माता-पिता ने जिसे पढ़ा-लिखा कर बड़ा किया, वही उनका उत्पीड़न भी कर रहे हैं. यह हकीकत बयां करते हैं एसडीएम कोर्ट में आने वाले मामले. दरअसल बड़ी संख्या में बच्चों से प्रताड़ित माता-पिता एसडीएम कोर्ट पहुंच रहे हैं. इसी साल जनवरी से 10 दिसंबर के बीच 55 ऐसे मामले आए, जिनमें बेटे उत्पीड़न के दोषी करार दिए गए. इनमें से 32 मामले ऐसे थे जिनमें प्रताड़ित करने वाले बेटा-बहू ज्यादा पढ़-लिखकर बिजनेस या अच्छी नौकरी कर रहे हैं. इन सभी मामलों में एसडीएम कोर्ट ने आरोपित बेटा-बहू को बेदखली के आदेश दिए हैं. 23 मुकदमों में माता-पिता को प्रताड़ित करने वाले लोग कम पढ़े लिखे थे और छोटी कमाई में थे.

कानपुर में एक नहीं सैकड़ों ऐसे माता पिता हैं, जिन्होंने अपने बच्चों को पढ़ा लिखाकर सफल इंसान बनाया. जब बच्चों की बारी आई तो जिम्मेदारियों से मुंह मोड़ लिया. ऐसे माता-पिता अब आश्रमों में रहने को मजबूर हैं. पढ़े-लिखे लोग मां-बाप की सेवा के बजाय उनकी संपत्ति पर नजरें गड़ाए हैं. यह उनसे बदसलूकी करते हैं और कुछ केसों में तो यह भी तथ्य सामने आए हैं कि हाथ उठाने से भी पीछे नहीं हटते. 

एसएन सेन डिग्री कॉलेज से रिटायर समाजशास्त्र की प्रोफेसर डॉ. मंजू जैन कहती हैं कि माता पिता और बच्चों के बीच दरार की कई वजहें हैं. यह सामाजिक और मनोवैज्ञानिक वातावरण में असंतुलन का नतीजा है. बच्चों पर अनावश्यक दबाव देने के कारण अब वह अपने माता-पिता की परेशानी तक देखने को तैयार नहीं है. कम उम्र से ही बेटों पर पढ़ने-लिखने के लिए बाहर जाने और अच्छा पैसा कमाने का बोझ डाला जाता है. जब वह बड़ा हो जाता है तो उसके दिमाग में अलगाव की भावना विकसित हो चुकी होती है, जिसके कारण वह घर लौटकर नहीं आना चाहता. 

कैसे रोक सकते हैं इस द्वंद्व को 

- अपने बच्चे पर अत्याधिक दबाव डालने से बचें

- बचपन से ही पारिवारिक मूल्यों की जानकारी दें 

- प्रतिस्पर्धा का सामना सरलता से करना सिखाएं 

- परिस्थितियों से लड़ना सिखाएं, मगर सभ्यता से 

- आभास कराएं कि उसके बिना नहीं रह सकते 

- बच्चे के सामने खुद लड़ने से हमेशा बचें

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।