खबरार्थ. पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सियासी दलों ने अपने उम्मीदवारों का एलान करना शुरू कर दिया है. खबर है कि... मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए शिवसेना ने 21 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी की है. शिवसेना की सूची में बुदनी का नाम भी है, जहां से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान चुनाव लड़ते हैं? राजनीतिक जानकारों का मानना है कि हालांकि वर्ष 2013 के विधानसभा चुनाव में शिवसेना की मध्यप्रदेश में कोई प्रभावी मौजूदगी नहीं थी और न ही अब तक शिवसेना ने यहां विस्तार पर विशेष ध्यान दिया था, लिहाजा कोई बड़ा चमत्कार भले ही नहीं हो, लेकिन शिवसेना को जो भी मत-समर्थन मिलेगा, वह भाजपा को नुकसान पहुंचाएगा, लिहाजा यह भाजपा के लिए खतरे की घंटी है? खासकर ऐसे क्षेत्रों में जहां कांग्रेस-भाजपा के बीच कांटे की टक्कर है और कुछ वोटों से नतीजे बदल सकते हैं!

केन्द्र की पीएम मोदी सरकार ने असंख्य भाजपा समर्थकों को बेहद निराश किया है, जो राम मंदिर, धारा- 370 जैसे मुद्दों पर उम्मीद लगाए बैठे थे. उन्हें लगता है कि भाजपा का हिन्दूत्व सत्ता हांसिल करने के लिए दिखावटी है, जबकि शिवसेना असली हिन्दूत्व की राह पर है! भाजपा के अलावा शिवसेना ही ऐसा सियासी दल है जो उनकी विचारधारा से मिलता है, इसलिए यदि भाजपा ने ज्यादा निराश किया तो ये मतदाता शिवसेना की ओर जा सकते हैं? यद्यपि, केन्द्र और महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना साथ हैं, परन्तु विभिन्न मुद्दो पर शिवसेना लगातार भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ खुल कर बोलती रही है!

यही नहीं, शिवसेना ने 2019 का आम चुनाव भी अकेले लड़ने का एलान कर रखा है, ऐसी स्थिति में यदि शिवसेना थोड़ी-सी भी कामयाबी दर्ज कराने में कामयाब हो जाती है तो उसके लिए महाराष्ट्र से बाहर बेहतर संभावनाएं बन सकती हैं? उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश में मुख्य मुकाबला भाजपा और कांग्रेस के बीच है, जहां 2003 से भाजपा की सरकार है. इससे पहले दस वर्षों तक यहां कांग्रेस की सत्ता थी. वर्ष 2013 के विधानसभा चुनाव में कुल 230 विधानसभा सीटों में से भाजपा ने 165 सीटों पर कब्जा जता कर सरकार बनाई थी, जबकि कांग्रेस को 58 सीटें मिली थी तो बसपा नेेे 4 एवं अन्य ने 3 सीटें जीती थी.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. माना की पीएम मोदी बहादुर हैं, पर प्रेस से क्यों दूर हैं?

2. कैशलेस पर भरोसा नहीं? लोगों के हाथ में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा कैश

3. अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने मांगे 22 हजार अतिरिक्त जवान

4. कीनिया को रौंदकर भारत ने हीरो इंटर कांटिनेंटल फुटबॉल कप जीता

5. SCO समिट- भारत समेत कई देशों के बीच महत्वपूर्ण एग्रीमेंट, PM मोदी ने दिया सुरक्षा मंत्र

6. ट्रंप से मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया से चाइना होते हुए सिंगापुर पहुंचे किम जोंग

7. उच्च शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने यूजीसी बड़े बदलाव की तैयारी में

8. सुपर 30 का दबदबा कायम आईआईटी प्रवेश परीक्षा में 26 छात्र सफल

9. रेलवे बोर्ड चेयरमैन अश्विनी लोहानी, भोपाल से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे.?

10. क्या आप भी पूजा-पाठ करने के लिए स्टील के लोटे का करते हैं इस्तेमाल?पहले जान लें ये बात

11. काम में मन नहीं लगता तो यह करें उपाय

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।