नई दिल्ली. हाल ही में जारी हुई एक रिपोर्ट पर गौर करें तो दुनिया के सभी देशों में कानून-व्यवस्था के चलते इंटरनेट बैन करने के मामले में भारत टाॅप पर रहा है. पड़ोसी देश पाकिस्तान इस मामले में दूसरे नंबर पर है. भारत के अलग-अलग राज्यों में जनवरी 2016 से मई 2018 तक 154 बार इंटरनेट सेवा रोकी गई. वहीं, पाकिस्तान ने ढाई साल में 19 बार डेटा सर्विस पर रोक लगाई. सीरिया और इराक ने 8-8 बार इंटरनेट सेवा रोकी.

भारत में इंटरनेट सेवा पर रोक पहली बार 2012 में लगी थी. तब सालभर में सिर्फ नौ घंटे इंटरनेट बंद रहा. इसके बाद 2013 में यह आंकड़ा 360 घंटे तक पहुंच गया. 2014 में 114 घंटे तो 2015 में 905 घंटे ब्लॉकेज रहा. वहीं, 2016 में 6 हजार 784 घंटे और 2017 में 8 हजार 141 घंटे इंटरनेट सेवा रोकी गई.

एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इंटरनेट शटडाउन से भारत को अब तक 21 हजार 336 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. इनमें 12 हजार 615 घंटे मोबाइल इंटरनेट बंद रहने से 16 हजार 590 करोड़ का घाटा हुआ. 3 हजार 700 घंटे ब्रॉडबैंड नेटवर्क ब्लॉक होने से 4 हजार 746 करोड़ का नुकसान हुआ. इनमें टूरिजम, आईटी, प्रेस, न्यूज मीडिया और ई-कॉमर्स सेक्टर को होने वाला नुकसान भी शामिल है.

नोट: आंकड़े इंटरनैशनल काउंसिल फॉर रिसर्च ऑन इंटरनैशनल काउंसिल (आईसीआरईआरईआर) की 2018 की रिपोर्ट और स्टैटिस्टा के हैं.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. माना की पीएम मोदी बहादुर हैं, पर प्रेस से क्यों दूर हैं?

2. कैशलेस पर भरोसा नहीं? लोगों के हाथ में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा कैश

3. अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने मांगे 22 हजार अतिरिक्त जवान

4. कीनिया को रौंदकर भारत ने हीरो इंटर कांटिनेंटल फुटबॉल कप जीता

5. SCO समिट- भारत समेत कई देशों के बीच महत्वपूर्ण एग्रीमेंट, PM मोदी ने दिया सुरक्षा मंत्र

6. ट्रंप से मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया से चाइना होते हुए सिंगापुर पहुंचे किम जोंग

7. उच्च शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने यूजीसी बड़े बदलाव की तैयारी में

8. सुपर 30 का दबदबा कायम आईआईटी प्रवेश परीक्षा में 26 छात्र सफल

9. रेलवे बोर्ड चेयरमैन अश्विनी लोहानी, भोपाल से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे.?

10. क्या आप भी पूजा-पाठ करने के लिए स्टील के लोटे का करते हैं इस्तेमाल?पहले जान लें ये बात

11. काम में मन नहीं लगता तो यह करें उपाय

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।