प्राचीन काल से ही बिहार एक समृद्ध संस्कृति वाला राज्य कहलाता आया है. चाहे रामायण काल हो या फिर महाभारत काल बिहार का जिक्र हमेशा से रहा है. यही नहीं, कई धर्मों का जन्म भी इसी राज्य से हुआ है.

वहीं, इसी राज्य में एक प्राचीन मंदिर कैमूर जिले में स्थित है जो इस मंदिर का संबंध मार्केण्डेय पुराण से भी है जिसमें शुंभ-निशुंभ के सेनापति चण्ड और मुण्ड के वध की कथा पढ़ने व सुनने को मिलती है. बता दें कि देवी के इस मंदिर में प्राचीन शिवलिंग का चमत्कार भक्तों को दिखता है, तो माता की अद्भुत शक्ति की झलक भी यहां साफ दिख जाती है.

हम यहां जिस खास मंदिर के बारे में बात कर रहे हैं वह बिहार का मुंडेश्वरी मंदिर है. बता दें कि इस मंदिर में केवल हिंदू ही नहीं बल्कि अन्य धर्मों के लोग भी बलि देने आते हैं और अपनी आंखों के सामने चमत्कार होते देख सकते हैं. श्रद्धालुओं की मान्यता यह है कि मां मुंडेश्वरी सच्चे मन से मांगी हर मनोकामनाओं को पूरी करती हैं.

भारत के प्राचीन मंदिरों में शुमार यह खास मंदिर कैमूर पर्वत की पवरा पहाड़ी पर 608 फीट ऊंचाई पर स्थित है. गौरतलब है कि इस मंदिर में बलि की प्रकिया थोड़ी अलग है. वहीं, मुंडेश्वरी मंदिर की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि यहां पशु बलि की सात्विक परंपरा है. यहां बलि में बकरा तो चढ़ाया ही जाता है लेकिन उसका जीवन नहीं लिया जाता है.

जब बकरे को माता के सामने लाया जाता है, तो पुजारी माता की मूर्ति को स्पर्श कराकर चावल बकरे पर फेंकता है और बकरा उसी क्षण अचेत व मृतप्राय सा हो जाता है. थोड़ी देर के बाद ही अक्षत फेंकने की प्रक्रिया फिर से होती है तो बकरा उठ खड़ा होता है और इसके बाद ही उसे मुक्त कर दिया जाता है. यह चमत्कार साक्षात आपकी आंखों के सामने होता है और जब यह होता है तब आप यकीन नहीं कर पाएंगे.

आप मानें या ना मानें लेकिन सत्य यही है कि चमत्कार तो ज़रूर होते हैं बस ज़रूरत है आप कैसे उसे अपनाते हैं. इसांन का विश्वास ही उसे किसी चमत्कारी बातों पर यकीन दिलाता है या फिर नहीं दिलाता है. भक्ति में शक्ति ज़रूर होती है ठीक उसी तरह बिहार के इस खास मंदिर मुंडेश्वरी में माता का चमत्कार भी बहुत अद्भुत है.

आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में


जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य


खबर : चर्चा में


1. माना की पीएम मोदी बहादुर हैं, पर प्रेस से क्यों दूर हैं?

2. कैशलेस पर भरोसा नहीं? लोगों के हाथ में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा कैश

3. अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने मांगे 22 हजार अतिरिक्त जवान

4. कीनिया को रौंदकर भारत ने हीरो इंटर कांटिनेंटल फुटबॉल कप जीता

5. SCO समिट- भारत समेत कई देशों के बीच महत्वपूर्ण एग्रीमेंट, PM मोदी ने दिया सुरक्षा मंत्र

6. ट्रंप से मुलाकात के लिए उत्तर कोरिया से चाइना होते हुए सिंगापुर पहुंचे किम जोंग

7. उच्च शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने यूजीसी बड़े बदलाव की तैयारी में

8. सुपर 30 का दबदबा कायम आईआईटी प्रवेश परीक्षा में 26 छात्र सफल

9. रेलवे बोर्ड चेयरमैन अश्विनी लोहानी, भोपाल से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे.?

10. क्या आप भी पूजा-पाठ करने के लिए स्टील के लोटे का करते हैं इस्तेमाल?पहले जान लें ये बात

11. काम में मन नहीं लगता तो यह करें उपाय

************************************************************************************




Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह info@palpalindia.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।