नयी दिल्ली. भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि वह अपनी छवि को लेकर लोगों के बीच बनी धारणा को लेकर अधिक परेशान नहीं हैं. विराट कोहली से जब लोगों के बीच बनी उनकी छवि के बारे में उनका नजरिया पूछा गया तो उन्होंने कहा, 'मैं क्या करता हूं या मैं क्या सोचता हूं, मैं बैनर लेकर पूरी दुनिया को यह नहीं बताने वाला कि मैं ऐसा हूं और आपको मुझे पसंद करने की जरूरत है.

इस तरह की चीजें बाहर होती हैं. इस पर मेरा कोई नियंत्रण नहीं है. यह व्यक्तिगत पसंद है कि आप किसी चीज पर ध्यान लगाना चाहते हो. मेरा ध्यान टेस्ट मैच पर है, टेस्ट मैच जीतने और टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन करने पर.' भारतीय कप्तान ने कहा कि लोग उनके बारे में क्या लिख रहे हैं इसकी उन्हें कोई जानकारी नहीं है. लेकिन उन्होंने जोर देकर कहा कि वह उनके नजरिये का सम्मान करते हैं.

'लोग मेरे बारे में क्या सोचते हैं मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता'

विराट कोहली पर्थ में खेले गए दूसरे टेस्ट के दौरान ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन के साथ मैदान पर बहस कर बैठे थे. जिसके लिए उनकी काफी आलोचना हुई. मशहूर अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने एक फेसबुक पोस्ट लिखकर विराट कोहली को दुनिया का सबसे बेहतरीन बल्लेबाज होने के साथ ही सबसे ज्यादा अभद्र व्यवहार करने वाला क्रिकेटर कहा था. विराट कोहली ने इस बारे में पूछे जाने पर कहा,'मुझे ऐसी किसी भी खबर या लोगों ने क्या कहा इसकी कोई जानकारी नहीं है. क्योंकि मुझे इससे फर्क नहीं पड़ता. सभी लोगों को अपना नजरिया रखने का अधिकार है और मैं इसका पूरा सम्मान करता हूं. मैं सिर्फ अच्छे क्रिकेट पर ध्यान लगाना चाहता हूं और अपनी टीम को जिताने का प्रयास करता हूं. मैं जो करता हूं उसे लेकर मुझे किसी को सफाई देने की जरूरत नहीं है.'

'विराट कोहली ने कहा कि मुझे जो जानते हैं उनसे मेरे बारे में पूछो'

कोच रवि शास्त्री द्वारा जेंटलमैन करार दिए जाने पर विराट कोहली ने कहा,'उन्होंने (शास्त्री) मेरे साथ पर्याप्त समय बिताया है. वह जानते हैं कि मैं किस तरह का व्यक्ति हूं. जो लोग मुझे जानते हैं, आप उनसे मेरे बारे में पूछ सकते हैं. मैं स्वयं इस सवाल का जवाब नहीं दे सकता.' उन्होंने कहा, 'यह अतीत की बात है. यह टेस्ट क्रिकेट है, शीर्ष स्तर पर जब दो बड़ी टीमें एक दूसरे के खिलाफ खेलती हैं तो मैदान पर कुछ चीजें होती हैं.

मुझे लगता है कि उसे वहीं छोड़ दिया जाए और अगले टेस्ट पर ध्यान लगाया जाए. हम बात करने के लिए कोई चीज नहीं ढूंढ रहे थे. जब तक सीमा नहीं लांघी जाती तब तक कोई दिक्कत नहीं है. मुझे यकीन है कि टिम और मैं दोनों समझते हैं कि क्या हुआ और कुछ गैरजरूरी चीज नहीं करना चाहते. हम अपनी टीमों का अच्छी तरह नेतृत्व करना चाहते हैं और अच्छा क्रिकेट खेलना चाहते हैं जो लोग देखना चाहते हैं.'

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।