फिल्म का नाम : गोल्ड

डायरेक्टर: रीमा कागती

स्टार कास्ट: अक्षय कुमार, विनीत कुमार सिंह, अमित शाद, कुणाल कपूर, मौनी रॉय ,सनी कौशल

अवधि: 2 घंटा 34 मिनट

सर्टिफिकेट: U/A

रेटिंग:  4.5 स्टार

अक्षय कुमार ने देशभक्ति के मामले में हमेशा अपने आप को एक अलग पहचान दी है और इस बार भी वो अपनी देशभक्ति को साबित करते हुए लीक से हटकर कुछ अलग करने में सफल रहे हैं. फिल्म गोल्ड की डायरेक्टर रीमा कागती लीक से हटकर सिनेमा बनाने में माहिर हैं. इससे पहले उन्होंने आमिर खान के साथ फिल्म तलाश बनाई थी और अब अक्षय कुमार के साथ मिलकर हॉकी के पहले गोल्ड जीतने पर आधारित फिल्म बनाई है. फिल्म देशभक्ति के जज्बे से भरी हुई है.

कहानी- फिल्म की कहानी 1936 से शुरू होती है. जब बर्लिन में ब्रिटिश इंडिया के तहत भारत की हॉकी टीम कंपनी जाती है, इसमें जूनियर मैनेजर के तौर पर तपन दास (अक्षय कुमार) होते हैं और उस टीम का नेतृत्व करते हैं सम्राट (कुणाल कपूर). फिल्म में इम्तियाज (विनीत कुमार सिंह ) भी मौजूद होते हैं, इस साल भारत गोल्ड तो जीत जाता है, लेकिन ब्रिटिश इंडिया का झंडा फहराया जाता है,

जो कि तपन को पसंद नहीं आता और वह ठान लेता है कि जब भी अगली बार भारत की हॉकी टीम खेलेगी तो स्वतंत्र भारत के झंडे के अंतर्गत खेलेगी.  कहानी आगे बढ़ती है, जिसमें राजकुमार रघुवीर प्रताप सिंह (अमित शाद) और पंजाब के रहने वाले हिम्मत सिंह (सनी कौशल )की एंट्री होती है. एक बार फिर से टीम का गठन होता है और स्वतंत्र भारत में 1948 में भारतीय हॉकी टीम किस तरह से 200 साल की गुलामी का बदला एक गोल्ड मेडल जीतकर लेती है, यही फिल्म में दर्शाया गया है.

मौनी रॉय इस फिल्म से डेब्यू कर रही हैं और फिल्में ठीक-ठाक काम किया है, वही कुणाल कपूर और अमित शाद का काम काफी बढ़िया है. मुक्काबाज़ फिल्म विनीत कुमार सिंह ने लाजवाब अभिनय किया है और सनी कौशल पंजाबी किरदार में बहुत ही उम्दा दिखाई देते हैं. अक्षय कुमार इस फिल्म में बंगाली कोच का किरदार निभाते हुए दिखाई देते हैं जो कि आप को कहानी के साथ बांधे रखता है. एक बार फिर से अक्षय ने यह बात बता दिया है कि क्यों उन्हें बढ़िया एक्टर कहा जाता है. देश भक्ति से लबरेज़ फिल्म है, जो कि यादगार बन जाती है. एक और अच्छी बात है कि इसे सिंगल थिएटर के साथ-साथ मल्टीप्लेक्स में भी देखा जा सकता है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. माना की पीएम मोदी बहादुर हैं, पर प्रेस से क्यों दूर हैं?

2. कैशलेस पर भरोसा नहीं? लोगों के हाथ में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा कैश

3. अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने मांगे 22 हजार अतिरिक्त जवान

4. कीनिया को रौंदकर भारत ने हीरो इंटर कांटिनेंटल फुटबॉल कप जीता

5. SCO समिट- भारत समेत कई देशों के बीच महत्वपूर्ण एग्रीमेंट, PM मोदी ने दिया सुरक्षा मंत्र

6. ट्रंप से मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया से चाइना होते हुए सिंगापुर पहुंचे किम जोंग

7. उच्च शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने यूजीसी बड़े बदलाव की तैयारी में

8. सुपर 30 का दबदबा कायम आईआईटी प्रवेश परीक्षा में 26 छात्र सफल

9. रेलवे बोर्ड चेयरमैन अश्विनी लोहानी, भोपाल से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे.?

10. क्या आप भी पूजा-पाठ करने के लिए स्टील के लोटे का करते हैं इस्तेमाल?पहले जान लें ये बात

11. काम में मन नहीं लगता तो यह करें उपाय

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।