नई दिल्ली. एयर इंडिया का रणनीतिक विनिवेश नहीं हो पाने के बाद अब सरकार फिलहाल उसकी घाटे वाली इकाइयों को बेचने की तैयारी कर रही है. इनमें होटल कॉरपोरेशन का नंबर सबसे पहले आ सकता है. होटल कॉरपोरेशन के होटल तथा कुछ अन्य संपत्तियां बेचकर एयर इंडिया अपनी कुछ देनदारियां चुकाएगी.

दिल्ली में होटल कॉरपोरेशन का होटल सेंटॉर है. जबकि श्रीनगर में भी एक होटल है. इसके अलावा दिल्ली एयरपोर्ट पर एक लाउंज तथा मुंबई एयरपोर्ट पर फ्लाइट किचन है. इनमें तकरीबन 800 कर्मचारी काम करते हैं.

बिक्री से पहले इन कर्मचारियों के भविष्य की सुरक्षा के इंतजाम किए जाएंगे. इस समय होटल कॉरपोरेशन करीब 55 करोड़ रुपये के घाटे में चल रहा है. घाटा लगातार बढ़ता जा रहा है. इसलिए इसकी परिसंपत्तियों को बेचना ही मुफीद समझा जा रहा है. होटल कॉरपोरेशन का मुंबई स्थित सेंटॉर होटल पहले ही बेचा जा चुका है. इसे वाजपेयी सरकार के समय हुए विनिवेश के तहत सहारा समूह ने खरीदा था.

एयर इंडिया के सूत्रों के मुताबिक दिल्ली एयरपोर्ट परिसर स्थित सेंटॉर होटल को बेचने की जरूरत इसलिए भी है क्योंकि यह उस स्थान पर स्थित है जिसका इस्तेमाल एयरपोर्ट के विस्तार के तहत चौथे रनवे के निर्माण के लिए किया जाना है. जाहिर है दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट्स लिमिटेड (डायल) को इस जगह की जरूरत है. सेंटॉर की जमीन बेचकर एयर इंडिया डायल की देनदारी चुकाना चाहती है.

दूसरी ओर, जम्मू एवं कश्मीर की राजधानी श्रीनगर स्थित होटल को जम्मू एवं कश्मीर सरकार को सौंपने पर इसलिए विचार किया जा रहा है, क्योंकि यह होटल राज्य सरकार की ही जमीन पर बना हुआ है. इस जमीन को होटल कॉरपोरेशन ने कभी लीज पर लिया था. मुंबई एयरपोर्ट पर चल रहे फ्लाइट किचन को या तो एयर इंडिया स्वयं अधिग्रहीत कर लेगी अथवा इसे बंद कर दिया जाएगा.

एयर इंडिया पर 55,000 करोड़ रुपये से अधिक के असाधारण कर्ज को देखते हुए सरकार ने 2017 में इसकी 76 फीसद इक्विटी के रणनीतिक विनिवेश का सैद्धांतिक फैसला किया था. जिसके तहत एयर इंडिया की पांच सब्सिडियरी कंपनियों एयर इंडिया इंजीनियरिंग सर्विसेज लिमिटेड (एआइईएसएल), एयर इंडिया एयर ट्रांसपोर्ट सर्विसेज लिमिटेड (एआइएटीएसएल), एयर इंडिया एक्सप्रेस, अलायंस एयर तथा होटल कॉरपोरेशन आफ इंडिया (एचसीआइ) को बेचा जाना था. लेकिन कोई खरीदार सामने नहीं आने से मामला ठंडा पड़ गया. इसके बाद सरकार ने एयर इंडिया के कर्ज में से 29,000 करोड़ रुपये की भरपाई की जिम्मेदारी अपने ऊपर ले ली थी.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।