सोशल मीडिया पर शेयर एक पोस्ट पिछले एक साल से वायरल है. इस घटना को लेकर आज भी टिप्पणियों और चर्चाओं का दौर जारी है. वाकया यह है कि दिल्ली यूनिवर्सिटी की पढ़ी-लिखी लड़की जिसने जर्मन भाषा में बीए और एमए इसी यूनिवर्सिटी से किया हो उस लड़की के साथ भी शादी के बाद सुहागरात के समय ऐसा बर्ताव, सोचकर भी शर्म आती है कि समाज किस दिशा में जा रहा है.

शादी के बाद अपना अनुभव शेयर करते हुए पीड़ित युवती कहती हैं कि “जब मेरी शादी होती है कि तो मेरी पढ़ाई-लिखाई की कोई कीमत नहीं रह जाती है और मुझे केवल एक औरत होने के तौर पर देखा जाता है. सुहागरात को सफेद तौलिये पर मुझे अपनी Virginity test देना पड़ा.

वो कहती हैं कि, “आप सबको मेरी कहानी बताने का मकसद ही यही है कि आप जान सकें कि एक उच्च-शिक्षित लड़की के साथ भी शादी के बाद क्या-क्या हो सकता है? लड़कियाँ माँ-बाप की खुशी और समाज के डर से चुप रह जाती हैं, लेकिन मैंने चुप रहना ठीक नहीं समझा.” अपनी शादी के बारे में बताते हुए कहती हैं कि “मेरी शादी 17 फरवरी 2016 में हुई. पहली रात को ही मेरी सास ने मुझे एक सफेद तौलिया दिया ताकि मैं साबित कर सकूँ कि मैं ‘Virgin’ हूँ. एक आधुनिक ख्यालों की होने और उच्च शिक्षित होने के कारण मेरे लिये उनका यह व्यवहार हैरान करने वाला था. क्या सिर्फ औरत का वर्जिन होना जरुरी है, मर्द का नहीं?”

पीड़िता आगे कहतीं है कि “जब हम हनीमून पर निकल रहे थे तो मेरी सास ने मुझे फिर एक सफेद तौलिया देते हुये यह आदेश दिया कि sex के बाद वे इस तौलिये को उन्हें वापस कर दें. हनीमून से जब लौट कर आई तो मेरे हाथ में 2 हजार रुपए रख दिये गये और कहा कि यदि मुझे Sanitary नैपकिन खरीदना हो या फोन-रिचार्ज करना हो तो केवल वे ही मेरे अकाउंट में पैसे ट्रांसफर करेंगी. यह सब देखकर मैं ‘शॉक्ड’ थी. मैंने अपने पति से सवाल किया कि क्या यही शादी है? वे कुछ नहीं बोले.

“मेरी मानसिक-प्रताड़ना का दौर शुरु हो गया था. मेरे सास-ससुर का न केवल मेरे प्रति व्यवहार खराब था बल्कि सेक्सुअल-एब्यूज भी होने लगा. मेरे पति को कहा जाने लगा कि वो sex के दौरान condoms न इस्तेमाल करे. मेरी सास मेरी पैंटी चेक करके देखती कि मेरा पीरियड हुआ है या नहीं? कुल मिलाकर हमारा सेक्स भी उनके निर्देश पर हो रहा था.

फिर वो आगे कहतीं हैं कि “सास ने मुझे एक गुरु  के नाम पर जाप करने को कहा. मैंने ऐसा करने से मना कर दिया. इस बीच मैंने गुरुग्राम के एक स्कूल में जर्मन पढ़ाना शुरु कर दिया. 18 मई को मेरे पति ने मुझसे मेरी पूरी सैलरी मांगी और अपने घरवालों के सामने मुझ पर हाथ उठाया. वे मुझे जल्दी से जल्दी बच्चा पैदा करने की जिद कर रहे थे. अबतक मैं डिप्रेशन में जाने लगी थी. मैं अपने माँ-बाप के पास रहने आ गई.”

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।