इनदिनों. राजस्थान में विधानसभा चुनाव को लेकर हलचलें तेज हैं, लेकिन अभी टिकट का एलान नहीं होने के कारण जनता के बीच नेता सक्रिय नहीं हैं, अलबत्ता टिकट वितरण को लेकर कुछ-कुछ तस्वीर साफ हो रही है. जहां कांग्रेस में 2013 में विधानसभा चुनाव जीतने वाले लगभग सभी एमएलए की टिकट पक्की मानी जा रही है तो, सत्ता विरोधी लहर के चलते भाजपा के लगभग एक तिहाई विधायकों की टिकट पर सवालिया निशान है?

विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस उम्मीदवारों की पहली सूची इसी सप्ताह में जारी हो जाएगी, जिसमें राजस्थान के बड़े नेता- पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, महेन्द्रजीत सिंह मालवीया, भंवरलाल शर्मा आदि वर्तमान विधायकों के नाम शामिल हैं!

सूत्रों के अनुसार कांग्रेस के मौजूदा सभी- 25 एमएलए को फिर से टिकट मिलना लगभग तय है. कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेटी और प्रभारी नेताओं की अब तक कई दौर की बैठके हुईं है जिनमें सचिन पायलेट जैसे बड़े नेताओं सहित तमाम वर्तमान एमएलए के नामों को हरी झंड़ी दे दी गई है और पहली सूची में पचास से ज्यादा नामों का एलान इसी सप्ताह में कर दिया जाएगा जिन पर सहमति बन गई है.

उल्लेखनीय हे कि इस वक्त कांग्रेस के 25 एमएलए हैं, जिनमें से 21 एमएलए 2013 के विधानसभा चुनाव में जीते थे तो चार विधायक बाद में उपचुनाव में जीत कर आए थे. 

क्योंकि ज्यादातर सर्वे में विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का पलड़ा भारी बताया गया है, लिहाजा जहां कांग्रेस में उम्मीदवारों की भारी भीड़ है, वहीं भाजपा में एक-एक उम्मीदवार के चयन में बेहद सतर्कता बरती जा रही है. 

कांग्रेस और भाजपा, दोनों ही दलों का जोर इस बात पर है कि जो भी उम्मीदवार हो वह हर हाल में जीतने लायक हो? और इसके लिए एकाधिक सोर्स से जानकारिया एकत्रित की गईं है! सुरक्षा की दृष्टि से भाजपा और कांग्रेस, दोनों दल एक-दूसरे के उम्मीदवारों की घोषणा पर नजर रखे हैं, ताकि किसी विषम परिस्थिति में उममीदवार को बदला जा सके. दीपावली तक दोनों ही दलों के उम्मीदवार चुनाव मैदान में होंगे और तभी वास्तविक चुनावी तस्वीर स्पष्ट होगी!

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. माना की पीएम मोदी बहादुर हैं, पर प्रेस से क्यों दूर हैं?

2. कैशलेस पर भरोसा नहीं? लोगों के हाथ में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा कैश

3. अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने मांगे 22 हजार अतिरिक्त जवान

4. कीनिया को रौंदकर भारत ने हीरो इंटर कांटिनेंटल फुटबॉल कप जीता

5. SCO समिट- भारत समेत कई देशों के बीच महत्वपूर्ण एग्रीमेंट, PM मोदी ने दिया सुरक्षा मंत्र

6. ट्रंप से मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया से चाइना होते हुए सिंगापुर पहुंचे किम जोंग

7. उच्च शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने यूजीसी बड़े बदलाव की तैयारी में

8. सुपर 30 का दबदबा कायम आईआईटी प्रवेश परीक्षा में 26 छात्र सफल

9. रेलवे बोर्ड चेयरमैन अश्विनी लोहानी, भोपाल से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे.?

10. क्या आप भी पूजा-पाठ करने के लिए स्टील के लोटे का करते हैं इस्तेमाल?पहले जान लें ये बात

11. काम में मन नहीं लगता तो यह करें उपाय

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।