अहमदाबाद. गुजरात के अहमदाबाद में रविवार देर शाम ओढव इलाके में चार मंजिला इमारत के ढ़ह जाने से 1 शख्स की मौत हो गयी है. स्थानीय पुलिस के मुताबिक अबतक 6 लोगों को सुरक्षित निकाला गया है. मौके पर मलबे को हटाने का काम अभी भी जारी है. हालांकि अभी तक ये साफ नहीं है कि मलबे में कितने लोग और फंसे हुए हैं. स्थानीय सूत्रों का कहना है कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है. जानकार सूत्रों से मिली खबर में बताया गया है कि इमारत के दो ब्लॉक गिरने से यह हादसा हुआ है.

गृह राज्यमंत्री प्रदीप सिंह जडेजा ने कहा कि राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) तथा स्थानीय दमकल विभाग की टीमों को मलबे से लोगों को निकालने के लिए तैनात किया गया है. जाडेजा ने कहा कि ये टीमें बचाव अभियान के लिए आधुनिक उपकरणों का इस्तेमाल कर रही हैं. जडेजा ने कहा, इमारत को अहमदाबाद नगर निगम के अधिकारियों द्वारा कल उस समय खाली कराया गया था जब उन्हें लगा कि इमारत कभी भी गिर सकती हैं लेकिन कुछ निवासी आज वापस आए और वे इनके ढहने के वक्त इमारत के अंदर ही थे. जडेजा ने कहा कि मलबे में 8-10 लोगों के फंसे होने की आशंका है.

दो दशक पुरानी इमारत में दरार आने पर लोगों को पहले ही नोटिस दे दिया गया था. एक दिन पहले यानी शनिवार को ही इमारत खाली कराई गई थी. इसके बावजूद कुछ लोग इमारत में फिर से चले गए थे. मौके पर बचाव कार्य युद्धस्तर पर जारी है. दरअसल, 26 अगस्त की शाम ओढव की चार मंजिला इमारत भरभरा कर धराशाई हो गई. जिसके बाद पूरे इलाके में हड़कंप मच गया. देखते ही देखते महज चंद सेकंड में करीब 50 फीट ऊंची बिल्डिंग मलबे का ढेर बन गई.

जीवन ज्योत सोसायटी के पास इमारत का मलबा हटाने की कोशिश रातभर चलती रही, जो अभी भी जारी है. रेस्क्यू ऑपरेशन में अहमदाबाद फायर ब्रिगेड और एनडीआरएफ की टीम लगी हुई है. सवाल है कि महज 19 साल पुरानी इमारत कैसे ताश के पत्तों की तरह ढह सकती है. या तो बिल्डिंग के निर्माण में घटिया सामग्री का इस्तेमाल हुआ या फिर सरकारी मानकों से खिलवाड़ या प्रशासनिक अफसरों की लापरवाही के कारण इस भवन का ये हाल हुआ है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. माना की पीएम मोदी बहादुर हैं, पर प्रेस से क्यों दूर हैं?

2. कैशलेस पर भरोसा नहीं? लोगों के हाथ में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा कैश

3. अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने मांगे 22 हजार अतिरिक्त जवान

4. कीनिया को रौंदकर भारत ने हीरो इंटर कांटिनेंटल फुटबॉल कप जीता

5. SCO समिट- भारत समेत कई देशों के बीच महत्वपूर्ण एग्रीमेंट, PM मोदी ने दिया सुरक्षा मंत्र

6. ट्रंप से मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया से चाइना होते हुए सिंगापुर पहुंचे किम जोंग

7. उच्च शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने यूजीसी बड़े बदलाव की तैयारी में

8. सुपर 30 का दबदबा कायम आईआईटी प्रवेश परीक्षा में 26 छात्र सफल

9. रेलवे बोर्ड चेयरमैन अश्विनी लोहानी, भोपाल से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे.?

10. क्या आप भी पूजा-पाठ करने के लिए स्टील के लोटे का करते हैं इस्तेमाल?पहले जान लें ये बात

11. काम में मन नहीं लगता तो यह करें उपाय

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।