नई दिल्ली. रामलीला मैदान में भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक शुरू हो गई है. दो दिन तक चलने वाली इस बैठख में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह पूरे देश से आए हजारों कार्यकर्ताओं को जीत का मंत्र देंगे. यहां सरकार की उपलब्धियों के बखान और विपक्षी दलों को कठघरे में खड़ा करने के साथ-साथ कार्यकर्ताओं का मनोबल भी बढ़ाया जाएगा. दो दिनों में राज्यों पर भी अलग-अलग चर्चा होगी.

प्रदेश नेतृत्व को निर्धारित समय में कामकाज का पूरा ब्यौरा दिया जाएगा. ध्यान रहे कि कुछ ही दिन पहले शाह ने लोकसभा चुनाव की तैयारियों के लिए 17 कमेटी भी बनाई है. राज्यों के प्रभारियों और सह प्रभारियों की नियुक्ति भी हो चुकी है. इस दो दिवसीय परिषद सभी को जीत के मंत्र के साथ चलने का निर्देश दिया जाएगा और 2014 से भी बड़ी जीत का संकल्प भी दोहराया जाएगा.

राष्ट्रीय अधिवेशन के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए अमित शाह ने भाजपा सरकार की उपलब्धियों को गिनाते हुए कहा, '2019 का चुनाव भाजपा के लिए बहुत मायने रखता है. हमारी सरकार ने गरीबों के लिए कई कल्याणकारी योजनाएं दी हैं. यह चुनाव भारत के लिए लोगों के लिए भी महत्वपूर्ण है. 2019 का चुनाव दो विचारधाराओं के बीच का युद्ध है.' यूपी में 2014 जैसी सलफता दोहराने का दावा करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि इस बार उनकी पार्टी यहां 74 सीटें जीतेगी.

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि वह उत्तर प्रदेश में अपनी पार्टी के लोगों के साथ लगातार संपर्क में हैं. उन्होंने कहा, 'मैं यह निश्चित रूप से कह सकता हूं कि इस बार हमारी सीटों की संख्या बढ़कर 74 हो सकती है लेकिन यह 72 से कम नहीं होगी.' अमित शाह ने कहा, 'हमारी सरकार ने महंगाई को काबू करने का काम किया है. हमने देश की अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाया है.'

अमित शाह के भाषण की बड़ी बातें-

-अमित शाह: 2019 का चुनाव फिर से भाजपा की सरकार बनेगी. देश की जनता पीएम मोदी के साथ चट्टान की तरह खड़ी है. देश ही नहीं दुनिया में भी कोई ऐसा नेता नहीं है जो मोदी जी की लोकप्रियता को टक्कर दे सके.

- उत्तर प्रदेश में बुआ-भतीजे का गठबंधन कोई गठबंधन नहीं है वह सिर्फ ढकोसला है. विधानसभा चुनाव में भी हमारे खिलाफ सपा और कांग्रेस ने गठबंधन किया था लेकिन जनता ने उनका क्या किया सब जनते हैं.

-एक ही परिवार ने एक ही पार्टी ने देश में 55 साल तक शासन किया है. इस शासन में 50 करोड़ ऐसे लोग थे जिनके परिवार वाले अगर बीमार हो जाएं. तो उनके पास इलाज के लिए पैसा नहीं था. बड़ी बीमारी के कारण मरने के अलावा उनके पास कोई रास्ता नहीं था. लेकिन मोदी सरकार ने आयुष्मान भारत योजना देकर देश के गरीबों का भला किया है.

-लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में 73 से बढ़कर 74 सीटें भाजपा की होगी. एक दूसरे का मुंह न देखने वाले आज हार के डर से एक साथ आ गए हैं, वो जानते हैं कि अकेले नरेंद्र मोदी जी को हराना मुमकिन नहीं है

2019 का चुनाव भारत के गरीब के लिए बहुत मायने रखता है. स्टार्टअप को लेकर निकले युवाओं के लिए ये चुनाव मायने रखता है, करोड़ों भारतीय जो दुनिया में भारत का गौरव देखने चाहते हैं उनके लिए ये चुनाव मायने रखता है.

2019 का चुनाव वैचारिक युद्ध का चुनाव है. दो विचारधाराएं आमने सामने खड़ी है. 2019 का युद्ध सदियों तक असर छोड़ने वाला है और इसीलिए मैं मानता हूं कि इसे जीतना बहुत महत्वपूर्ण है.

-अटल जी जनसंघ के समय से ही देश की राजनीति के ध्रुव तारे की तरह चमके थे, भाजपा के संस्थापक अध्यक्ष थे. देश के हर कौने में भाजपा को पहुंचाने के लिए अटल जी और आडवाणी जी की जोड़ी ने जो संघर्ष किया है, ऐसा संघर्ष शायद ही हुआ हो

-जिस भारत की कल्पना विवेकानंद जी ने की थी उस भारत को हम मोदी जी के नेतृत्व में बनाने का पूरा प्रयास कर रहे हैं. ये अधिवेशन भारतीय जनता पार्टी के देशभर में फैले कार्यकर्ताओं के लिए संकल्प करने का अधिवेशन है

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।