नई दिल्ली. वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) संग्रह में अगस्त में 2.61 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई और यह घटकर 93,960 करोड़ रुपये रह गया, वित्त मंत्रालय द्वारा आज जारी आँकड़ों के अनुसार, अगस्त में जीएसटी संग्रह जुलाई की तुलना में 2,523 करोड़ रुपये कम है. इस साल जुलाई में जीएसटी से 96,483 करोड़ रुपये और जून में 95,610 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ था.

मंत्रालय ने कहा है कि संभवत: जुलाई में कुछ वस्तुओं पर करों की दरें घटाने के कारण ग्राहकों ने खरीद टाल दी होगी जिसकी वजह से कर संग्रह कम रहा है. करों की दरों में कमी की घोषणा 21 जुलाई को की गई थी जबकि इसके लिए अधिसूचना 27 जुलाई को जारी की गई थी. इस दौरान ग्राहक कर कम होने का इंतजार करते रहे होंगे. अगस्त में केंद्रीय जीएसटी का संग्रह 15,303 करोड़ रुपये, राज्य जीएसटी का 21,154 करोड़ रुपये, आईजीएसटी का 49,876 करोड़ रुपये और उपकर का 7,628 करोड़ रुपये रहा. आईजीएसटी में आयात पर प्राप्त 26,512 करोड़ रुपये और उपकर में आयात पर प्राप्त 849 करोड़ रुपये का शुल्क भी शामिल है. जुलाई के लिए 31 अगस्त तक 67 लाख जीएसटीआर 3बी फॉर्म भरे गये. जून महीने के लिए 31 जुलाई तक 66 लाख रिटर्न भरे गये थे.

केरल में जुलाई के लिए रिटर्न भरने की अंतिम तारीख 05 अक्टूबर तक बढ़ाई गयी है. सरकार ने बताया कि विवादित कर मामलों में समझौते के तहत अगस्त में केंद्रीय जीएसटी के तहत 36,963 करोड़ रुपये और राज्य जीएसटी के तहत 41,136 करोड़ रुपये प्राप्त हुये. जून और जुलाई के लिए राज्यों को 14,930 करोड़ रुपये की क्षतिपूर्ति दी गयी. अगस्त में कर संग्रह कम रहने की पीछे सरकार ने और तर्क देते हुये कहा है कि आम तौर पर जुलाई की तुलना में अगस्त में कम कर जमा होता है. पारंपरिक रूप से जुलाई में कर संग्रह वार्षिक कर राजस्व का 8.2 प्रतिशत और अगस्त में 7.7 प्रतिशत रहता है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. माना की पीएम मोदी बहादुर हैं, पर प्रेस से क्यों दूर हैं?

2. कैशलेस पर भरोसा नहीं? लोगों के हाथ में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा कैश

3. अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने मांगे 22 हजार अतिरिक्त जवान

4. कीनिया को रौंदकर भारत ने हीरो इंटर कांटिनेंटल फुटबॉल कप जीता

5. SCO समिट- भारत समेत कई देशों के बीच महत्वपूर्ण एग्रीमेंट, PM मोदी ने दिया सुरक्षा मंत्र

6. ट्रंप से मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया से चाइना होते हुए सिंगापुर पहुंचे किम जोंग

7. उच्च शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने यूजीसी बड़े बदलाव की तैयारी में

8. सुपर 30 का दबदबा कायम आईआईटी प्रवेश परीक्षा में 26 छात्र सफल

9. रेलवे बोर्ड चेयरमैन अश्विनी लोहानी, भोपाल से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे.?

10. क्या आप भी पूजा-पाठ करने के लिए स्टील के लोटे का करते हैं इस्तेमाल?पहले जान लें ये बात

11. काम में मन नहीं लगता तो यह करें उपाय

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।