खबरंदाजी. कमाल है! पीएम मोदी 48 साल के राहुल गांधी से 70 साल का हिसाब मांग रहे हंै, लेकिन 68 साल के पीएम नरेन्द्र मोदी केन्द्र सरकार के 4 साल का हिसाब नहीं देते?

उलझन तो तब आ गई, जब बात उठी कि- 70 साल में तो पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का ही नहीं, खुद पीएम मोदी का कार्यकाल भी शामिल है, तो आंकड़ा 60 साल पर आ गया? अब 60 साल के सवाल में भी एक सवाल है कि- इसमें सरदार पटेल का कार्य शामिल है कि नहीं?

मोदी मैजिक का ही कमाल है कि जब भी चुनाव होते हैं और भाजपा जीतती है तो जीत के लिए मोदी लहर का असर होता है और यदि हार जाती है तो प्रदेश के मुख्यमंत्री जिम्मेदार होते हैं, मतलब... जीते तो मोदी का जादू और हारे तो किसी और की जिम्मेदारी!

अभी तीन प्रमुख राज्यों- एमपी, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में चुनाव हो रहे हैं और विभिन्न सर्वे के नतीजों ने प्रादेशिक सरकारों की धड़कने बढ़ा दी हैं? 

प्रादेशिक सरकारों के प्रधानों ने खूब काम किया, खूब कोशिशें की, लेकिन उनकी उपलब्धियां केन्द्र सरकार के मुद्दों के सामने बौनी रह गई! केन्द्र के मुद्दों का जवाब प्रादेशिक सरकारें कहां से तलाशें? उधर, एमपी में तो केन्द्र सरकार के एससी-एसटी एक्ट में संशोधन के मुद्दे पर बाकायदा नई राजनीतिक पार्टी ही खड़ी हो गई- सपाक्स!

यहां भी मजेदार बात है... पाकिस्तान के खिलाफ सफल सर्जिकल स्ट्राइक हुई तो पीएम मोदी सरकार ने करवाई! और एससी-एसटी एक्ट में संशोधन हुआ तो पता नहीं किसने करवाया?

जादू के साथ सबसे बड़ी दिक्कत यह हैे कि जादू होता तो मजेदार है, लेकिन सच नहीं होता है? इसलिए करोड़ों नौकरियां, खातों में लाखों रूपए, कालाधन वापसी जैसे जादू को लोगों को भूल जाना चाहिए!

गैस-पेट्रोल की शिकायत छोड़ो, प्रतिभा हो तो मुफ्त में गटर गैस बना सकते हो, विदेशी पेट्रोल पर निर्भर रहने से अच्छा है, स्वदेशी साइकिल चलाना? जेब भी मजबूत और जीवन भी सुरक्षित!

वैसे, दीपावली आ गई है, लेकिन स्वदेशी आंदोलन के धमाके सुनाई नहीं दे रहे हैं? व्हाट्सएपिए अपने एडमिन से पूछ रहे हैं कि चीनी सामान का विरोध शुरू करें कि नहीं!

अलबत्ता, जो लोग पकौड़ा रोजगार पर भरोसा नहीं करते हैं उन्हें यह खबर जरूर पढ़नी चाहिए कि- कैसे एक पकौड़े वाले के यहां छापे में लाखों की आमदानी नजर आई? खबर है कि... पंजाब के लुधियाना में एक पकौड़े वाले के यहां इनकम टैक्स ने रेड की तो पता चला कि पकौड़े वाला पूरे 60 लाख रुपये सालाना कमाता है! अब बोलो? पकौड़ा रोजगार असरदार है कि नहीं? छोटी-मोटी नौकरियां मत तलाशो, दुनिया राफेल की ओर कदम बढ़ा रही है, इसलिए सरकारी नौकरी के मोर्चे पर फेल होने का अफसोस व्यर्थ है!

यदि सत्तर साल तक तकनीक के क्षेत्र में विकास के प्रति केन्द्र सरकारों ने लापरवाही नहीं बरती होती तो आजादी के तुरंत बाद ही सोशल मीडिया, इंटरनेट पर धमाल मचा देता और कब की डिजिटल सरकार बन जाती!

सियासत भी बेहद दिलचस्प है? 70 साल की सरकारों के कर्मों का फल आज की केन्द्र सरकार भुगत रही है और आज की केन्द्र सरकार के कर्मों का फल चुनाव में प्रादेशिक सरकारें भुगतेंगी!

कुछ समय से पीएम मोदी विकल्प बतौर भावी प्रधानमंत्री- राजनाथ सिंह का नाम चर्चा में है, तो इस बीच खबर आई कि... कभी यूपी सरकार में मंत्री रह चुके भाजपा नेता ने तो लखनऊ से केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह का टिकट काटकर खुद को लड़ाने की मांग कर डाली? उनका दावा है कि मौका मिलने पर वह सौ प्रतिशत जीतेंगे और सीट को पार्टी की झोली में डालेंगे! भाजपा नेता आईपी सिंह ने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को पत्र लिखकर लखनऊ लोकसभा सीट से टिकट मांगा है? कल्याण सिंह सरकार में राज्य मंत्री रह चुके आईपी सिंह का कहना है कि वे तीन दशक से भाजपा की सेवा कर रहे हैं, इस नाते वे एक कार्यकर्ता की हैसियत से लखनऊ की सीट से चुनाव लड़ना चाहते हैं?

नादान राजनीतिक जानकार समझ नहीं पा रहे हैं कि सारे देश में अचानक राजनाथ सिंह की सीट ही काहे सियासी हमले का शिकार हुई? वैसे, राजनीति को लेकर सियासी सयाने कह भी गए हैं...

यहां कोई किसी को राह नहीं देता?

औरों को गिरा कर संभल सके तो चल! 

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. माना की पीएम मोदी बहादुर हैं, पर प्रेस से क्यों दूर हैं?

2. कैशलेस पर भरोसा नहीं? लोगों के हाथ में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा कैश

3. अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने मांगे 22 हजार अतिरिक्त जवान

4. कीनिया को रौंदकर भारत ने हीरो इंटर कांटिनेंटल फुटबॉल कप जीता

5. SCO समिट- भारत समेत कई देशों के बीच महत्वपूर्ण एग्रीमेंट, PM मोदी ने दिया सुरक्षा मंत्र

6. ट्रंप से मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया से चाइना होते हुए सिंगापुर पहुंचे किम जोंग

7. उच्च शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने यूजीसी बड़े बदलाव की तैयारी में

8. सुपर 30 का दबदबा कायम आईआईटी प्रवेश परीक्षा में 26 छात्र सफल

9. रेलवे बोर्ड चेयरमैन अश्विनी लोहानी, भोपाल से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे.?

10. क्या आप भी पूजा-पाठ करने के लिए स्टील के लोटे का करते हैं इस्तेमाल?पहले जान लें ये बात

11. काम में मन नहीं लगता तो यह करें उपाय

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।