणी सबका मन मोह लेगी. रूका हुआ धन वापस मिल सकता है. अधिनस्तों का सहयोग उत्तम होगा. छोटे भाई-बहनों का सहयोग उत्तम होगा. कार्य स्थल पर जीवनसाथी को ले जाने से भग्य में वृद्धि होगी. धार्मिक यात्राओं से भाग्य वृद्धि होगी.

नकारात्मक पक्ष-पैरो का दर्द बढ सकता है. आलस्य बढ सकता है. खर्च से चिंतित रहेगें.

उपाय- रामरक्षा स्त्रोत का पाठ करें दिन में सात बार

*प.चंद्रशेखर नेमा"हिमांशु"*

9893280184,7000460931

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।