गुड़ी पड़वा और नवरात्र के आग़ाज़ के साथ नया संवत् अस्तित्व में आएगा.  इसका नाम ‘परिधावी’ होगा. संवत् 2076 के राजा शनि और मंत्री सूर्य होंगे. शनि के राजा पद पर विराजने से राजनीति में विचित्र स्थितियां निर्मित होंगी. शनि के राजा होने से आध्यात्म और योग के प्रसार में इज़ाफ़ा, राजनेताओं में फूट अवसरवादिता दृष्टिगोचर होगी. शोषितों को अपनी अहमियत दर्ज कराने का अवसर मिलेगा. दलित नेताओं का वर्चस्व बढ़ेगा. चुनाव के परिणाम सर घुमा देंगे. सूर्य के मंत्री होने से नेताओं और अधिकारियों का जनता के प्रति व्यवहार अजीब होगा.

अमानवीय घटनाएँ बढ़ेंगी. व्यापार में लाभ होगा. नीयत ख़राब होगी. आर्थिक अपराध और ऑनलाइन फ़्रॉड बढ़ेगा. चुनाव में अनैतिक कर्म का इस्तेमाल होगा. दोस्त सहसा प्रतिद्वंदी हो जायेंगे. नीतियाँ और मूल्य ताक पर नज़र आयेंगे. अनाज की अच्छी उपज से अल्पकाल के लिए भावों में बेहद मामूली कमी दर्ज होगी. नवसंवत् में वर्ष प्रवेश लग्न कर्क और द्रवेश सूर्य होने से राजनीतिक चाल से जनता बँट जाएगी और आपसी प्रेम में कमी होगी. सुखेश पद पर शुक्र के क़ाबिज़ होने से स्त्रियों की सफलता में वृद्धि होगी. नारी शक्ति की उपलब्धियों का चारो ओर बोलबाला होगा.  

बुध के धान्याधीश होने से राजा का डर नष्ट हो जाएगा. आनन्द में वृद्धि होगी. चने की पैदावार अच्छी होगी. पश्चिम धान्येश के पद पर चंद्रमा के आसीन होने से सरसों, ज्वार, बाजरा, गेहूँ और चावल की फ़सल उत्तम रहेगी. दूध में वृद्धि होगी. मेघेश पद पर शनि के आसीन होने से नेताओं की चूलें हिलेंगी. उनकी पेशानी पर बल पड़ेंगे. दवाओं पर ख़र्च बढ़ेगा. जनता बेचैन रहेगी.  शनि के मारकेश होने से दुर्घटनाओं से हानि होगी. रसेश शुक्र के कारण फलों, फूलों, पर्फ़्यूम्स और डिज़ाइनर वस्त्रों का कारोबार अच्छा रहेगा. बुध के नीरशेष होने से अजीब अजीब फ़ैशन प्रचलन में आएगा. शनि के कारण सब्ज़ियां महँगी होंगी. धार्मिक नेताओं की मुसीबत इस साल भी कम नहीं होगी. 

शेयर बाजार- शेयर बाजार में कुछ गिरावट के पश्चात बाजार में चढ़ाव साफ़ नज़र आएगा. पर अचानक से पश्चिमी देशों के बाज़ारों में गिरावट से भारत के शेयर बाजारों पर भी कुछ समय के लिए ही सही काले बादल उमड़ते घुमड़ते नज़र आयेंगे. म्यूचूअल फ़ंड की NAV में कुछ इज़ाफ़ा तत्पश्चात थोड़ी गिरावट दर्ज होगी. सरकारी बैंकों के शेयरों के भाव में वृद्धि सम्भव. 

राजनैतिक गलियारों से- संवत् 2076 में चुनाव के परिणाम सबको हैरान कर देंगे. लोकसभा चुनाव के परिणाम से कई लोगों के राजनैतिक पर सवालिया निशान लग जाएगा. 50-60% सांसदों के चेहरे बदल जाएंगे. कई नामचीन व्यक्ति  की गंभीर स्वास्थ्य समस्या या अवसान से लोग स्तब्ध रह जायेंगे. धनु के शनि के कारण  नैतिक मूल्यों का सत्यानाश और विवेक का ह्रास होगा. राजनीति इस वर्ष भी स्वार्थी और बेपेंदी के लोटे की तरह नज़र आएगी. राजनीति से नैतिकता, सेवा, आदर्श, शुचिता, तहज़ीब, सम्मान और जनसेवा के उतरते हुए मुलम्मे से जनता में सिहरन होगी. कई लोकप्रिय नेता अप्रिय हो जाएँगे. संवत 2076 के मंत्री पद पर सूर्य  के आसीन होने से नेता उदण्ड और अधिकारी भयभीत नज़र आयेंगे. नए और मध्यम दर्जे के नेता अहमियत पायेंगे और पुराने दिग्गज निपट जायेंगे. झूठ का बोलबाला होगा. जनता  राजनैतिक चाल बाज़ियों की शिकार बनती नज़र आएगी. कई पुराने दोस्त दोस्ती भूल जायेंगे और दूसरी तरफ़ आश्चर्य जनक रूप से कई पुराने राजनैतिक प्रतिद्वंद्वी गलबहियां करते नज़र आयेंगे. किसी बड़े राज़ नेता का दंभ चकनाचूर हो जाएगा.

बाजार का अर्थगणितबाज़ार के लिए 2019 का साल कोई विशेष राहत नहीं देगा. नए संवत् 2076 यानी प्रमादी में सूर्य के मंत्री होने से अनाज की पैदावार में वृद्धि, कुछ व्यापारियों को प्रचुर लाभ, लूटपाट से कष्ट होगा. शुक्र के आयेश होने से सौंदर्य प्रसाधन के व्यापार बढ़ेगा. रोमांटिक फ़िल्मों को बड़ी सफलता मिलेगी. चांदी में मामूली गिरावट के बाद अच्छी  तेज़ी दर्ज होगी. व्यापारी क़ानूनी शिकंजों और एजेंसियों की मुट्ठी में छटपटाते दिखाई देंगे. प्रॉपर्टी बाज़ार दिशाहीन रहेगा. कई बड़े बिल्डर परिस्थितियों के मारे नज़र आयेंगे और क़ानून के कोड़े खायेंगे.  

- सदगुरु स्वामी आनन्द जी

साभार  hindi.news room post dot com

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।