चांगवोन. भारतीय निशानेबाज अंकुर मित्तल ने शनिवार को यहां आईएसएसएफ विश्व चैम्पियनशिप की डबल ट्रैप स्पर्धा में स्वर्ण पदक हासिल कर करियर की सबसे बड़ी जीत दर्ज की. टूर्नामेंट में भारतीय निशानेबाजों का शानदार प्रदर्शन जारी है और विश्व कप में कई पदक हासिल करने वाले 26 साल के इस निशानेबाज ने 150 में से 140 सटीक निशाने लगाये जिसके बाद स्वर्ण पदक के लिए शूटऑफ में उनका सामना चीन के यियांग यांग और स्लोवाकिया के हुबर्ट आंद्रेजेज से हुआ.

शूटऑफ में मित्तल ने चीनी निशानेबाज को 4-3 से हराकर स्वर्ण पदक अपने नाम किया. आंद्रेजेज को कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा. अंकुर ने इसके साथ ही टीम स्पर्धा में मोहम्मद असाब और शारदुल विहान के साथ मिलकर कांस्य पदक हासिल किया.

तीनों ने मिलकर 409 अंक बनाये जो स्वर्ण पदक जीतने वाली इटली से दो अंक कम है. चीन ने 410 अंक के साथ रजत पदक हासिल किया. दिन की अन्य स्पर्धाओं में दो भारतीय महिला निशानेबाज बहुत कम अंतर से अपनी अपनी स्पर्धाओं के फाइनल में पहुंचने से चूक गयीं.

दस मीटर एयर राइफल में रजत पदक के साथ 2020 ओलंपिक कोटा हासिल करने वाली अंजुम मुदगिल महिलाओं की 50 मीटर राइफल थ्री पोजिशन के क्वालीफाइंग दौर में 1170 अंक के साथ नौवें स्थान पर रही. शीर्ष आठ पर रहने वाली निशानेबाजों ने फाइनल के लिए क्वालीफाई किया. 

अंजुम और आठवें स्थान पर रहने वाली स्विट्जरलैंड की नीना क्रिस्टेन का स्कोर बराबर था. लेकिन नीना ने इनर 10 के 66 निशाने लगाये थे जबकि अंजुम के 56 निशाने इनर 10 के थे. महिलाओं की 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा में मनु भाकर 584 अंक के साथ क्वालीफाइंग स्पर्धा में 10वें स्थान पर रही. रैपिड फायर के दूसरे क्वालीफिकेशन के बाद चार निशानेबाज इसी स्कोर के साथ बराबरी पर थी जिसमें मनु के अलावा सिंगापुर की शीउ होंग तेह, कतर की अल्दाना साद अलमुबारक, मिस्र की ओलंपिक और विश्व चैम्पियन (10 मीटर पिस्टल) अन्ना कोराक्की शामिल है. शिउ और अलमुबारक ने क्रमश: 22 और 21 इनर 10 के स्कोर से फाइनल के लिए क्वालीफाई किया जबकि अन्ना और अंजुम के क्रमश: 19 और 16 अंक थे. 

जूनियर मिश्रित युगल ट्रैप में मनीषा कीर और मानवादित्य सिंह राठौड़ ने क्वालीफिकेशन में 139 अंक के साथ दूसरे स्थान पर रहते हुए फाइनल में जगह पक्की की. फाइनल में वह 24 अंक के साथ चौथे स्थान पर रहे. इटली के ईरिका सेस्सा और लोरेंजो फरारी ने रिकार्ड 42 अंक के साथ स्वर्ण पदक जीता. 

प्रतियोगिता के सातवें दिन के बाद भारत के खाते में सात स्वर्ण, सात रजत और छह कांस्य के साथ कुल 20 पदक है और तालिका में वह कोरिया और चीन के बाद तीसरे स्थान पर है. चीन दूसरे स्थान पर है. भारत ने विश्व चैम्पियनशिप से ओलंपिक के लिए दो कोटा स्थान हासिल किये जो इस प्रतियोगिता में उसका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. माना की पीएम मोदी बहादुर हैं, पर प्रेस से क्यों दूर हैं?

2. कैशलेस पर भरोसा नहीं? लोगों के हाथ में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा कैश

3. अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने मांगे 22 हजार अतिरिक्त जवान

4. कीनिया को रौंदकर भारत ने हीरो इंटर कांटिनेंटल फुटबॉल कप जीता

5. SCO समिट- भारत समेत कई देशों के बीच महत्वपूर्ण एग्रीमेंट, PM मोदी ने दिया सुरक्षा मंत्र

6. ट्रंप से मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया से चाइना होते हुए सिंगापुर पहुंचे किम जोंग

7. उच्च शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने यूजीसी बड़े बदलाव की तैयारी में

8. सुपर 30 का दबदबा कायम आईआईटी प्रवेश परीक्षा में 26 छात्र सफल

9. रेलवे बोर्ड चेयरमैन अश्विनी लोहानी, भोपाल से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे.?

10. क्या आप भी पूजा-पाठ करने के लिए स्टील के लोटे का करते हैं इस्तेमाल?पहले जान लें ये बात

11. काम में मन नहीं लगता तो यह करें उपाय

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।