इस वर्ष गुरू का वृश्चिक राशि में होना एवं पूजा के समय चंद्र का गुरू के नक्षत्र में होना बडे भाई व गुरू को किये जाने वाले दान के बारे में संकेत करता है यह बात छोटे भाई, बहन, भाई तुल्य व्यक्ति एवं गुरू या गुरू तुल्य व्यक्ति को किये गये दान की महत्ता होती है. माता महालक्ष्मी की पूर्ण कृपा प्राप्त करने के लिये भाई बहनो एवं इनके तुल्य या गुरू एवं गुरू तुल्य व्यक्तियों को दान श्रेष्ठ रहेगा. यदि आप दिए गये मंत्र का पूर्ण जाप करने में असमर्थ है तो केवल ॐ श्रीं श्रिये नमः का जाप ही दीपावली के दिन 5 माला व रोजाना 1 माला जाप श्रेयस्कर होगा.

मेष:- इस वर्ष आप शिक्षा के क्षैत्र में उन्नती प्राप्त करेंगे कोर्ट कचहरी के मामलों मे विजय मिलेगी, महिला मित्रों से सावधान रहें, धन की आवक अच्छी रहेगी आय व्यय में संतुलन बनाना होगा, नौकरी में पदौन्नती होगी, नौकरी के लिये यात्रा करना होगी स्वास्थ्य का ध्यान रखें. मंत्र ॐ श्रीं हृं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद श्रीं हृं श्री ॐ महालक्ष्म्ये नमः को प्रतिदिन 21 बार दोने समय पाठ करे माता लक्ष्मी की कृपा बरसेगी. अपने बडे भाई या गुरू को या दोनो को पुस्तक का दान करें बुध, केतु एवं शनि आराध्य है

वृषभ:- वर्ष व्यावसायिक सफलता लेकर आया है नौकरी के लिये भटकना नहीं पडेगा, पर कारोबारी यात्रा की संभावना सॉफट्वेयर और फिल्म से जुड़े लोगों को उत्तम सफलता मिलेगी जीवन साथी की उन्नति होगी, स्वभाव आलस्य से भरा हो सकता है, प्रणय संबंधों में सफलता मिलेगी निर्णय शक्ति में कमी रहेगी, भूमि,भवन क्रय होंगे या भवन निमार्ण होगा. कनकधारा स्तोत्र का पाठ 1 बार पश्चिम दिशा में मुंह करके पढना चाहिये, रोजाना इस पाठ को घर पर या अपने प्रतिष्ठान पर एक बार प्रातः एवं एक बार संध्या काल में पढना चाहिये. माता लक्ष्मी हमेशा प्रसन्न रहेगी अपने भाई अथवा गुरू को अथवा दोनों को सुगंधित पदार्थ, मशीनरी, अनाज का दान करें शनि एवं सूर्य आराध्य है.

मिथुन:- इस वर्ष आप व्यवसाय व नौकरी दोनां में सफलता प्राप्त करेंगे स्वास्थ्य की दृष्टि से वर्ष उत्तम है सहयोगी मिलेंगे, भाई-बहनो की उन्नती होगी माता के स्वस्थ्य का ध्यान रखें, कला के क्षैत्र में सफलता मिलेगी, बैंकिंग की परीक्षा में सफलता मिलेगी, धन की स्थिति ऊंच -नीच रहेगी वर्ष मध्य के बाद शिक्षा में सफलता संभव. श्री सूक्त के पाठ के प्रथम 16 श्लोक दोनों समय कीजिये माता लक्ष्मी सदा प्रसन्न रहेगी अपने भाई, मित्र, गुरू को कम्बल, पुस्तक, माचिस का पूडा, इलेक्ट्रानिक सामान का दान करें राहू एवं केतु आराध्य हैं.

कर्क:- नौकरी में पदोन्नती के अवसर आयेंगे, नौकरी बदल सकती है, गले में परेशानी हो सकती है खान पान का ध्यान रखें माता लक्ष्मी की कृपा से इस वर्ष आपका बैंक बेलेस बढता रहेगा, प्रचुर मात्रा में धन का संग्रह होगा, स्वास्थ्य की दृष्टि से वर्ष उत्तम रहेगा कीसी जमीन जायदाद को बचने की योजना बनेगी भवन निमार्ण की योजना बनेगी मंत्र ॐ श्रीं श्रिये नमः मंत्र की 5 माला प्रतिदिन करने से माता लक्ष्मी की कृपा बरसती रहेगी मंदिर में सप्तधान्य का दान करें या चिड़िया चुगावें राहू, केतु, शनि आराध्य है.

सिंह:- नौकरी में स्थान परिर्वतन की संभावना है, शिक्षा में पूर्ण सफलता है, धन की प्रचुरता बनी रहेगी मान सम्मान में बढोतरी होगी, माता का स्वास्थ्य उत्तम रहेगा,खान-पान का विशेष ध्यान रखें. स्थाइ्र संपत्ती बनने की संभावना है, प्रतियोगी परीक्षा में सफलता मिलेगी, लेखन के क्षेत्र में ख्याति मिलेगी विदेश प्रवास की संभावना है. मंत्र ॐ महालक्ष्म्यै च विद्महे विष्णु पत्नि च धीमही तन्नो लक्ष्मी प्रचोदयात् मंत्र की एक एक माला सुबह शाम करने से माता लक्ष्मी की कृपा बरसेगी अपने से बड़े या गुरू तुल्य व्यक्ति को कोई फर्शसाफ करने की वस्तु का दान करें. शनि व राहू आराध्य है.

कन्या:- अकारण का क्रोध आपके काम को बिगाड़ सकता है नौकरी बदलने या व्यवसाय बदलने का विचार उत्तम है शीघ्र ही नौकरी मिलेगी, धन की आवक अच्छी रहेगी परन्तु खर्चों पर नियंत्रण रखें, सेहत पर ध्यान दें, बहार घूमने-फिरने की आदत डालें, तकनीकी शिक्षा पर जोर दें, आवेश में किया गया कार्य आपके सम्मान में कमी ला सकता है कनकधारा स्तोत्र का पाठ 21 बार पश्चिम दिशा में मुह करके पढना चाहिये, लक्ष्मी माता की कृपा बरसेगी अपने भाई तुल्य व्यक्ति या गुरू को कोई इलेक्ट्रानिक सामान देने से माता लक्ष्मी की कृपा बली रहेगी. शनि एवं मंगल आराध्य है.

तुला:- प्रतियोगिता में सफलता मिलेगी, वाणी संयम आवश्यक है, प्रशासनिक क्षमता बढेगी, काम ढूंढने से नही जाना पडे़गा, पदान्नती के अवसर आयेंगे,खान पान का परहेज रखना पड़ेगा, धन वृद्धि होगी, आय के स्रोत में वृद्धि होगी, समुद्र के पास जाने की यात्रा के योग है, मुह और पैरों में तकलीफ हो सकती है स्वभाव रोमांटिक रहेगा. मंत्र श्री सूक्त के पाठ के प्रथम 16 श्लोक दोनो समय कीजिये. माता लक्ष्मी सदा प्रसन्न रहेगी अपने बडे भाई या गुरू तुल्य व्यक्ति को केसर दें केतु एवं राहू व गुरू आराध्य है.

वृश्चिक:- जनता से जुडे कार्य, राजनीति,व्यवसाय में उन्नती होगी, ब्लड प्रशर को नियंत्रण में रखने का प्रयत्न करें प्रतिष्ठा बढेगी, वैवाहिक जीवन में कठिनाईयां बढेगी धन की आवक उत्तम रहेगी, स्वप्न द्वारा कोई जानकारी मिल सकती है, फूड पाईजेनिग से बचें आंखो में तकलीफ हां सकती है, विदेश जाने का प्रस्ताव मिल सकता है. मंत्र ॐ श्रीं हृं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद श्रीं हृं श्री ॐ महालक्ष्म्ये नमः को प्रतिदिन 21 बार दोने समय पाठ करे माता लक्ष्मी की कृपा बरसेगी गुरू या गुरू तुल्य व्यक्ति को मिठाई दान करें व आशिर्वाद लें राहू एवं बुध आराध्य है

धनु:- उच्च शिक्षा को लेकर जो सपने संजोये थे वे अब साकार होंगे, नौकरी में स्थानांतरण के योग है, व्यवसाय के लिए यात्रा करना होगी हिम्मत जवाब दे देगी, दांतो में चोट लग सकती है, कंप्यूटर साफ्टवेअर या आटोमोबाईल के क्षैत्र में सफलता मिलेगी, सीने में तकलीफ बढ सकती है, भाग्य रूक-रूक कर सफलता देगा. मंत्र कनकधारा स्तोत्र का पाठ 1 बार पश्चिम दिशा में मुह करके पढना चाहिये, रोजाना इस पाठ को घर पर या अपने प्रतिष्ठान पर एक बार प्रातः एवं एक बार संध्या काल में पढना चाहिये. माता लक्ष्मी हमेशा प्रसन्न रहेगी अपने भाई या भाई समान व्यक्ति को या गुरू को पीले रंग की मिठाई का दान करें शुक्र, शनि एवं राहू आराध्य है.

मकर:- इस वर्ष व्यवसाय में उत्तम सफलता है, नौकरी में भी वेतन वृद्धि होगी,पुरानी व्याधि ठीक होगी, धन की आवक उत्तम होगी, शिक्षा कड़ी मेंहनत मांगेगी समाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी, प्रशासनिक क्षमता का विकास होगा, माता की सेहत में सुधार होगा आपकी वाणी सबका मन जीत लेगी, गुप्त विद्याओं की तरफ रूझान बढेगा. मंत्र श्री सूक्त के पाठ के प्रथम 16 श्लोक दोनो समय कीजिये माता लक्ष्मी सदा प्रसन्न रहेगी. अपने गुरू को दीपावली पर मिठाई सफेद व लाल रंग की दान करें सूर्य, शनि एवं राहू आराध्य है.

कुंभ:- कुछ मददगारों से आपका काम बन जायेगा, शिक्षा एवं व्यवसाय में सफलता मिलेगी, लंबी यात्राओ से सफलता मिलेगी,समाजिक अत्यधिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी, प्रशासनिक क्षमता का विकास होगा, भवन निर्माण की योजना फलीभूत होगी, नया काम शुरू होगा, परिचय क्षैत्र में वृद्धि होगी, व्यक्तित्व में आर्कषण बढेगा. मंत्र श्री सूक्त के पाठ के प्रथम 16 श्लोक दोनो समय कीजिये माता लक्ष्मी सदा प्रसन्न रहेगी. अपने बहन, भाई व गुरू को मिठाई का दान करें चंद्र,राहू एवं केतु आराध्य है.

मीन:- इस वर्ष व्यवसाय में परिर्वतन का मन बना सकते हैं. मदद मांगने पर भी नही मिलेगी, जोखिम उठाने में डर लगेगा, घुटने में तकलीफ बढेगी, जीवन साथी से मतभेद रहेंगे, न्यायालयीन प्रकरणों में विजय मिलेगी छोटी यात्राओं के अवसर आयेंगे, अपनों के लिये समय निकालने में परेशानी होगी, गरदन में तकलीफ बढ सकती है. मंत्र कनकधारा स्तोत्र का पाठ 1 बार पश्चिम दिशा में मुह करके पढना चाहिये, रोजाना इस पाठ को घर पर या अपने प्रतिष्ठान पर एक बार प्रातः एवं एक बार संध्या काल में पढना चाहिये. माता लक्ष्मी हमेशा प्रसन्न रहेगी. अपने भाई या भाई तुल्य व्यक्ति को या गुरू को मिठाई या केसर का दान करें राहू, शुक्र, एवं शनि आराध्य है.

*प.चंद्रशेखर नेमा"हिमांशु"*

9893280184,7000460931

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।