पलपल संवाददाता, जबलपुर. शहर की आरक्षित सीट से विधायक का पारा इन दिनों काफी गरम है, उन्हेेें बातों-बातों में गुस्सा आ रहा है, अबकी बार उन्हें गुस्सा कांग्रेस के एक कार्यकर्ता पर आया, गुस्सा भी इतना भीषण की फोन पर ही जमकर धमकी दे डाली, सामने वाले कांग्रेसी ने भैयाजी की बात रिकार्डिंग कर दी और उसे सोशल मीडिया मेें वायरल कर दिया. भैयाजी को फिर गुस्सा आ गया, लेकिन इस बार भैया खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे जैसी स्थिति में हैं, क्योंकि यदि वे फिर धमकी देते हैं तो मामला बिगड़ सकता है और चुनाव के ऐन वक्त पर यह बात कहीं उनके खिलाफ न चली जाए, इसलिए उनके खासमखासों ने भैया को शांत करा दिया है और कहा है कि चुनाव के बाद अपन सब कुछ समझ लेंगे.

टिकट मिली नहीं, लेकिन प्रचार के लिए फिल्मी सितारों की चाह..

- मध्य प्रदेश में फिलहाल तो पार्टियों ने प्रत्याशियों की घोषणा नहीं की है, दावेदारों को आज-कल का कहते हुए लगातार इंतजार कराया जा रहा है, लेकिन एक बात विशेष है, टिकट की घोषणा भले ही नहीं हो, लेकिन दावेदार अपनी टिकट पक्की मान रहे हैं और संगठन से कह रहे हैं कि उन्हें तो प्रचार के लिए राजनेताओं की जगह फिल्मी सितारे या क्रिकेटर ही दरकार है. वैसे अभी सभी संगठन स्टार प्रचारकों की सूची तैयार कर रहा है, जिसमें विभिन्न क्षेत्रों में में वोटरों की स्थिति, जातीगत समीकरण के आधार पर प्रचारकों की सूची तैयार की जा रही है, लेकिन संगठन पसोपेश में है कि जिला संगठनों द्वारा नेताओं की बजाय हेमामालिनी, राजबब्बर, स्मृति ईरानी, नवजोत सिंह सिद्धू की डिमांड कर रहे हैं. राजनेताओं की बात करें तो सबसे ज्यादा डिमांड में भाजपा की ओर से नरेंद्र मोदी तो कांग्रेस की ओर से राहुल गांधी ही हैं.

कभी भी हो सकती है टिकट की घोषणा, बढ़ रही है धड़कनें

दोनों प्रमुख दल भाजपा व कांग्रेस के प्रत्याशियों की घोषणा की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है, कभी भी टिकट का ऐलान हो सकता है, जिससे दावेदारों की धड़कनें तेज हो गई है, वे पिछले काफी समय से टिकट पाने के लिए जो मेहनत-मशकक्त की है, उसका परिणाम जाने व्याकुल हैं. जबलपुर शहर में सबसे ज्यादा तनाव, दबाव में दो क्षेत्रों पश्चिम व उत्तर मध्य के दावेदार हैं, जहां पर बिलकुल नये चेहरे की घोषणा सत्ता दल कर सकती है, जिससे पुराने घाघ नेताओं में टेंशन देखा जा रहा है, लेकिन वे आश्वस्त हैं कि अपने पुराने संबंधों का हवाला देकर वे पुन: टिकट प्राप्त कर लेंगे, लेकिन जिस प्रकार की रणनीति राष्ट्रीय स्तर पर भाजपा ने तैयार की है, उससे चर्चा में तो यही है कि शहर में दो से तीन वर्तमान नये चेहरे सामने आ सकते हैं. बात कांग्रेस की करें तो यहां पर वर्तमान दो विधायक पूरी तरह से आश्वस्त हैं कि टिकट उन्हें ही मिलेगी, एक पूर्व विधायक की उम्मीदें भी परवान पर हैं, रही पांच अन्य क्षेत्रों के दावेदारों की तो वहां पर कई नाम चौंकाने वाले सामने आ सकते हैं.

रिपोर्ट- प्रदीप मिश्रा, अजय श्रीवास्तव

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. माना की पीएम मोदी बहादुर हैं, पर प्रेस से क्यों दूर हैं?

2. कैशलेस पर भरोसा नहीं? लोगों के हाथ में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा कैश

3. अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने मांगे 22 हजार अतिरिक्त जवान

4. कीनिया को रौंदकर भारत ने हीरो इंटर कांटिनेंटल फुटबॉल कप जीता

5. SCO समिट- भारत समेत कई देशों के बीच महत्वपूर्ण एग्रीमेंट, PM मोदी ने दिया सुरक्षा मंत्र

6. ट्रंप से मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया से चाइना होते हुए सिंगापुर पहुंचे किम जोंग

7. उच्च शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने यूजीसी बड़े बदलाव की तैयारी में

8. सुपर 30 का दबदबा कायम आईआईटी प्रवेश परीक्षा में 26 छात्र सफल

9. रेलवे बोर्ड चेयरमैन अश्विनी लोहानी, भोपाल से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे.?

10. क्या आप भी पूजा-पाठ करने के लिए स्टील के लोटे का करते हैं इस्तेमाल?पहले जान लें ये बात

11. काम में मन नहीं लगता तो यह करें उपाय

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।