मुंबई. लोकसभा के महासंग्राम में कई फिल्मी सितारे अपनी किस्मत आजमाने जा रहे हैं. लोकसभा चुनाव का शंखनाद होने के साथ ही भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस समेत कई राजनीतिक दलों ने बॉलीवुड सितारों को चुनावी समर में उतारने का सिलसिला शुरू कर दिया है. विभिन्न राजनीतिक दल लोकसभा की जंग में अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए फिल्मी सितारों को चुनावी समर में उतारने के लिए जी जान से जुट गए हैं. राजनीतिक पार्टियां बॉलीवुड सितारों को या तो उम्मीदवार के तौर पर उतार रही हैं या फिर उन्हें स्टार प्रचारक के तौर पर पेश कर रही है.

बॉलीवुड सितारों

आम तौर पर माना जाता है कि फिल्मी कलाकार चुनावी सभाओं में केवल भीड़ जुटाने में सक्षम होते हैं लेकिन यह धारणा अब टूटने लगी है. फिल्मी सितारे भीड़ जुटाने के अलावा कुछ लोगों के लिए 'रोल मॉडल' भी होते हैं और जनता उनकी बातों का अनुसरण करती है. इसी को देखते हुए विभिन्न राजनीतिक दलों ने सितारों को चुनावी समर में उतारा है ताकि उनकी जीत थोड़ी आसान हो जाए.

भाजपा के टिकट पर ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी , जया प्रदा ,केन्द्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो , केन्द्रीय मंत्री और अभिनेत्री स्मृति इरानी ,भोजपुरी सिनेमा के सुपरस्टार रवि किशन और दिनेश लाल यादव निरूहुआ चुनावी अखाड़े में उतर रहे हैं. वहीं कांग्रेस के टिकट पर राज बब्बर ,रंगीला गर्ल उर्मिला मतोड़कर , तृणमूल कांग्रेस से बंगला और हिंदी फिल्मों की मशहूर अभिनेत्री मुनमुन सेन , शताब्दी राय , नुसरत जहां और मिमी चक्रवर्ती लोकसभा के महासंग्राम में अपनी किस्मत आजमा रही है. लोक जनशकित पार्टी (लोजपा) की ओर से केन्द्रीय मंत्री राम विलास पासवान के पुत्र और सिने अभिनेता चिराग पासवान एक बार फिर चुनावी दंगल में ताल ठोकते नजर आयेंगे. बॉलीवुड के शॉटगन शत्रुध्न सिन्हा एक बार फिर चुनावी समर में उतर रहे हैं. शत्रुध्न सिन्हा कांग्रेस के टिकट पर पटनासाहिब सीट से संभावित उम्मीदवार हैं. जाने माने चरित्र अभिनेता प्रकाश राज भी निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनावी समर में अपनी सियासी पारी का आगाज कर रहे हैं.

बॉलीवुड सितारों

हेमा मालिनी एक बार फिर मथुरा संसदीय सीट से भाजपा के टिकट पर चुनाव मैदान में उतर रही हैं. वर्ष 2014 में भी हेमा मालिनी ने मथुरा सीट से लोकसभा का चुनाव लड़ा था. हेमा के सामने राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) के जयंत चौधरी थे. ऐसे में कांटे की टक्कर मानी जा रही थी लेकिन ब्रजवासियों ने हेमा मालिनी को जमकर वोट दिए जिसके कारण हेमा मालिनी ने अपने प्रतिद्वंदी जयंत चौधरी को उनके गढ़ में तीन लाख से ज्यादा वोटों से हराया.

जानी मानी अभिनेत्री जया प्रदा हाल ही में भाजपा में शामिल हुयी है. जया प्रदा रामपुर सीट से चुनाव लड़ने जा रही हैं. जया प्रदा का मुकाबला समाजवादी पार्टी (एसपी) के कद्दावर नेता आजम खान से होगा. जया प्रदा ने वर्ष 1994 में राजनीति में कदम रखा और पार्टी के संस्थापक एनटी रामाराव के निमंत्रण पर तेलुगु देशम पार्टी में शामिल हुईं. वर्ष 1995 में आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री बने चंद्रबाबू नायडू के साथ मतभेद के बाद, उन्होंने पार्टी छोड़ दी और समाजवादी पार्टी में शामिल हो गयी. वर्ष 2004 में जयाप्रदा आम चुनाव के दौरान उत्तर प्रदेश में रामपुर निर्वाचन क्षेत्र से लोकसभा के लिए चुनी गईं और 2009 में फिर से चुनी गईं. वर्ष 2014 में जया प्रदा ने राष्ट्रीय लोक दल के टिकट पर बिजनौर से चुनाव लड़ा था लेकिन इस बार वह जीत हासिल नही कर सकीं थी.

बॉलीवुड सितारों

केन्द्रीय मंत्री और जाने माने पार्श्वगायक बाबुल सुप्रियो एक बार फिर आसनसोल संसदीय सीट से अपनी किस्मत आजमाने जा रहे हैं. वर्ष 2014 के चुनाव में बाबुल सुप्रियो ने तृणमूल कांग्रेस प्रत्याशी डोला सेन को पराजित किया था. इस बार के चुनाव में बाबुल सुप्रियो की टक्कर बांकुरा सीट से निवर्तमान सांसद और तृणमूल कांग्रेस प्रत्याशी मुनमुन सेन से होगी. भाजपा के टिकट पर केन्द्रीय मंत्री और छोटे पर्दे की मशहूर अभिनेत्री स्मृति इरानी एक बार फिर से अमेठी संसदीय सीट से चुनाव लड़ने जा रही है जहां उनका मुकाबला कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से होगा. स्मृति इरानी ने पिछले आम चुनाव में भी अमेठी सीट से चुनाव लड़ा था लेकिन उन्हें राहुल गांधी से शिकस्त मिली थी.

भोजपुरी सिनेमा के सुपरस्टार रविकिशन भाजपा के टिकट पर जौनपुर से सत्ता के संग्राम में उतर रहे हैं. रवि किशन ने पिछली बार जौनपुर से ही कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ा था लेकिन विजयी नही हुए. भोजपुरी सिनेमा के एक और सुपरस्टार निरहुआ हाल ही में भाजपा में शामिल हुये हैं और आजमगढ़ सीट से चुनावी समर में ताल ठोकते नजर आयेंगे. निरहुआ का मुकाबला उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा प्रत्याशी अखिलेश यादव से होगा.

बॉलीवुड सितारों

बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता राज बब्बर ने रियल लाईफ के साथ-साथ रियल लाइफ में भी खूब राजनीति की है. राज बब्बर अबतक चार बार लोकसभा चुनाव जीत चुके हैं. राज बब्बर ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत समाजवादी पार्टी (सपा) से की थी. हालांकि इन दिनों वह कांग्रेस में है और फतेहपुर सीकरी से चुनाव लड़ने जा रहे हैं. राज बब्बर ने वर्ष 2014 में गाजियाबाद संसदीय सीट से चुनाव लडा था लेकिन उन्हें पराजय का सामना करना पड़ा.

उर्मिला मतोड़कर हाल ही में कांग्रेस में शामिल हुयी है. उर्मिला मतोंडकर उत्तर मुंबई सीट से चुनाव लड़ रही हैं. उर्मिला इस सीट से भाजपा के निवर्तमान सासंद गोपाल शेट्टी के खिलाफ चुनाव लड़ेंगी. टॉलीवुड अभिनेत्री नुसरत जहां पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस के टिकट पर बसीरहाट संसदीय सीट जबकि शताब्दी राय वीरभुम और मिमी चक्रवर्ती जादवपुर से चुनाव लड़ रही हैं. प्रकाश राज लोकसभा चुनाव निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में लड़ेंगे. प्रकाश राज ने बेंगलुरु सेंट्रल संसदीय सीट से चुनावी मैदान में उतरने की घोषणा की है.

सिल्वर स्क्रीन पर तो बॉलीवुड सितारों ने कई बार राजनीति की है लेकिन असल जिंदगी में भी वह इससे अछूते नहीं है. बॉलीवुड के दिग्गज कलाकार विभिन्न राजनीतिक पार्टियों में शामिल होकर जनता के बीच अपनी उपस्थिति दर्ज कराते रहे हैं. इनमें पहले सुपरस्टार राजेश खन्ना, महानायक अमिताभ बच्चन, ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी, सुनील दत्त, हीमैन धर्मेन्द्र, शॉटगन शत्रुघन सिन्हा, विनोद खन्ना, राज बब्बर, जया प्रदा, मौसमी चटर्जी ,गोविन्दा आदि प्रमुख है.

लोकसभा के अलावा बॉलीवुड के कई सितारों ने राज्य सभा में भी उपस्थिति दर्ज करायी है. इनमें पृथ्वी राज कपूर, नरगिस दत्त, दिलीप कुमार, वैजयंती माला, लता मंगेशकर, मृणाल सेन, श्याम बेनेगल, शबाना आजमी, रेखा, जया बच्चन, जावेद अख्तर, दारा सिंह आदि शामिल हैं. बॉलीवुड के पहले सुपर स्टार राजेश खन्ना ने समाज सेवा के लिए राजनीति में भी कदम रखा और वर्ष 1991 में कांग्रेस के टिकट पर न्यू दिल्ली की लोकसभा सीट से चुने गए. वहीं महानायक अमिताभ बच्चन भी राजनीति की चमक से अपने आप को दूर नहीं रख सके. अपने मित्र राजीव गांधी के आग्रह पर अमिताभ ने वर्ष 1984 में राजनीति में प्रवेश किया और इलाहाबाद से सांसद चुने गए. हालांकि राजनीति की डगर अमिताभ को ख़ास रास नहीं और केवल तीन वर्ष के बाद ही उन्होंने राजनीति से अलविदा कह दिया. अमिताभ इन दिनों सक्रिय राजनीति से बाहर हैं.

एंटी चरित्र को नया आयाम देने वाले सुनील दत्त भी राजनीति में उतरे. दत्त साहब ने वर्ष 1984 में मुम्बई उत्तर पश्चिम सीट से चुनाव जीतकर लोकसभा में प्रवेश किया था. इसके बाद उन्होंने इस सीट पर वर्ष 1989 और 1991 में भी अपना कब्ज़ा बरकरार रखा. सुनील दत्त ने वर्ष 1999 और वर्ष 2004 में भी लोकसभा चुनाव में जीत हासिल की थी.

बॉलीवुड के हीमैन धर्मेन्द्र भी रियल लाइफ में राजनीति से अछूते नहीं रहे. वर्ष 2004 में धर्मेन्द्र ने राजनीति में प्रवेश किया और आम चुनाव में बीकानेर संसदीय क्षेत्न से चुनाव लड़कर जीत हासिल की. बॉलीवुड के शॉटगन सिन्हा ने भी फिल्मों में कई भूमिकाएं निभाने के बाद समाज सेवा के लिए राजनीति में प्रवेश किया और भारतीय जनता पार्टी की टिकट पर लोकसभा सभा सदस्य बने और स्वास्थ्य और जहाजरानी मंत्रालय का कार्यभार संभाला. वर्ष 2009 और वर्ष 2014 में शत्रुध्न सिन्हा भाजपा के टिकट पर पटना साहिब से सांसद चुने गए. इसी तरह बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता विनोद खन्ना भी 1997 में भाजपा में शामिल हुए और उन्होंने पंजाब की गुरदासपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़कर जीत दर्ज की. वर्ष 2004 और वर्ष 2014 में एक बार फिर उन्होंने इसी सीट से जीत दर्ज की. गोविन्दा भी लोकसभा का प्रतिनिधत्व कर चुके हैं.

2014 के लोकसभा चुनाव में राजनीतिक दलों ने जीत के लिए बॉलीवुड स्टार और सेलेब्रिटीज पर दांव खेला. अलग-अलग दल से कई सितारे सियासी मैदान में उतरे. सबने जीत के दावे किए, लेकिन चुनावी रणभूमि पार कर कुछ ही सूरमा संसद तक पहुंच सके. वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा के टिकट पर हेमा मालिनी, शत्रुध्न सिन्हा, विनोद खन्ना, परेश रावल, बाबुल सुप्रीयो, किरण खेर, मनोज तिवारी और स्मृति इरानी को उतारा था वहीं कांग्रेस भी इस चुनाव में अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी और राज बब्बर ,भोजपुरी फिल्मों के महानायक कुणाल सिंह,रवि किशन, नगमा को चुनावी दंगल में उतारा.

जनता दल यूनाईटेड (जदयू) ने प्रकाश झा, तृणमूल कांग्रेस ने मुनमुन सेन, लोजपा की ओर चिराग पासवान, आम आदमी पार्टी (आप) की ओर से पूर्व मिस इंडिया और टीवी एकट्रेस गुल पनाग चुनावी समर में हिस्सा लिया. इसके अलावा जावेद जाफरी ,बप्पी लाहिड़ी ,राखी सावंत और महेश मांजरेकर ने भी चुनावी अखाड़े में किस्मत आजमायी थी. हेमा मालिनी ,शत्रुघ्न सिन्हा ,विनोद खन्ना, परेश रावल ,बाबुल सुप्रियो ,किरण खेर,मनोज तिवारी ,चिराग पासवान और मुनमुन सेन को विजयश्री मिली जबकि अन्य को शिकस्त का सामना करना पड़ा था. अब यह देखना दिलचस्प होगा कि वर्ष 2019 के लोकसभा के महासंग्राम में कितारे सितारे संसद में चमक पाते हैं.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।