पलपल संवाददाता, जबलपुर. भारतीय जनता पार्टी द्वारा अपने प्रत्याशियों की घोषणा करने के बाद से प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह के घर यानी जबलपुर में ही बवाल मच गया गया है. पनागर विधानसभा सीट से सुशील तिवारी इंदू को दोबारा रिपीट किये जाने के खिलाफ क्षेत्र के ही कई बड़े भाजपा नेता विरोध में उतर आये हैं, जिसमें पूर्व विधायक, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष, जनपद अध्यक्ष सहित प्रमुख भाजपा पदाधिकारी शामिल हैं. इन लोगों ने एक पत्रकार वार्ता में प्रदेश भाजपा संगठन को अल्टीमेटम दिया है कि यदि इंदु तिवारी की टिकट नहीं बदली जाती है तो वे पार्टी छोड़ देंगे. वहीं भाजपा में मची इस अंतरकलह से संगठन में चिंता की लकीरें फैल गई हैं. मैनेज कंट्रोल के लिए आला नेताओं को बीच-बचाव करने को कहा गया है.

 चाल, चरित्र और चेहरा की बात करने वाली भाजपा में अब असंतुष्ट खुलकर सामने आने लगे हैं. लगातार पार्टी द्वारा की जा रही उपेक्षा को देखकर अब वे मुखर होकर मीडिया के सामने आने लगे हैं. भाजपा की पहली सूची आने के बाद सबसे पहली बगावत जबलपुर की पनागर विधानसभा से हुई है. यहां पूर्व विधायक, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष, जनपद अध्यक्ष समेत कई समाज के प्रतिनिधियों ने वर्तमान विधायक पर आपत्ति जताई है. उन्होंने एक दिन का अल्टीमेटम देते हुए पार्टी को 24 घंटे का वक्त विचार करने को  दिया है. विरोधियों ने पार्टी पर आरोप लगाया कि उनकी लगातार उपेक्षा हो रही है. इस असंतोष से पहले ही पार्टी को अवगत करा दिया गया था, इसके बावजूद टिकट नहीं बदली गई है.

विरोधियों ने खुलकर मुखालफत की, बुलाई पत्रकारवार्ता

शनिवार 3 नवम्बर को जबलपुर में असंतुष्टों ने एक प्रेसवार्ता बुलाई. इसमें पूर्व विधायक नरेन्द्र त्रिपाठी, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष भारत सिंह यादव, पूर्व पनागर जनपद अध्यक्ष रजनी यादव, भाजपा महिला मोर्चा की पदाधिकारी पूजा पटेल,  संतोष उसरेठे संतोष सैनी  कांता पटेल समेत पटेल व यादव समाज के पदाधिकारी शामिल हुए. असंतुष्टों ने पत्रकारों को बताया कि पार्टी के आला पदाधिकारियों व प्रदेश अध्यक्ष को पहले ही सूचित कर दिया गया था कि पनागर विधानसभा का टिकट बदला जाना चाहिए. हमारा विरोध इंदु तिवारी को टिकट दिए जाने का है. किसी अन्य से हमें कोई लेना-देना नहीं. उन्होंने आरोप लगाया कि पार्टी ने समर्पित कार्यकर्ताओं व नेताओं की उपेक्षा की है. यदि अगले 24 घंटे में पार्टी अपना निर्णय नहीं बदलती है तो हम अन्य बातों पर विचार के लिए स्वतंत्र हो जाएंगे. असंतुष्टों ने पार्टी छोडऩे तक की धमकी दे डाली है.

केंट क्षेत्र में भी विरोध के स्वर, हुई बैठक 

वहीं विरोध की आंच  केंट विधानसभा में अशोक रोहाणी की टिकट घोषित होने के बाद शुक्रवार की रात आकाशगंगा कॉम्पलेक्स में असंतुष्टों की बैठक हुई. भाजपा नगर कार्यकारिणी के सदस्य मनु मिश्रा ने बताया कि बैठक में पूर्व मंडल अध्यक्ष धर्मेन्द्र कुशवाहा, दिलीप रजक, प्रणव अवस्थी, संजय कपूर, संजय चौकसे, विजय कोरी, राकेश बावरिया, संदीप गुप्ता, नरेश कुशवाहा शामिल थे.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल

2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा

3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार

4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक

5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन

6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे

7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर

8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट

9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका

10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत

11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।