गुरु की राशि और दृष्टि मॆ मंगल  

मंगल का मीन राशि में गोचर - (23 दिसम्बर से 5 फरवरी 2019)

भारतीय ज्योतिष में मंगल ग्रह पराक्रम, साहस, ताकत, शारीरिक ऊर्जा और अहंकार का कारक,रक्षा और प्रतिरक्षा का कारक  माना गया है,अग्नि तत्व क्रोध लड़ाई मारकाट के विषय मॆ मंगल ग्रह से ही जाना जाता है,इसे मेष और वृश्चिक राशि का स्वामित्व प्राप्त है. यह मकर राशि में उच्च का होता है और कर्क राशि में नीच भाव में होता है. मंगल ग्रह मृगशिरा, चित्रा और धनिष्ठा नक्षत्र का स्वामी है. कुंडली में मंगल के बलवान होने से व्यक्ति में साहस, पराक्रम और ऊर्जा की वृद्धि होती है. वहीं मंगल के निर्बल होने से रक्त और अस्थि संबंधित रोगों का सामना करना पड़ता है.

*गुरु मंगल का राशि परिवर्तन*

-जब कोई ग्रह एक दूसरे की राशि मॆ भ्रमण करते है तब इसे ग्रहों का राशि परिवर्तन कहते है,वर्तमान मॆ गुरु मंगल की राशि वृश्चिक तथा मंगल गुरु की राशि मीन मॆ 45 दिन तक भ्रमण करेंगे,गुरु और मंगल परम मित्र है इनका राशि परिवर्तन अत्यंत शुभ माना जाता है,इस राशि परिवर्तन मॆ गुरु की दृष्टि मंगल पर पड़ रही है,यह परिवर्तन मंगल और गुरु प्रधान राशियों मेष, वृश्चिक,कर्क सिंह,धनु,मीन आदि के लिये अत्यंत शुभ परिणाम देने वाला है.

*45 दिन रुकेंगे मंगल मीन मॆ*

-मंगल के गोचर की अवधि लगभग डेढ़ माह की होती है. क्योंकि यह हर राशि में डेढ़ महीने तक स्थित रहता और फिर राशि परिवर्तन करता है. मंगल ग्रह 23 दिसम्बर 2018 शनिवार  को दोपहर से  मीन राशि में गोचर करेगा और 5 फरवरी 2019 तक इसी राशि में स्थित रहेगा. मंगल के गोचर की इस अवधि में सभी राशियों पर मंगल ग्रह का भिन्न-भिन्न प्रभाव देखने को मिलेगा. आइये जानते हैं मंगल के कुंभ राशि में संचरण का गोचर फल.

*विश्व मॆ शांति वार्ता,आपसी मेलमिलाप का वातावरण तैयार होगा.

* सेना,पुलिस द्वारा रचनात्मक लोगो और समाज के हित के लिये कार्यों मॆ योगदान दिया जायगा.

*दो जलीय तत्व राशियों वृश्चिक और मीन के बीच गुरु और मंगल का राशि परिवर्तन जलीय क्षेत्र मॆ खोज अनुसंधान रचनात्मक कार्यों मॆ वृद्धि का संकेत.

*विश्व के उत्तरी समुद्र के पास स्थित देशों मॆ ज्ञान,अनुसंधान शांति और विकास से जुड़े विशेष कार्यों का योग.

*जलीय क्षेत्र मॆ उसके आसपास काफी शुभ परिणाम प्राप्त होंगे.

*वरिष्ठ ज्ञानी,विद्वान,धर्मउपदेशक

लोगो का विश्व समाज पर प्रभाव पड़ेगा.

*मेष*

मंगल ग्रह आपकी राशि से 12 वे भाव में गोचर कर रहा है, जो सभी प्रकार के व्यय को दिखा रहा है,आध्यात्मिक,धार्मिक यात्रा आदि का योग, इसके फलस्वरुप जीवन में बड़े बदलाव देखने को मिलेंगे. इस दौरान होने वाली उन्नति और वृद्धि से आप खुद हैरान हो जाएंगे. व्यक्तित्व विकास होने से स्वभाव में परिवर्तन होगा. आय में बढ़ोतरी होने की संभावना है,आकर्षक लाभ भी होगा. परिजनों का ध्यान रखें और किसी भी नतीजे पर पहुंचने से पहले अच्छे से सोचें. संवाद की कमी की वजह से आपके और जीवन साथी के बीच ग़लतफहमी हो सकती है. कुछ वक्त अपने परिजनों के साथ बिताएं. कुल मिलाकर मंगल के गोचर से ज्ञान और बुद्धि में वृद्धि होगी. आपकी राह में आने वाली समस्याएं स्वत: ही दूर हो जाएंगी,शारीरिक स्वास्थय का ध्यान रखे.

उपाय: क्रोध से बचें,योग ध्यान करें,पत्नी के स्वास्थय की ओर ध्यान दें.

*वृषभ*

-मंगल ग्रह आपकी राशि से 11वें भाव में संचरण कर रहा है. यह भाव आपकी आय को दर्शाता है,व्यापार मॆ खास लाभ का योग,व्यापार मॆ खास लाभ का योग,साझीदारी के व्यवसाय मॆ लाभ प्राप्ति का योग, परिवार के साथ सैर पर जाने के लिए उत्साहित रहेंगे. पत्नी का व्यवहार सहयोगपूर्ण रहेगा. ऐसे लोगों से सावधान रहें जो आपसे मित्रता करने की कोशिश करें, क्योंकि कुछ लोग आपके भोलेपन का फायदा उठा सकते हैं. परिजनों के प्रति स्नेह का भाव रखें और उनका ख्याल रखें.

उपाय: किसी बगीचे अथवा मंदिर के प्रांगण में मंगलवार के दिन अनार का पौधा लगाएं.

*मिथुन*

मंगल आपकी राशि से 10 वें भाव में गोचर कर रहा है. यह घर आपकी नौकरी,रोजगार,कर्मक्षेत्र मॆ मान सम्मान से जुड़ा है,दशम भाव का मंगल कर्मक्षेत्र मॆ मान सम्मान की वृद्धि कर्मक्षेत्र मॆ विशेष सफलताओं और आपकी पकड़ को दर्शाता है, इस वक्त में इच्छा और लालसा पर आपका नियंत्रण रहेगा. किसी खास अभियान पर जाने या समुद्री और हवाई यात्रा के योग बन रहे हैं. बच्चे आपका प्यार पाने के लिए इच्छुक रहेंगे हालांकि व्यस्त होने की वजह से आप परिजनों और बच्चों को वक्त नहीं दे पाएंगे. प्रियतम का भरपूर सहयोग मिलेगा. सभी से अच्छे संबंध रखें और उन्हें निभाकर चलें. मन में आशावादी भाव रखें और सोचें कि आने वाला कल बेहतर होगा. स्वयं की सुरक्षा का खास ख्याल रखें.

उपाय: मंगलवार के दिन रक्त दान करें अथवा छोटे बालकों को गुड़ और चना बांटे.

*कर्क*

-भाग्य भाव मॆ गुरु की राशि और दृष्टि मॆ मंगल की उपस्थिति सेना,पुलिस,अग्नि विधुत से जुड़े कार्यों मॆ भाग्यवर्धक सफलताओं का योग

हठधर्मी स्वभाव का मंगल ग्रह आपकी राशि से 8वें भाव में गोचर कर रहा है. यह भाव भाग्य,राज्यकृपा तथा ईश्वरकृपा को दर्शाता है,इस दौरान अपने वरिष्ठ लोगो की कृपा प्राप्त करने का प्रयास करें,क्योंकि दिमाग पर ज्यादा भार बढ़ने से आप ठीक तरह से काम नहीं कर पाएंगे. इस वजह से एकाग्रता की कमी होगी. नियमित रूप से योग और ध्यान करें ताकि मानसिक शांति मिले. बेवजह के विचार दिमाग में नहीं लाएं, कुशलता के साथ काम करें. अचानक कोई लाभ हो सकता है. प्रेमिका के साथ अच्छा वक्त बीताएंगे. नई ऊर्जा का संचार होगा,चयन परीक्षा मॆ भाग लेने वालो के लिये श्रेष्ठ समय.

उपाय: चमेली के तेल का दीपक जलाकर बजरंग बाण का पाठ करें.

सिंह 

मंगल ग्रह आपकी राशि से 8वें भाव में संचरण कर रहा है. यह भाव गूढ़ खोज,अनुसंधान और विदेशी संबंधों से जुड़ा हुआ है,किसी अनुसंधान या खोज से मानसम्मान प्राप्ति का योग, विद्यार्थी,वैज्ञानिक,खोजकर्ता,चयन कर्ताओं को उपलब्धि प्राप्त होगी. सड़क दुर्घटना की आशंका है इसलिए तेज गति से वाहन नहीं चलाएं. शांति और सद्भाव के साथ रहें. लोगों को सुनें और उनकी बातों और आचरण का आकलन कर उन्हें जवाब दें.

उपाय: श्री रामरक्षास्तोत्र का नियमित पाठ करें.

कन्या

मंगल ग्रह आपकी राशि से सातवें भाव में गोचर कर रहा है. यह घर पत्नी व्यवसाय और दैनिक  से संबंधित है. यह समय आपकी आजीविका और व्यवसाय के लिए बेहद अच्छा है क्योंकि आपको हर मोर्चे पर सफलता मिलेगी. जिस काम में आप हाथ डालेंगे, अच्छा करेंगे और उस पर आपको गर्व महसूस होगा. अपार सफलता की वजह से आप आसमान की बुलंदियों पर होंगे. हालांकि इस दौरान आप अहंकारी हो जाएंगे. सभी तरह के मुद्दों पर परिचर्चा में सफलता मिलेगी और कामयाबी आपके कदम चूमेगी.

उपाय: घर से बना कर और किसी धार्मिक स्थल पर जाकर गरीबों में भंडारा करें.

तुला

मंगल आपकी राशि से छठवें भाव में प्रवेश कर रहा है. यह घर रोग,ऋण,शत्रु आदि को दर्शाता है. इस गोचर के फलस्वरूप आपकी सभी समस्याओं का समाधान प्राप्त होगा, इस दौरान कई अच्छे मौके मिलने की संभावना है यदि आप प्रयास करें तो इन अवसरों का लाभ उठा पायेंगे,भौतिक सुख सुविधाओं को पाने की तीव्र इच्छा होगी. आमदनी बढ़ने के योग भी हैं. जो छात्र उच्च शिक्षा के लिए विदेश जाने की योजना बना रहे हैं, वे अपनी योजना को कुछ वक्त के लिए बेहतरीनसमय, मन में अचानक से घर की साज-सज्जा करने का विचार आएगा,समय सफलतादायक है.

उपाय: मंगलवार के दिन लाल कपड़ा और लाल मसूर का दान करें.

वृश्चिक

मंगल आपकी राशि से पंचम भाव में गोचर कर रहा है. यह घर शिक्षा,संतान,महत्वपूर्ण उपलब्धि का कारक है,यह मंगल आपको महत्वपूर्ण उपलब्धि शिक्षा संतानपक्ष से उपलब्धि को दर्शा रहा है, गोचर के दौरान आपके स्वभाव में विनम्रता बढ़ेगी क्योंसंभव है कि इस दौरान घर में तनाव व विवाद की स्थिति निर्मित हो,चयन परीक्षा,उच्चस्तरीय शिक्षा,नौकरी के लिये इंटरव्यू आदि मॆ सफलता का योग बनेगा,आय बढ़ेगी और आकर्षक लाभ होगा. ज़मीन और प्रॉपर्टी में निवेश करने की इच्छा होगी. शेयर बाजार से भी जबर्दस्त मुनाफ़े का योग है.

उपाय: मंगल यंत्र की स्थापना करें और उसकी नियमित विधिवत पूजा करें.

धनु

मंगल आपकी राशि से चौथे भाव में गोचर कर रहा है,मकान,वाहन,समाज सुखसुविधा से जुड़ा है, इस समय में जो भी परिस्थितियां बनेंगी आप खुद को उनमें ढाल लेंगे. गुण और कौशल में बढ़ोतरी होगी इसकी छाप आपके काम में देखने को मिलेगी. राह में कई चुनौतियाँ आएँगी लेकिन सभी बाधाओं को पार कर जीत आपकी ही होगी. छोटे भाई-बहन आपके जीवन में कई ख़ुशियाँ लेकर आएँगे. कभी वे आपके मजबूत कंधे बनेंगे तो कभी अच्छे दोस्त. ऐसा कोई मामला जिसकी वजह से आप लंबे समय से संघर्ष करते आ रहे हैं उसका समाधान हो जाएगा. कोर्ट-कचहरी से जुड़े मामलों में जीत के योग हैं. वे लोग जो काफी समय से यात्रा का मन बना रहे हैं उनकी ये कामना पूरी होगी.

उपाय: छोटे भाई-बहनों की यथासंभव सहायता करें और उन्हें कोई भेंट दें.

*मकर*

मंगल आपकी राशि से तीसरे भाव में संचरण कर रहा है. यह घर भाषा, संचार, परिवार और भाई बहन पक्ष को दर्शाता है. मंगल के गोचर से भाई,बहन,मित्र तथा यात्रा से जुड़े कार्यों मॆ सफलता का योग,खेलकूद,सेना,पुलिस तथा जोखिमपूर्ण कार्यों मॆ संलग्न रहने वाले लोगो के लिये बेहतरीन सफलता का समय,भाग्यवर्धक यात्रा होगी.

उपाय: नियमित रूप से श्री हनुमान चालीसा का पाठ करें और बूँदी का भोग लगाएँ.

कुंभ

मंगल आपकी राशि में ही द्वितीय स्थान से  कर रहा है,यह स्थान धन,वाणी,बोलचाल,धन संग्रह आदि का है,भूमि खरीदी अच्छा खानपान,और धन आगमन का योग है,किसी भी प्रकार के लेनदेन व्यापार आदि मॆ जल्दबाजी मॆ की गई बात हानिकारक होगी इस लिये कोई भी निर्णय तुरंत न लें,वरिष्ठ लोगो की सलाह के पश्चात ही कोई कार्य करें,यह समय आपके लिए थोड़ा मुश्किल होगा. इस दौरान स्वभाव उग्र रहेगा और क्रोध के चलते वाणी पर संयम नहीं रहेगा. मंगल के प्रभाव की वजह से आपका व्यवहार हठधर्मी रहेगा. आपके स्वभाव और कर्म के परिणाम स्वरूप आप दुखी हो सकते हैं. इसलिए परिस्थितियों को समझऔर जल्दबाजी में कोई निर्णय नहीं लें.

उपाय: नियमित रूप से श्री हनुमान चालीसा का पाठ करें और बूँदी का भोग लगाएँ.

मीन

मंगल आपकी राशि में ही गोचर कर रहा है और प्रथम भाव में स्थित है,तथा धन और भाग्य का स्वामी होकर लग्नेश और राज्येश गुरु से भाग्य परिवर्तन कर गुरु की पवित्र दृष्टि मॆ है इसीलिये धन,भूमि,मान अधिकार मान सम्मान प्राप्ति का योग,वरिष्ठ लोगो से विशेष कृपा व सहयोग प्राप्त होगा,समय आपके लिए इस दौरान स्वभाव उग्र रहेगा और क्रोध के चलते वाणी पर संयम नहीं रहेगा. मंगल के प्रभाव की वजह से आपका व्यवहार हठधर्मी रहेगा. आपके स्वभाव और कर्म के परिणाम स्वरूप आप दुखी हो सकते हैं. इसलिए परिस्थितियों को समझें और जल्दबाजी में कोई निर्णय नहीं लें. किसी भी कीमत पर जोखिम उठाने का साहस नहीं दिखाएं, नहीं तो परेशानी हो सकती है. मंगल के प्रभाव से रचनात्मक और विनाशकारी दोनों तरह की ऊर्जा मिलेगी लेकिन यह आप पर निर्भर करता है कि इसका सही इस्तेमाल कैसे करा जाए. आत्मविश्वास में बढ़ोतरी होगी लेकिन मंगल के प्रभाव के चलते अपनी राह से भटक या पीछे हट सकते हैं. कुल मिलाकर उग्र स्वभाव रहने की वजह से परेशानी उठानी पड़ेगी, हालांकि समझदारी और हालात को देखकर निर्णय लेने से आप इन परेशानियों से छुटकारा पायेंगे.

उपाय: हनुमान जी के मंदिर जाकर उन्हें 4 केले अर्पित 

पं .चंद्रशेखर नेमा हिमांशु

9893280184,7000460931

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।